Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समय से समस्याओं का निराकरण कर हम लोगो की कर सकते है वास्तविक सेवा: गोविंदराजू एन.एस. थाना समाधान दिवस पर डीएम,एसपी ने की जनसुनवाई नवागत मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने मण्डलायुक्त पद का ग्रहण किया कार्यभार सांसद ने किया खेल महाकुंभ तैयारियों का निरीक्षण हर मोड़ पर खरा उतर रहा है भारतीय संविधान-डा. वी.के. वर्मा बाबा साहब के बनाये संविधान को ध्वस्त करना चाहती है केन्द्र व प्रदेश सरकार: प्रेमशंकर द्विवेदी संविधान दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

मण्डलायुक्त ने किया मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान की समीक्षा, दिये निर्देश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

आगामी 13 नवम्बर को मतदाता सूची पुनरीक्षण अभियान की विशेष तिथि को सभी बीएलओ अधिक से अधिक फार्म-6 भरवाकर मतदाता सूची में उनका नाम जोड़ने की कार्यवाही सुनिश्चित कराये। उक्त निर्देश राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त रोल आब्जर्वर/मण्डलायुक्त गोविन्द राजू एनएस ने दिये है। उन्होने जूम ऐप के द्वारा बस्ती, सिद्धार्थ नगर एवं संतकबीर नगर के उप जिला निर्वाचन अधिकारी/एडीएम तथा सभी एईआरओ/एसडीएम के साथ 01 नवम्बर से अबतक अभियान की समीक्षा किया।
उन्होने कहा कि पहली विशेष तिथि 07 नवम्बर पर दीपावली अवकाश का असर दिखायी दिया और फार्म-6 कम आये। उन्होने निर्देश दिये कि आगामी 13 नवम्बर को सघन अभियान चलाकर अधिक से अधिक पात्र व्यक्ति मतदाता सूची में जोड़े जाय। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि सभी बीएलए गरूण ऐप अपने मोबाइल में अवश्य अपलोड़ कर लें। उन्होने यह भी निर्देश दिया कि आनलाईन प्राप्त हो रहे फार्म-6, 7, 8 एंव 8क को प्रतिदिन डाउनलोड़ करके प्रक्रिया में शामिल किया जाय।
उन्होने निर्देश दिया कि सभी बीएलओ यह सुनिश्चित करेंगे कि क्षेत्र के किसी भी जनप्रतिनिधि, भूतपूर्व पदाधिकारी, संभ्रान्त नागरिक, विधान सभा निर्वाचन के संभावित प्रत्याशी का नाम न छूटे। उन्होने कहा कि सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों को वर्तमान मतदाता सूची की एक प्रति अवश्य उपलब्ध करा दी जाय।
उन्होने निर्देश दिया कि मतदाता सूची से नाम हटाने के लिए आयोग द्वारा निर्धारित सम्पूर्ण प्रक्रिया का पालन किया जाय तथा उसका रिकार्ड रखा जाय। उन्होने कहा कि उनके द्वारा तीनों जिलों में आकस्मिक निरीक्षण किया जायेंगा और बूथ पर सभी अभिलेख देंगे जायेंगे। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही पाये जाने  पर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही भी की जायेंगी।
उन्होने कहा कि अभियान में ईआरओ तथा एईआरओ के महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है। इसके लिए विभिन्न विभागों के अधिकारी तैनात किए गये है। सुनिश्चित करे कि सभी की समुचित टेªनिंग करायी जाय। इसी प्रकार बीएलओ की टेªनिंग करायी जाय तथा उन्हें समय से पर्याप्त स्टेशनरी उपलब्ध करायी जाय। मतदाता पुनरीक्षण अभियान में तैनात सभी अधिकारी आगामी 13 नवम्बर को क्षेत्र में निकल कर अधिकतम बूथों का निरीक्षण करेंगे।
उन्होने इपिक रेशियों, जेण्डर रेशियों बढाने का भी निर्देश दिया है। समीक्षा में उन्होने पाया कि सिद्धार्थ नगर तथा संतकबीर नगर में इसका रेशियों कम है। बस्ती में अधिक है, इसलिए उन्होने निर्देश दिया कि नाम डीलीशन की कार्यवाही सावधानी पूर्वक की जाय। उन्होने कहा कि मतदाता जागरूकता अभियान/स्वीप कार्यक्रम संचालित करने पर भी जोर दिया। प्रत्येक विधान सभा में कम रेशियों तथा अधिक रेशियों वाले 20-20 मतदेय स्थलों का चयन करके सघन जॉच करायी जाय।
मण्डलायुक्त ने निर्देश दिया कि सभी एआरओ तथा एईआरओ का डिजिटल हस्ताक्षर समय से तैयार हो जाय। कोई अधिकारी अपना डिजिटल हस्ताक्षर किसी कर्मचारी को नही देंगे। विधान सभा क्षेत्र सबंधी सभी रिकार्ड एआरओ अपनी डायरी में रखेंगे। जूम मीटिंग में अपर आयुक्त प्रशासन गोरेलाल शुक्ल, एडीएम अभय कुमार मिश्र, उमाशंकर,  मनोज कुमार तथा सभी उप जिलाधिकारीगण जुड़े रहें।