Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
फ्रंटलाइन वर्कर तथा वरिष्ठ नागरिकों से कोविड-19 की प्रिकॉशन डोज लगवाने की अपील रोटरी मण्डल 3120 के सहायक मण्डलाध्यक्ष बने आशीष श्रीवास्तव वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से दी गई स्वीप, शिकायत, मीडिया मानीटरिंग, एनवीडी के संबंध में विस्तार ... 23 जनवरी को दो पालियों में करायी जायेंगी टेट की परीक्षा सांस से सम्बन्धित कोविड मरीजों के लिए लाभकारी है चेस्ट फिजियोथैरेपी एक दिन में कोरोना संक्रमण के 17,776 नये मामले आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर यूपी मे अब तक 167 लोगों के विरूद्ध एफआईआर दर्ज घर से नाराज़ होकर मुंबई पहुंच गई बालिका को सीडब्लयूसी ने उसके पिता को सौंपा विधान सभा चुनाव को लेकर बैठक मे सौंपी गई जिम्मेदारियां गृह भ्रमण कर आंगनबाड़ी कार्यकर्ता देंगी पांच सेवाएं

 धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर गिरा तीन अधिकारियों पर कार्यवाही की गाज, नोटिश जारी होने के साथ ही रोका गया वेतन

बोकनार शोभनपार में जॉच के दौरान 171 कुन्टल धान स्टाक में कम पाया गया,ए आर कोआपरेटिव सुसंगत धाराओं में दर्ज करायेंगे एफ.आई.आर.

सत्यापनकर्ता अधिकारियों के रिपोर्ट के आधार पर बन्द किए जायेंगे पी.सी.एफ. के 15 धान क्रय केन्द्र

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने सहायक निबन्धक सहकारिता, जिला प्रबन्धक पी.सी.एफ. तथा पी.सी.यू. एंव सहायक विकास अधिकारी बहादुरपुर को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए अग्रिम आदेशो तक वेतन रोकने का निर्देश दिया है। विकास भवन सभागार में आयोजित 65 सत्यापन अधिकारियों के रिपोर्ट प्राप्त करने के बाद जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जॉच में बन्द पाये गये सभी केन्द्र निरस्त किए जायेंगे।
सत्यापनकर्ता अधिकारियों के रिपोर्ट के आधार पर पी.सी.एफ. के 15 धान क्रय केन्द्र बन्द किए जायेंगे। इसमें केन्द्रीय उपभोक्ता भण्डार पोखरा, सोनारजोत, भारत नगर, बोकनार शोभनपार, बनकटा, कूडीचौराहा, हर्दी, खम्हरिया, बेईली, पचानू, जोधीजोत, बेलसड़, पैकापुर, बडहरखुर्द तथा काची बन्द होंगे। बोकनार शोभनपार में जॉच के दौरान 171 कुन्टल धान स्टाक में कम पाया गया। इनके विरूद्ध ए आर कोआपरेटिव सुसंगत धाराओं में एफ.आई.आर. दर्ज करायेंगे। इसी प्रकार पी.सी.यू. का 01 केन्द्र साधन सहकारी समिति लालगंज निरस्त किया जायेंगा।
उल्लेखनीय है कि धान क्रय केन्द्रों की वास्तविकता जानने के लिए जिलाधिकारी ने बुधवार को 65 अधिकारियों के माध्यम से सभी 131 क्रय केन्द्रों का निरीक्षण कराया था। शाम को विकास भवन सभागार में सभी अधिकारियों की रिपोर्ट जानने के लिए वे स्वयं बैठक में उपस्थित रही। प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पी.सी.एफ. के कई धान क्रय केन्द्र बन्द पाये गये। इसी प्रकार पी.सी.यू. क्रय केन्द्रों पर कर्मचारी न पाये जाने, नमी मापक यंत्र न होने की शिकायते मिली है। आधी अधूरी तैयारी से संचालित हो रहे धान क्रय केन्द्रों पर धान खरीद भी कम पायी गयी, कई जगह रजिस्टर मेनटेन नही पाया गया, तीन-चार केन्द्रों पर केन्द्र प्रभारी अभी तक आई.डी. पासवर्ड नही ले पाये है। एक धान क्रय केन्द्र की सही लोकेशन न मिलने पर तहसीलदार हर्रैया वहॉ पहुच नही पाये।
जिलाधिकारी ने इस स्थिति पर असंतोष व्यक्त करते हुए 03 अधिकारियों को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए वेतन रोका है तथा पी.सी.एफ. एवं पी.सी.यू. के जिला प्रबन्धको के खिलाफ कार्यवाही हेतु शासन को संस्तुति भेजने का निर्देश दिया है। सहायक विकास अधिकारी सहकारिता बहादुरपुर बैठक में रिपोर्ट प्रस्तुत करने के लिए अपनी जगह एवजी के तौर पर एक प्राइवेट व्यक्ति को भेज दिया। जिलाधिकारी ने उन्हें तत्काल बैठक से बाहर किया तथा एडीओ बहादुरपुर को कारण बताओं नोटिस जारी करते हुए वेतन रोकने तथा विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि देने के लिए सहायक निबन्धक सहकारिता को निर्देशित किया। धान क्रय केन्द्रों का शिथिल पर्यवेक्षण ए आर कोआपरेटिव को मंहगा पड़ा और जिलाधिकारी ने उनका भी वेतन रोकने का निर्देश दिया है।
जिलाधिकारी ने पी.सी.एफ. तथा पी.सी.यू. के जिला प्रबन्धको को अगले दो दिनों में अपने सभी केन्द्रों का सत्यापन करके रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। बैठक में अनुपस्थित पाये जाने पर उन्होने नलकूप विभाग के जेई का वेतन रोकने तथा कारण बताओं नोटिस देने का निर्देश दिया। उन्होने निर्देश दिया है कि किसी भी केन्द्र पर धान बेचने आये हुए किसान को वापस नही किया जायेंगा। धान खरीदी करते हुए 72 घण्टे के भीतर उसका भुगतान सुनिश्चित किया जायेंगा।
बैठक का संचालन डिप्टी आरएमओ गोरखनाथ तिवारी ने किया। बैठक में सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, एडीएम अभय कुमार मिश्र, एसडीएम आनन्द श्रीनेत, गुलाब चन्द, जीके झा, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, ए आर कोआपरेटिव प्रेम चन्द्र प्रजापति, कृषि अधिकारी मनीष सिंह, तहसीलदार प्रमोद कुमार, केशरीनन्दन त्रिपाठी तथा सत्यापनकर्ता अधिकारीगण उपस्थित रहें।

Leave A Reply

Your email address will not be published.