Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
‘महीने में आठ बार आयरन और छह महीने पर विटामिन ए सीरप का सेवन आवश्यक’’ बच्चों को विटामिन ए पिलाकर बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुभारंभ पेगासस साफ्टवेयर का इस्तेमाल भारतीय संस्थाओं और पत्रकारों पर करना देशद्रोह-महेन्द्र श्रीवासतव लक्ष्मण पाण्डेय हत्याकाण्ड के दोषियों को गिरफ्तार करने की मांग, बबिता शुक्ल ने सौंपा ज्ञापन डॉ. अजीत प्रताप शिक्षक प्रकोष्ठ, गिरीश पाण्डेय को भाजपा पंचायत प्रकोष्ठ संयोजक बनाये जाने पर प्रसन्न... पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं को विभिन्न पदों की सौंपी गयी जिम्मेदारी सीडब्ल्यूसी अध्यक्ष पद का प्रेरक मिश्रा ने संभाला कार्यभार ब्लाक प्रमुखों को प्रशासनिक एंव वित्तीय अधिकार दिलाने के लिए किया जायेंगा प्रयासः राजेन्द्र प्रताप स... प्रभारी मंत्री ने कप्तानगंज ब्लाक में निरीक्षण कर जाना योजनाओं का हाल 25,000 के इनामिया वांछित अभियुक्त पुलिस मुठभेड़ में गिरफ्तारः-

भाजपा विधायक ने मुख्यमंत्री को भेजा 4 पत्र, स्वास्थ्य सेवाओं को सुधारने की मांग

– संसाधन के अभाव में दम तोड रहे हैं मरीज- संजय प्रताप जायसवाल

– कैली, जिला अस्पताल में कुव्यवस्था

बस्ती। रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कोरोना महामारी संकट के बीच आक्सीजन, जीवन रक्षक दवाओं के अभाव, मरीजांें के परिजनों का उत्पीड़न, ओपेक चिकित्सालय कैली, जिला अस्पताल में व्याप्त समस्याओं, मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से गंभीर रोगों के इलाज हेतु दी जाने वाली आर्थिक सहायता सम्बधित पत्रावलियों का जिला स्तर से आख्या रिपोर्ट भेजे जाने में की जा रही लापरवाही, ओपेक चिकित्सालय कैली में आक्सीजल प्लांट शुरू कराये जाने आदि विन्दुओं को लेकर मुख्यमंत्री को 4 पत्र भेजकर समस्याओं के निस्तारण की मांग किया है।
भेजे 4 पत्रों में रूधौली विधायक संजय प्रताप जायसवाल ने कहा है कि मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से गंभीर रोगों के इलाज हेतु दी जाने वाली आर्थिक सहायता सम्बधित पत्रावलियों का जिला स्तर से निस्तारण न होने के कारण मरीजों को मदद नहीं मिल पा रही है और वे इलाज के अभाव में दम तोड़ रहे हैं। पत्र में भाजपा   विधायक संजय प्रताप ने कहा है कि जिला चिकित्सालय में आक्सीजन की कमी है। वर्तमान एसआईसी आलोक कुमार वर्मा मरीजों के तीमारदारों से दुर्व्यवहार करते हैं। रूधौली के वार्ड नम्बर 13 के सभासद श्याम कुमार ने अपने भाई प्रशान्त कुमार को गत 28 अप्रैल को जिला अस्पताल मंें भर्ती कराया, स्वंय आक्सीजन की व्यवस्था किया किन्तु एसआईसी आलोक कुमार वर्मा द्वारा आक्सीजन सिलेण्डर निकाला जाने लगा, परिजनों के विरोध पर वे चले गये किन्तु मरीज को दूसरा सिलेण्डर नहीं मिल पाया जिसके कारण 30 मई को उसकी मौत हो गई। अव्यवस्था और मनमानी के अनेक उदाहरण देते हुये विधायक संजय प्रताप ने अस्पतालों में व्याप्त मनमानी का उल्लेख किया है। ओपेक चिकित्सालय कैली में व्याप्त अव्यवस्था का पत्र में उल्लेख करते हुये भाजपा विधायक संजय प्रताप ने कहा है कि कोविड वार्ड में मरीजों को समुचित सुविधा नहीं मिल पा रही है। 3.47 करोड़ रूपये लागत से जीवन रक्षक आक्सीजन पाइप लाइन , फायर फायटिंग, 200 सिलेन्डर प्रतिदिन जनरेट करने वाली आक्साीजन के करोढ़ो रूपये का प्रोजेक्ट चार वर्ष बीत जाने पर भी पूरा नहीं हो सका है, 8.45 करोड़ की लागत वाले पाइप लाइन की परियोजना अभी लम्बित है, विधायक ने कहा है कि यह भी पता चला है कि जो भी आक्सीजन पाइप लाइन से सप्लाई दी जा रही है वह 20 वर्ष पुरानी है जो बड़ी लापरवाही है।  आग्रह किया है कि अधूरे कार्य शीघ्र पूरा कराया जाय। इसके साथ ही कोरोना से संक्रमित हुये मरीजों के इलाज हेतु जांच किट, आक्सीजन, टीका, बेड आदि संसाधन उपलब्ध कराया जाय।

Leave A Reply

Your email address will not be published.