Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
.......तो क्या... योगी राज मे गैंगरेप की शिकार अर्धविक्षिप्त युवती को मिल सकेगा न्याय ? नगर पुलिस व एन्टी व्हीकल थेफ्ट टीम की संयुक्त कार्यवाही में 3 क्विंटल 17.260 किलोग्राम गांजा के साथ ... फर्जी समूह बनाकर धोखा-धड़ी करके जमाकर्ताओं के धन हड़पने वाले 06 अभियुक्त गिरफ्तार एनटीपीसी ने सौंपा एसी एंबुलेंस एवं शव वाहन डा. वी.के. वर्मा ने स्वास्थ्य परीक्षण कर वृद्ध जनों में किया फल, मिष्ठान्न का वितरण अन्याय पर न्याय के विजय का पर्व है नवरात्रि - संजय चौधरी दो ऑक्सीजन गैस प्लांट का फीता काटकर किया गया उद्घाटन नहरों की सिल्ट सफाई का कार्य प्रारम्भ फ्री बिजली गारंटी पदयात्रा निकालेगी आपः सभाजीत सिंह त्योहारों को लेकर सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक, डीएम ने दिए निर्देश

हनुमानगंज में फर्जी आधारकार्ड पर मतदान का आरोप

 

पुर्न मतदान कराने की मांग

बस्ती। रूधौली विकास खण्ड के ग्राम पंचायत हनुमानगंज के निवासी नीरज जायसवाल ने जिला निर्वाचन अधिकारी सहित अनेक उच्चाधिकारियांें को रजिस्टर्ड पत्र भेजकर आरोप लगाया है कि फर्जी आधारकार्ड के आधार पर मतदान कराकर उनकी पत्नी प्रत्याशी पूनम जायसवाल को षड़यंत्रपूर्वक 89 मतों से पराजित करा दिया गया। मांग किया है कि चुनाव की निष्पक्षता के लिये पुनः मतदान कराया जाय और फर्जी आधारकार्ड बनाने वाले जिन्हें मतदान के दिन रूधौली पुलिस ने पकड़ा और बाद में छोड़ दिया गया उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाय।
भेजे पत्र में नीरज जायसवाल ने कहा है कि मतदान के दिन 29 अप्रैल को उनकी भाभी का अचानक निधन हो गया। उनकी पत्नी पूनम जायसवाल ग्राम प्रधान पद की प्रत्याशी थी, शोकाकुल परिवार अंतिम संस्कार कराने में व्यस्त हो गया इस बीच विजयी प्रत्याशी अंजुम खातून और उनके समर्थकों ने फर्जी आधारकार्ड बनवाकर मतदान कराया जिसके आधार पर वह चुनाव जीत गई। फर्जी आधारकार्ड बनवाकर मतदान कराये जाने की सूचना उसी दिन रूधौली पुलिस को फोन से दिया गया। पुलिस ने दो लोगों को मौके से पकडा, उन्हें थाने ले गई और न जाने किन परिस्थितियों में पुलिस ने दो दिन बाद उन्हें छोड़ दिया। नीरज जायसवाल और ग्राम पंचायत हनुमानगंज के मतदाताओं ने मांग किया है कि यहां पुनः मतदान सुनिश्चित कराया जाय।

Leave A Reply

Your email address will not be published.