Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या में बनेगा अनूठा मंदिरों का संग्रहालय, प्राचीन शैलियों के मंदिरों के बनाए जाएंगे कई मॉडल अंसल एपीआई के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, पुलिस कमिश्नर से अंसल के खिलाफ लखनऊ में दर्ज मु... कोटे के दूकान के आवंटन की मांगः डीएम को सौंपा ज्ञापन सदर विधायक महेन्द्र यादव ने मो. सलीम, शैलेन्द्र को बनाया प्रतिनिधि अदालत के आदेश के बाद भी नहीं मिला जमीन पर कब्जा, डीएम ने दिया कार्रवाई का निर्देश बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना शासन के निर्देश पर हुआ परिषदीय स्कूलों की साफ—सफाई 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडी... प्रतापगढ़: सिपाही संजय यादव की हत्या के मामले मे शामिल चार आरोपी पुलिस हिरासत में अलर्ट: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 682 नए मामले

डीएम के आदेश को भी नही मानती बस्ती पुलिस, पत्रकारों ने सौंपा ज्ञापन, मुकदमा दर्ज कराने की मांग

कबीर बस्ती न्यूज:

बस्ती। लालगंज थाना क्षेत्र स्थित कुदरहा पुलिस चौकी पर पुलिसकर्मियों के सामने पत्रकार राजेश कुमार शुक्ल की भाजपा नेता ब्रह्मदेव यादव ‘देवा’ और उसके गुर्गों द्वारा मारने पीटने और मोबाइल छीनकर तोड़ने का मामला तूल पकड़ रहा है। मंगलवार को पत्रकारों के एक प्रतिनिधि मंडल ने महेन्द्र तिवारी के नेतृत्व में जिलाधिकारी से मुलाकात कर न्याय की गुहार लगाया है। जबकि इस मामले में लालगंज थाने पर शनिवार को आयोजित जनसुनवाई कार्यक्रम के दौरान डीएम सौम्या अग्रवाल ने सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज करने का स्पष्ट निर्देश दिया था।

लेकिन लालगंज पुलिस ने 5 दिन बीत जाने के बाद भी मुकदमा दर्ज नही किया। विवश होकर पत्रकारों के प्रतिनिधि मंडल ने दोबारा डीएम से मुलाकात कर मुख्य राजस्व अधिकारी को ज्ञापन देकर मुकदमा दर्ज कराने की मांग की है। बताते चलें समाचार कवरेज के दौरान 13 मई को कुदरहा पुलिस चौकी में पहले से बैठे भाजपा नेता ब्रह्मदेव यादव ‘देवा’ और उसके गुर्गों ने फोटो बनाते समय पत्रकार राजेश शुक्ल की मोबाइल छीनकर मारा पीटा और देख लेने की धमकी दी। बाद में लालगजं थाने पर आकर एससीएसटी के तहत मुकदमे में फर्जी फसाने की धमकी देकर दबाव बनाया और जबरिया सुलह करवा दिया। इस सुलहनामे पर कुछ पत्रकारों ने भी हस्ताक्षर किया।

पीड़ित पत्रकार राजेश शुक्ल ने कहा उनकी भावनायें आहत हुई हैं और सरेआम पुलिस चौकी में पुलिसकर्मियों के सामने दबंग नेता और उसके गुर्गो ने जानलेवा हमला किया। बीच बचाव करने की बजाय पुलिस ने भी न केवल मारा पीटा बल्कि दबंगों को डंडा देकर उनका सहयोग भी किया। जबरिया कराये गये सुलह के बाद थाने पर तहरीर दी लेकिन अभी तक मुकदमा दर्ज नही किया गया। इस मामले में शीघ्र ही लालगंज पुलिस सुसंगत धराओं में मुकदमा नही दर्ज करती है तो व्यापक स्तर पर धरना प्रदर्शन कर विरोध दर्ज करया जायेगा। ज्ञापन देने वालों में प्रमुख रूपे से जयंत कुमार मिश्रा, दिनेश कुमार पाण्डेय, बालकृष्ण त्रिपाठी, कौशल कुमार, मो. टीपू, सरवर अली वारसी, अब्दुल कलाम, अनुराग श्रीवास्तव, राहुल पटेल, अमर सोनी, विकास, संजय, वकील अहमद सिद्धीकी, सूरज यादव, अनूप सिंह, रोहित कुमार, परवेज आलम आदि मौजूद रहे।