Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समाजवादी पार्टी सांस्कृतिक प्रकोष्ठ पदाधिकारियों की घोषणा रोटरी ने ग्राम प्रधान को भेंट किया कोरोना से बचाव का संसाधान राज्य स्तरीय फार्म एन फ़ूड अवार्ड से नवाजे गए किसान संघर्ष और साधना की मिसाल है सप्रे जी का जीवन : हृदय नारायण दीक्षित फोकस्ड सैम्पलिंग में नहीं मिला एक भी कोरोना मरीज डीएम, एसपी ने किया जिला कारागार का किया गया आकस्मिक निरीक्षण यशकान्त सिंह अध्यक्ष, अनिल दूबे प्रमुख संघ के महामंत्री बन कोविड-19 से संबंधित आवश्यक मेडिकल सामग्री तैयार करने का उधम शुरू करें उधमी: डीएम कोविड-19 गाइडलाइन का अनुपालन करते हुए मनाया जाएगा स्वतंत्रता दिवस प्राकृतिक तरीको से घटाए यूरिक एसिड का लेवल- डा.वी.के.वर्मा

हनुमानगंज में फर्जी आधारकार्ड पर मतदान का आरोप

 

पुर्न मतदान कराने की मांग

बस्ती। रूधौली विकास खण्ड के ग्राम पंचायत हनुमानगंज के निवासी नीरज जायसवाल ने जिला निर्वाचन अधिकारी सहित अनेक उच्चाधिकारियांें को रजिस्टर्ड पत्र भेजकर आरोप लगाया है कि फर्जी आधारकार्ड के आधार पर मतदान कराकर उनकी पत्नी प्रत्याशी पूनम जायसवाल को षड़यंत्रपूर्वक 89 मतों से पराजित करा दिया गया। मांग किया है कि चुनाव की निष्पक्षता के लिये पुनः मतदान कराया जाय और फर्जी आधारकार्ड बनाने वाले जिन्हें मतदान के दिन रूधौली पुलिस ने पकड़ा और बाद में छोड़ दिया गया उनके विरूद्ध कार्रवाई की जाय।
भेजे पत्र में नीरज जायसवाल ने कहा है कि मतदान के दिन 29 अप्रैल को उनकी भाभी का अचानक निधन हो गया। उनकी पत्नी पूनम जायसवाल ग्राम प्रधान पद की प्रत्याशी थी, शोकाकुल परिवार अंतिम संस्कार कराने में व्यस्त हो गया इस बीच विजयी प्रत्याशी अंजुम खातून और उनके समर्थकों ने फर्जी आधारकार्ड बनवाकर मतदान कराया जिसके आधार पर वह चुनाव जीत गई। फर्जी आधारकार्ड बनवाकर मतदान कराये जाने की सूचना उसी दिन रूधौली पुलिस को फोन से दिया गया। पुलिस ने दो लोगों को मौके से पकडा, उन्हें थाने ले गई और न जाने किन परिस्थितियों में पुलिस ने दो दिन बाद उन्हें छोड़ दिया। नीरज जायसवाल और ग्राम पंचायत हनुमानगंज के मतदाताओं ने मांग किया है कि यहां पुनः मतदान सुनिश्चित कराया जाय।

Leave A Reply

Your email address will not be published.