Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
94.6 प्रतिशत अंक अर्जित पर ऐश्वर्या माथुर ने बढाया जनपद का मान शिक्षकों ने खण्ड शिक्षा अधिकारी इन्द्रजीत को दिया भावभीनी विदाई हस्तशिल्प विकास योजना की दिया जानकारी, हस्तशिल्पियों से बनाया संवाद सपा की बैठक में बूथ स्तर पर मजबूती का निर्णय कांग्रेस ने मनाया दलित सम्मान दिवस, निकाली पद यात्रा लगाया कोविड का टीका,गांव-गांव पहुंची टीम इंडियन पब्लिक स्कूल के सभी छात्र उत्तीर्ण, 33 प्रतिशत बच्चों को मिला 90 प्रतिशत अंक जिले में 2582 दिव्यांगों को वितरण किया जायेगा उपकरण 5 अगस्त को जिले के समस्त कोटे की दुकानों पर होगा अन्न महोत्सव का आयोजन लीजेंड दादा साहेब फालके अवार्ड से सम्मानित की गई मशहूर हस्तियां

दर्जनों गेहूं क्रय केन्द्रों पर बोरे के अभाव में खरीद प्रभावित

– मण्डल मे नही है बोरे की कोई कमी, अबाध रूप से हो रही है गेहूं की खरीद- आर.एफ.सी.

बस्ती। मण्डल मे पीसीएफ के स्थापित कई गेहूं क्रय केन्द्रों पर बोरे के अभाव मे खरीद प्रभावित होने की खबर है। जबकि गेहूं खरीद सीएम के महत्वाकांक्षी योजनाओं मे से एक है। बस्ती जनपद के दर्जनों क्रय केन्द्रों पर बोरे के अभाव मे गेहूं की खरीद नही हो पा रही है। स्थापित अधिकतर सेंटर बोरे न होने की वजह से बंद हो चुके हैं और जो खुले है वहां पर भी किसान आसानी से अपनी फसल नहीं बेच पा रहा। बस्ती जनपद के विभिन्न ब्लाकों का हाल देखने के बाद पता चला कि चाहे पीसीएफ हो एफसीआई हो या संघ सभी जगह बोरे का अभाव है। लेकिन सरकारी आंकड़ों में बंपर खरीद हो रही है। जबकि बस्ती जिले के देवरिया माफी, जिगना,सुकरौली,विशुनपुर, बस्ती सदर का भरौली बाबू, रूधौली के जोधिजोत, महराजगंज के रमवापुर सहित अनेक क्रय केन्द्रों पर बारे के अभाव मे गेहूं खरीद प्रभावित बताया जा रहा है।
इस खरीद वर्ष के लिए सरकार ने गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1975 रुपए रखा है जबकि बिचैलियों को गेहूं बेचने पर 1600 से ज्यादा नहीं मिलता। सचिव लोगो से बात करने पर पता चला कि किसान तो अपनी फसल ले कर आ रहा लेकिन उसे बोरे के अभाव में वापस जाना पड़ रहा है क्योंकि हमारे पास गेहूं रखने की पर्याप्त बोरा व जगह नहीं है। गेहूं खरीद के लिए तत्कालीन आरएफसी श्रीप्रकाश मिश्र के स्तर से दो हजार गांठ बोरे की डिमांड भेजा गया था। और शासन द्वारा कहा गया था पर्याप्त मात्रा में बोरे उपलब्ध है। इसके बावजूद भी बोरों के अभाव मे गेहूं खरीद बुरी तरह प्रभावित है।
इस संबन्ध मे संभागीय खाद्य नियंत्रक बस्ती संभाग सरयू प्रसाद ने उपरोक्त आरोप को खारिज करते हुए बताया कि मण्डल मे बोरे की कहीं कोई कमी नही है। बोरे का अभी पर्याप्त स्टाक उपलब्ध है। जहां से बोरे का डिमाण्ड होता है वहां तत्काल बोरे उपलब्ध कराये जाते हैं। उन्होने बताया कि अभी हमारे स्टाक मे 8250 गांठ बोरे एडवांस पडे हुए है। उन्होेने बताया कि किसानों से गेहूं खरीद हो रही है। कुछ बिचैलिए अपनी मंशा पूरी न हो पाने के कारण अनावश्यक हल्ला मचाते है। श्री प्रसाद ने बताया कि सोमवार तक मण्डल मे 139569.68 एमटी गेहूं की खरीद हो चुकी है।
पीसीएफ के आर.एम. चन्द्रकेश्वर मौर्य ने बताया कि बोरे का अभाव कभी नही हुआ। डिमांड के अनुसार सभी क्रय केन्द्रों पर पर्याप्त बोरे उपलब्ध करा दिये जाते है। बोरे की अनुपलब्धता की बात पूरी तरह से बेबुनियाद है। उन्होेने बताया कि मण्डल मे पीसीएफ के 232 क्रय केन्द्र हैं जिनसे सोमवार तक 89021 एमटी गेहूं की खरीद किया जा चुका है। उन्होेने बताया कि अगर किसी किसान को गेहूं बेंचने मे कोई समस्या आती है उसे गंभीरता से लेते हुए उनके समस्या का निराकरण कराया जाता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.