Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान परिवहन निगम का बस स्टेशन शहर के बाहर बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश डीएम ने किया ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव तथा पंचायत सहायकों से गांव के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने... जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा 630 आंगनबाड़ी केंद्र गोद लिए जाने से होगा व्यवस्थाओं मे सुधार: स... अपने को एकाग्र करते हुए लक्ष्य पर ध्यान व लक्ष्य को हासिल कर परिणाम दें: डीआईजी प्राथमिक शिक्षक संघ रूधौली का त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न राष्ट्र की उन्नति में पत्रकारों का योगदान अहम-डीएम पति की क्रूरता को नही सहन कर पायी विवाहिता फिर मौत को लगाया गले, आरोपी पति गिरफ्तार मुंबई के व्यापारी ने भाजपा सांसद व फिल्म अभिनेता रवि किशन शुक्ला के हड़प लिए 3.25 करोड़ रुपये, मुकदम...

पंचायत ने तुगलकी फरमान पर दलित नाबालिग प्रेमी जोड़े के चेहरे पर कालिख पोत,चप्पलों की माला पहना कर पूरे गांव में घुमाया

गौर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए क्षेत्राधिकारी हरैया के नेतृत्व मे मामले में 13 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर 5 लोगों को पुलिस ने किया अरेस्ट

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

हद हो ग्ई। आज के शिक्षित एवं आधुनिक समाज मे गावों मे दिल दहला देने वाला पंचायती फरमान अपने आप मे एक बडा सवाल सवाल खडा कर रहा है। जहां एक दलित प्रेमी जोडे को मुंह मे कालिख पोत कर चप्पलों की माला पहना कर पूरे गांवों मे घुमाया जाता है। इस घटना से भारतीय कानून तो शर्मसार तो हो ही रहा है वहीं जागरूक एवं शिक्षित समाज के सोच पर भी सवाल खडा हो रहा है। ऐसी ही एक घटना जिले के गौर थाना क्षेत्र के एक गांव की पंचायत ने तुगलकी फरमान सुनाया, दलित नाबालिग प्रेमी जोड़े के चेहरे पर कालिख पोत कर चप्पलों की माला पहना कर पूरे गांव में घुमाने की सजा सुनाई गई। हलांकि गौर पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए क्षेत्राधिकारी हरैया के नेतृत्व मे मामले में 13 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है, 5 लोगों को पुलिस ने अरेस्ट किया है बाकी आरोपियों की तलाश जारी है। पंचायत के फरमान के बाद नाबालिग प्रेमी जोड़े को पूरे गांव में चेहरे पर कालिख पोत कर चप्पल की माला पहना कर घुमाया गया, किसी गांव वाले ने भी इस का विरोध नही किया।

मामला गौर थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहां पर नाबालिग प्रेमी जोड़े को गांव वालों ने आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया, इस के बाद इनको गांव की पंचायत में मुजरिम की तरह पेश किया गया। पंचायत के सदस्य बाकायदा जज बन कर कुर्सी पर बैठ गए, प्रेमी युगल को किसी मुलजिम की तरह जमीन पर बैठा दिया गया, इस के बाद गांव वाले भी दर्शक बन कर खड़े हो गये। इस के बाद पंचायत के सदस्यों ने इन को सजा सुनाई, प्रेमी जोड़े को प्यार करने की सजा के तौर पर चेहरे पर कालिख पोत कर चप्पल की माला पहना कर गांव में घुमाने का पंचायत ने फरमान जारी किया। पंचायत के फरमान का गांव वालों ने विरोध तक नही किया और नाबालिग प्रेमी जोड़े को पूरे गांव में चेहरे पर कालिख पोत कर चप्पल की माला पहना कर घुमाया गया, फिलहाल पुलिस ने मामले में 13 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है, 5 लोगों पुलिस ने अरेस्ट किया है बाकी आरोपियों की तलाश जारी है।