Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान परिवहन निगम का बस स्टेशन शहर के बाहर बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश डीएम ने किया ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव तथा पंचायत सहायकों से गांव के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने... जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा 630 आंगनबाड़ी केंद्र गोद लिए जाने से होगा व्यवस्थाओं मे सुधार: स... अपने को एकाग्र करते हुए लक्ष्य पर ध्यान व लक्ष्य को हासिल कर परिणाम दें: डीआईजी प्राथमिक शिक्षक संघ रूधौली का त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न राष्ट्र की उन्नति में पत्रकारों का योगदान अहम-डीएम पति की क्रूरता को नही सहन कर पायी विवाहिता फिर मौत को लगाया गले, आरोपी पति गिरफ्तार मुंबई के व्यापारी ने भाजपा सांसद व फिल्म अभिनेता रवि किशन शुक्ला के हड़प लिए 3.25 करोड़ रुपये, मुकदम...

29 नवम्बर से 01 दिसम्बर तक होगा टेढे-मेढे पैर और पोलियों से ग्रसित दिव्यांगजन का परीक्षण

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

25 वर्ष तक की आयु वाले दिव्यांगजन जिनके पैर टेढे-मेढे हो और पोलियों से ग्रसित हो का परीक्षण आगामी 29 नवम्बर से 01 दिसम्बर तक जिला अस्पताल में किया जायेंगा। उक्त जानकारी जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने दी है। उन्होने बताया कि दिल्ली के डाक्टर अरूण जैन द्वारा ऐसे पात्र व्यक्तियों का आपरेशन किया जायेंगा। इसके लिए उन्होने कलेक्टेªट सभागार में तैयारी बैठक किया तथा संबंधित अधिकारियों को दायित्व सौपा।
जिलाधिकारी ने बताया कि ऐसे लगभग 01 हजार दिव्यागजन की सूची तैयार की गयी है। इन्हें 29 नवम्बर को प्रातः 08.00 बजे प्रत्येक विकास खण्ड पर आना होंगा। वहॉ से निर्धारित वाहन द्वारा उन्हे जिला अस्पताल लाया जायेंगा, जिनका परीक्षण डॉ0 अरूण जैन द्वारा किया जायेंगा तथा आपरेशन लायक पाये गये सभी का आपरेशन किया जायेंगा। जिलाधिकारीने सभी खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिया है कि ऐसे दिव्यागजन को ब्लाक पर बुलाना सुनिश्चित करें। एआरटीओ द्वारा सभी ब्लाकों पर दो-दो वाहन लगाये जायेंगे। आपरेशन के बाद उन्हें एंबुलेन्स के द्वारा घर पहुॅचाया जायेंगा।
उन्होने एसआईसी डॉ0 आलोक वर्मा को निर्देशित किया कि जिला चिकित्सालय में परीक्षण हेतु उपयुक्त स्थान का चयन कर लें। साथ ही जनरेटर, ईधन, आपरेशन थियेटर एवं आपरेशन के बाद मरीजो को घर तक पहुॅचाने की व्यवस्था कर लें। उन्होने कहा कि रजिस्टेªशन एंव परीक्षण के लिए अलग-अलग 05 काउण्टर बनाये जाय तथा निर्धारित प्रारूप पर पंजीकरण किया जाय। साथ ही मरीज के लिए अस्पताल द्वारा तथा उनके तीमारदार के लिए रेडक्रास सोसायटी द्वारा भोजन की व्यवस्था करायी जायेंगी। आपरेशन थियेटर हेतु सहयोगी स्टाफ की व्यवस्था एसआईसी द्वारा की जायेंगी।
उन्होने कहा कि पंजीकरण स्थल पर पीआरडी जवान, एनसीसी एवं स्काउट गाइड के छात्र-छात्राए व्यवस्था हेतु तैनात किए जायेंगे। शान्ति एवं सुरक्षा व्यवस्था हेतु पुलिस बल तैनात किया जायेंगा। बैठक का संचालन उप निदेशक दिव्यागंजन अनूप कुमार सिंह ने किया। बैठक में एसीएमओ डॉ0 सीके वर्मा, एआरटीओ अरूण चौबे, बेसिक शिक्षा के जिला समन्वयक (दिव्यागं) सुनील तिवारी, रेडक्रास के कुलविन्दर सिंह मजहवी, इन्द्रजीत मौर्या, सभी खण्ड विकास अधिकारी उपस्थित रहें।