Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या में बनेगा अनूठा मंदिरों का संग्रहालय, प्राचीन शैलियों के मंदिरों के बनाए जाएंगे कई मॉडल अंसल एपीआई के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, पुलिस कमिश्नर से अंसल के खिलाफ लखनऊ में दर्ज मु... कोटे के दूकान के आवंटन की मांगः डीएम को सौंपा ज्ञापन सदर विधायक महेन्द्र यादव ने मो. सलीम, शैलेन्द्र को बनाया प्रतिनिधि अदालत के आदेश के बाद भी नहीं मिला जमीन पर कब्जा, डीएम ने दिया कार्रवाई का निर्देश बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना शासन के निर्देश पर हुआ परिषदीय स्कूलों की साफ—सफाई 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडी... प्रतापगढ़: सिपाही संजय यादव की हत्या के मामले मे शामिल चार आरोपी पुलिस हिरासत में अलर्ट: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 682 नए मामले

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को भारत लाने मे पाकिस्तान ने बिना कारण पूछे ही दिया सीधा हवाई रास्ता

यूक्रेन में फंसे भारतीय छात्रों को निकालने में भारत का मदद कर रहा पाकिस्तान: कैप्टन अचिंत भारद्वाज

कबीर बस्ती न्यूजः

नई दिल्ली: यूक्रेन में रूस के हमले के बीच भारत वहां फंसे छात्रों को निकालने में जुटा हुआ है। इसमें पाकिस्तान, भारत का मदद कर रहा है। एअर इंडिया की फ्लाइट से छात्र भारत आ रहे हैं। पायलेट ने बताया कि यूक्रेन की गंभीर स्थिति को देखते हुए सभी एक-दूसरे की मदद कर रहे हैं।

भारतीय स्टूडेंट्स को रोमानिया और हंगरी के रास्ते भारत लाया जा रहा है। रोमानिया के बुखारेस्ट से एअर इंडिया की एक फ्लाइट AI-1942 आज ही दिल्ली पहुंची। इस फ्लाइट को एक विशेष चार्टर उड़ान के रूप में संचालित किया गया था। इस विमान के पायलट कैप्टन अचिंत भारद्वाज बताया कि पाकिस्तान सहित सभी एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) ने इवैक्यूएशन मिशन में साथ दिया है।

पाकिस्तान ने सीधा हवाई मार्ग दिया
कैप्टन भारद्वाज ने कहा, दिलचस्प बात यह है कि हमें रोमानियाई से लेकर दिल्ली तक, तेहरान के रास्ते पाकिस्तान तक सभी ATC नेटवर्क ने सहयोग दिया। पाकिस्तान ने भी हमें बिना कारण पूछे ही सीधा हवाई रास्ता दिया। इससे समय भी बचा। हम रोमानिया के रास्ते उड़ान नहीं भरते लेकिन ATC और सरकार के बीच अच्छा को-ऑर्डिनेशन रहा।

ऑपरेशन गंगा के तहत भारतीयों का रेस्क्यू
आपरेशन गंगा के तहत अब तक कुल 709 छात्र यूक्रेन से रेस्क्यू किए गए हैं। 240 भारतीय नागरिकों ने हंगरी के बुडापेस्ट से भी उड़ान भरी है। इसके पहले शनिवार को रोमानिया से पहली फ्लाइट 219 भारतीय छात्रों को लेकर मुंबई पहुंची थी। रोमानिया के लिए विशेष उड़ान के लिए पांच पायलट, 14 केबिन क्रू, तीन विमान इंजीनियर और दो सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया गया था।

तूफान में कराया था विमान को लैंड
पिछले दिनों लंदन में आए भीषण तूफान में एअर इंडिया के भारतीय पायलट अंचित भारद्वाज ने फ्लाइट की सुरक्षित और साहसिक लैंडिंग कराकर सभी को चौंका दिया था।

ज्योतिरादित्य सिंधिया और वी मुरलीधरन ने किया स्वागत
केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और विदेश राज्य मंत्री वी मुरलीधरन ने दिल्ली हवाई अड्डे पर यूक्रेन से सुरक्षित निकाले गए भारतीय नागरिकों का स्वागत किया।