Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
.......तो क्या... योगी राज मे गैंगरेप की शिकार अर्धविक्षिप्त युवती को मिल सकेगा न्याय ? नगर पुलिस व एन्टी व्हीकल थेफ्ट टीम की संयुक्त कार्यवाही में 3 क्विंटल 17.260 किलोग्राम गांजा के साथ ... फर्जी समूह बनाकर धोखा-धड़ी करके जमाकर्ताओं के धन हड़पने वाले 06 अभियुक्त गिरफ्तार एनटीपीसी ने सौंपा एसी एंबुलेंस एवं शव वाहन डा. वी.के. वर्मा ने स्वास्थ्य परीक्षण कर वृद्ध जनों में किया फल, मिष्ठान्न का वितरण अन्याय पर न्याय के विजय का पर्व है नवरात्रि - संजय चौधरी दो ऑक्सीजन गैस प्लांट का फीता काटकर किया गया उद्घाटन नहरों की सिल्ट सफाई का कार्य प्रारम्भ फ्री बिजली गारंटी पदयात्रा निकालेगी आपः सभाजीत सिंह त्योहारों को लेकर सम्पन्न हुई पीस कमेटी की बैठक, डीएम ने दिए निर्देश

कार्यों में लापरवाही एवं लगातार अनुपस्थित पाए जाने पर कई अधिकारियों पर गिरी कार्यवाही की गाज

– एमओआईसी दुबौलिया व साऊंघाट को तत्काल प्रभाव से हटाने का डीएम ने दिया निर्देश
– पशुधन अधिकारी आशुतोष कुमार के लगातार अनुपस्थित रहने पर उनके विरुद्ध विभागीय कार्यवाही के निर्देश

बस्ती। कार्यों में लापरवाही एवं लगातार अनुपस्थित पाए जाने पर जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने दुबौलिया सीएचसी के प्रभारी चिकित्साधिकारी को हटाकर नए चिकित्साधिकारी की तैनाती करने का निर्देश दिया। विकास भवन परिसर में आयोजित समीक्षा बैठक में उन्होंने अस्वस्थ चल रहे साऊंघाट के प्रभारी चिकित्साधिकारी के स्थान पर भी नए चिकित्साधिकारी की तैनाती का निर्देश दिया है। जिलाधिकारी ने सेक्टर मजिस्ट्रेट बनाए गए पशुधन अधिकारी आशुतोष कुमार के लगातार अनुपस्थित रहने पर उनके विरुद्ध विभागीय कार्यवाही करने का मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिया है। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि कोविड-19 जैसी वैश्विक महामारी के दौर में किसी अधिकारी, कर्मचारी द्वारा बरती गयी लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने गौर में कंप्यूटर ऑपरेटर के लगातार अनुपस्थित पाए जाने पर उसको सेवा से हटाकर नया कंप्यूटर ऑपरेटर तैनात करने का भी निर्देश दिया है।
उन्होंने कहा कि पिछले दिनों वर्चुअल बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सेंपलिंग, कांटैक्ट ट्रेसिंग बढ़ाने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि प्रत्येक ब्लॉक में 250 एंटीजन तथा 250 आरटीपीसीआर जांच कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। 21 मई को 3800 जांचे हुई हैं जो 22 को बढ़कर 6000 हो गई हैं। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रत्येक दिन कम से कम 8000 कोविड-19 की जांच हैं करायी जाएं तथा इसे समय से पोर्टल पर अपलोड कराया जाए। समीक्षा में उन्होंने पाया कि बहादुरपुर, बस्ती सदर, रुधौली तथा साऊंघाट में 400 से भी कम जांचें हुई हैं। उन्होंने यहां के प्रभारी चिकित्साधिकारियों को व्यक्तिगत रुचि लेकर जांचे बढ़ाने का निर्देश दिया है।
उन्होंने कहा कि दवाओं का किट केवल कोरोना लक्षण युक्त व्यक्तियों को उपयोग के लिए दिया जाना है। सुनिश्चित करें कि सभी किट में दवा खाने की विधि और समय अवश्य लिखा हो। दवा वितरण, कोरोना टेसिं्टग, तथा पॉजिटिव पाए गए मरीजों के कांटेक्ट ट्रेसिंग पर विशेष बल देते हुए उन्होंने नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों का सहयोग लेने का अपील किया है।
उन्होंने बताया कि 32 ग्राम प्रधानों ने संकल्प पत्र भर के दिया है कि वे अपने गांव के 45 वर्ष की आयु से अधिक 100 लोगों का सोमवार 24 मई को कोविड-19 का टीकाकरण कराएंगे। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों एवं खंड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि वे अपने क्षेत्र के अन्य ग्राम प्रधानों से संपर्क करके अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण कराएं। अगले सप्ताह के लिए 18000 टीका जनपद को प्राप्त हो गया है। उन्होंने टीका का कम से कम वेस्टेज करने का निर्देश भी दिया है। उन्होंने कहा कि एक बार में 8 से 10 लोगों के एकत्र होने पर ही मोबाइल खोला जाए और सुनिश्चित करें कि बचे हुए दवा अगले 3 घंटे के भीतर अवश्य लगा दी जाए।
जिलाधिकारी ने जिला अस्पताल तथा कैली ओपेक अस्पताल के अधिकारियों को बेहतर समन्वय स्थापित करते हुए कोरोना पॉजिटिव मरीजों को भर्ती करने, इलाज करने तथा उन्हें सुविधाएं उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि कोविड-19 कमांड एवं कंट्रोल सेंटर द्वारा नियमित रूप से वहां भर्ती मरीजों से फीडबैक लिया जा रहा है। कुछ मरीज स्वयं भी फोन करके व्यवस्था के बारे में जानकारी दे रहे हैं। लखनऊ में सीएम हेल्पलाइन द्वारा भी मरीजों से वार्ता की जा रही है इसलिए सभी चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टाफ मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार करते हुए उन्हें सभी सुविधाएं समय से उपलब्ध कराएं।
बैठक में सीडीओ डॉ० राजेश कुमार प्रजापति, एसीएमओ फखरेयार हुसैन, सीएमएस डॉ० आलोक कुमार, डॉ० सोमेश श्रीवास्तव, डॉ० एके कुशवाहा, डॉ० रूपेश हलधर, डॉ० संजय त्रिपाठी, उप जिलाधिकारी आशाराम वर्मा, नीरज प्रसाद पटेल, आनंद श्रीनेत, सुखबीर सिंह, जगदीश शुक्ला, डीएस यादव, इंद्रपाल सिंह, संजेश श्रीवास्तव, प्रभारी चिकित्साधिकारी तथा खंड विकास अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.