Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या में बनेगा अनूठा मंदिरों का संग्रहालय, प्राचीन शैलियों के मंदिरों के बनाए जाएंगे कई मॉडल अंसल एपीआई के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, पुलिस कमिश्नर से अंसल के खिलाफ लखनऊ में दर्ज मु... कोटे के दूकान के आवंटन की मांगः डीएम को सौंपा ज्ञापन सदर विधायक महेन्द्र यादव ने मो. सलीम, शैलेन्द्र को बनाया प्रतिनिधि अदालत के आदेश के बाद भी नहीं मिला जमीन पर कब्जा, डीएम ने दिया कार्रवाई का निर्देश बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना शासन के निर्देश पर हुआ परिषदीय स्कूलों की साफ—सफाई 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडी... प्रतापगढ़: सिपाही संजय यादव की हत्या के मामले मे शामिल चार आरोपी पुलिस हिरासत में अलर्ट: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 682 नए मामले

भागलपुर में जबर्दस्त विस्फोट: 5 किमी तक दहल उठा इलाका, 14 की मौत; थानाध्यक्ष सस्पेंड

कबीर बस्ती न्यूजः

बिहार: भागलपुर में बम बनाते समय हुए विस्फोट में 14 लोगों की मौत हो गई है। शहर के काजवली चक इलाके में गुरुवार रात करीब 11.30 बजे जबरदस्त धमाका हुआ। इससे करीब 5 किमी तक का इलाका दहल उठा। वहीं, बम फटने से चार घर ढह गए। दोपहर 3 बजे तक 14 शव निकाले गए हैं। इसके अलावा विस्फोट में 10 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। इनका इलाज चल रहा है।

डीजीपी एसके सिंघल ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा है कि बगैर लाइसेंस के पटाखा बनाया जा रहा था, इस कारण स्थानीय थानेदार सुधांशु कुमार को सस्पेंड कर दिया गया है। इस घटना की पुलिस मैनुअल के तहत जांच की जाएगी। स्थानीय थाना ने इसकी जांच पहले से क्यों नहीं की? इस पॉइंट पर भी जांच होगी। विस्फोटक सामग्री कहां से आई थी, इसकी भी जांच होगी। उन्होंने कहा है कि पटना से ATS की टीम भागलपुर जाएगी। वहां हुए पहले ब्लास्ट से लेकर अब तक हुए सारे ब्लास्ट की जांच करेगा।

DGP ने बताया कि मोहम्मद आजाद के घर में रहने वाली लीलावती के यहां विस्फोट हुआ है। लीलावती का परिवार पटाखा बनाने का अवैध कारोबार करता था। लीलावती समेत उसके परिवार के 5 सदस्यों की भी मौत हुई है।

बम ब्लास्ट के एंगल पर भी जांच शुरू

पुलिस को मलबे से 5 किलो बारूद और काफी संख्या में लोहे की कीलें मिली हैं। इस वजह से पुलिस बम ब्लास्ट के एंगल से भी जांच कर रही है। कुछ ही दिनों पहले IB ने भी भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। विस्फोट से करीब 5 किमी के दायरे में बसे दस हजार परिवारों ने पूरी रात दहशत में गुजारी। रात भर अफरातफरी का माहौल रहा।

भागलपुर SSP बाबूराम ने कहा कि यहां तीन लोग पटाखा बनाने का काम करते थे। इसी में अचानक विस्फोट होने से आसपास के चार मकान गिरने और मलबे में लोगों के दबने से मौतें हुई हैं। कुछ लोगों ने बताया है कि लीलावती देवी के मकान में विस्फोट हुआ है। FSL की टीम जांच कर रही है। पूरी रिपोर्ट आने के बाद पता चलेगा कि विस्फोटक किस तरह का था। घटना पर पीएम मोदी ने भी शोक जताते हुए ट्वीट किया और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से फोन पर बात की।

विस्फोट में लीलावती समेत उसके परिवार के 5 सदस्यों और महेंद्र मंडल के परिवार के तीन सदस्यों की मौत हुई है। तीन और शवों की पहचान राहुल कुमार (21 वर्ष), गणेश प्रसाद सिंह (60), उर्मिला देवी (70) के रूप में किया गया है। सभी काजवली चक के हैं।

तेजी से हटाया जा रहा मलबा

घायलों का इलाज भागलपुर के मायागंज अस्पताल में चल रहा है। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अफसर घटनास्थल पर पहुंच गए। जमींदोज हुए मकानों के मलबे को हटाने का काम चल रहा है। विस्फोट के दौरान मौजूद पड़ोसी निर्मल साह उर्फ लड्डू ने बताया कि परिवार के सभी सदस्य खाना खाकर घर में सो रहे थे। वह भी घर के बाहर बैठे थे तभी तेज धमाका हुआ।

ई-रिक्शे से कई लोगों को अस्पताल पहुंचाया

धमाका होने के बाद घर में जैसे ही लोग देखने के लिए अंदर घुसे घर गिरना शुरू हो गया। परिवार के सभी सदस्य मलबे में दब चुके थे। घटनास्थल पर बहुत धुंआ हो जाने से कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। किसी तरह कुछ लोगों को ई-रिक्शे से ले जाकर मायागंज अस्पताल में भर्ती कराया। घटना के बाद पूरे इलाके में दहशत है।

काजवली चक में बम ब्लास्ट से कई घरों को भी नुकसान पहुंचा है। किसी की छत गिर गई है। किसी की खिड़की में लगा शीशा टूट गया है। वहीं, स्थानीय रमेश कुमार ने बताया कि पहले कभी भी इतनी जोर से आवाज नहीं हुई थी। ब्लास्ट होने के बाद सड़कों पर पूरी तरह से बारूद का धुआं भर गया।

ATS करेगी विस्फोट की जांच

विस्फोट की जांच की जिम्मेवारी बिहार ATS को मिल गई है। पुलिस मुख्यालय की तरफ से इस घटना की जांच के लिए जल्द आदेश जारी कर दिया है। शुक्रवार को पटना में ADG लॉ एंड ऑर्डर संजय सिंह ने कहा कि भागलपुर में तातारपुर थाना के तहत काजवली चक इलाके में यह विस्फोट हुआ है। पुलिस मुख्यालय भी दावा कर रही है कि पटाखा बनाने के दौरान यह घटना हुई है। अचानक से गुरुवार रात में विस्फोट हुआ। घटना में कुछ की मौत मौके पर तो कुछ की मौत इलाज के दौरान हुई।

हालातों के आधार पर इशारा कुछ और

स्थानीय लोगों के मुताबिक शब-ए-बारात के लिए घर में बम बनाया जा रहा था, जिसको लेकर ये ब्लास्ट हुआ है। घायल निर्मल ने भी इसकी पुष्टि की है। DIG सुजीत कुमार का कहना है कि FSL की टीम जांच कर रही है इसके बाद ही स्पष्ट हो पाएगा कि यह किस तरह का विस्फोट था।

बम डिस्पोजल टीम मौके पर पहुंची

SSP बाबूराम ने रात की घटना पर अपडेट किया है। घटना में घायल 11 लोगों का इलाज जारी है। घटना का कारण सम्भवतः पटाखा मटेरियल में विस्फोट है। अभी तक जो जानकारी मिली है कि पीड़ित परिवारों में से एक परिवार पटाखा बनाने का काम करता था। जिसके घर मे पहले भी विस्फोट की घटना हो चुकी है। उसी के घर मे विस्फोटक पदार्थ में विस्फोट हुआ प्रतीत होता है। बम डिस्पोजल टीम और FSL की टीम के निरीक्षण के बाद स्थिति कुछ ओर स्पष्ट हो सकेगी।

रोते-रोते बोला चश्मदीद- ऐसा धमाका नहीं देखा:ब्लास्ट की आवाज से कान सुन्न हो गए थे; अंदर गया तो परिवार के लोग मलबे में दबे थे

कोलकाता में हुई थी दो गिरफ्तारी

हाल ही में भागलपुर के दो शख्स को विस्फोटक समान के साथ कोलकाता पुलिस ने गिरफ्तार किया था। इसको लेकर भागलपुर में कई जगह पर निशानदेही पर छापेमारी की गई थी। सूत्रों के मुताबिक IB की टीम ने भागलपुर पुलिस को अलर्ट किया था। कुछ दिनों पहले ही भागलपुर के नाथनगर रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म संख्या दो पर डेटोनेटर बम बरामद किया गया था। इसके बाद नाथनगर रेलवे स्टेशन के करीब रेलवे ट्रैक किनारे जोरदार बम ब्लास्ट में एक व्यक्ति की मौत हुई थी।

भागलपुर के DM सुब्रत कुमार ने कहा कि सभी अधिकारी जांच कर रहे हैं। घटना को लेकर बताया कि अभी रेस्क्यू चल रहा है। इससे पहले भागलपुर के काजवली चक, बबरबगंज, हबीबपुर, बरारी आसानंदपुर समेत कई इलाकों में बम विस्फोट की घटना घट चुकी है।