Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

भ्रष्टाचार के विरूद्ध चला रहे हैं जागरूकता अभियान

जरूरतमंद महिलाओं में किया साड़ी का वितरण

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

भारतीय भ्रष्टाचार अन्वेषण एवं उन्मूलन परिषद द्वारा सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को भ्रष्टाचार के विरूद्ध जागरूक करने के साथ ही जरूरतमंद पात्र महिलाओं में साड़ी का वितरण कर उनका उत्साहवर्धन किया जा रहा है। परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश कुमार चौधरी ने बताया कि प्रथम चरण में दुबौलिया और कप्तानगंज विकास क्षेत्र के गांवों में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। उन्होने लोगों से आग्रह किया कि वे केन्द्र एवं राज्य सरकार के कल्याणकारी योजनाओं जैसे आवास, शौचालय आदि का लाभ प्राप्त करने के लिये किसी को रिश्वत न दें। यदि कोई मांगता है तो उसकी शिकायत करंें।
परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश कुमार चौधरी ने एक विज्ञप्ति के माध्यम से बताया कि जागरूकता अभियान के दौरान सर्वाधिक मामले नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी के आ रहे हैं। स्थानीय पुलिस को तहरीर दिये जाने के बावजूद कार्रवाई न होने के कारण ठगों का मनोबल बढ गया है। बताया कि जागरूकता अभियान के दौरान परिषद को दुबौलिया थाना क्षेत्र के ऊंजी निवासी सुनील कुमार की शिकायत मिली कि स्वास्थ्य विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर उससे कलवारी थाना क्षेत्र के मुस्तफाबाद निवासी वृजेश कुमार जो सिद्धार्थनगर के उस्का बाजार में सीएचसी में कार्यरत है ने 8 लाख 48 हजार 800 रूपया लेकर फर्जी नियुक्ति पत्र दे दिया, अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई। वृजेश ने ही दुबौलिया थाना क्षेत्र के गुलौरी निवासी हरिशंकर पटेल से नौकरी दिलाने के नाम पर 2 लाख 95 हजार एवं कप्तानगंज थाना क्षेत्र के महुआ मिश्र निवासी चौधरी भीम से नौकरी दिलाने के नाम पर 3 लाख 76 हजार रूपये एवं यहीं के अर्जुन चौधरी से 2 लाख 38 हजार रूपये और जय कुमार से डेढ लाख रूपये हजम कर लिया। इसी प्रकार से वृजेश द्वारा अनेक लोगों से ठगी किये जाने के मामले परिषद के समक्ष आये हैं। बताया कि नौकरी के नाम पर ठगी के शिकार लोगों ने सम्बंधित थानों पर वृजेश कुमार के विरूद्ध नामजद तहरीर दिया किन्तु अभी तक उसके विरूद्ध कोई कार्रवाई नहींकी गई। परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश कुमार चौधरी ने बताया कि यदि शीघ्र सिद्धार्थनगर के उस्का बाजार में सीएचसी में कार्यरत वृजेश कुमार के विरूद्ध कार्रवाई कर लोगों का पैसा वापस न कराया गया तो एक प्रतिनिधि मण्डल मुख्यमंत्री से मिलकर मामले में उच्च स्तरीय कार्रवाई की मांग करेगा।
भ्रष्टाचार के विरूद्ध जागरूकता अभियान में परिषद के जवाहर लाल चौधरी, सत्येन्द्र, जवाहर लाल विश्वकर्मा, पप्पू चौधरी, अनिल कुमार, ऊषा देवी, उमा शर्मा, ज्योति यादव, कंचन, विद्यावती  आदि के द्वारा योगदान किया जा रहा है।