Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
अयोध्या में बनेगा अनूठा मंदिरों का संग्रहालय, प्राचीन शैलियों के मंदिरों के बनाए जाएंगे कई मॉडल अंसल एपीआई के खिलाफ प्रवर्तन निदेशालय ने कसा शिकंजा, पुलिस कमिश्नर से अंसल के खिलाफ लखनऊ में दर्ज मु... कोटे के दूकान के आवंटन की मांगः डीएम को सौंपा ज्ञापन सदर विधायक महेन्द्र यादव ने मो. सलीम, शैलेन्द्र को बनाया प्रतिनिधि अदालत के आदेश के बाद भी नहीं मिला जमीन पर कब्जा, डीएम ने दिया कार्रवाई का निर्देश बच्चों के साथ ससुराल में शान्ती देवी ने शुरू किया धरना शासन के निर्देश पर हुआ परिषदीय स्कूलों की साफ—सफाई 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडी... प्रतापगढ़: सिपाही संजय यादव की हत्या के मामले मे शामिल चार आरोपी पुलिस हिरासत में अलर्ट: प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 682 नए मामले

हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पंपों पर खत्म होने लगा डीजल-पेट्रोल,जिम्मेदार नही बता पा रहे हैं उत्पन्न समस्या का कारण

कबीर बस्ती न्यूज:

मेरठ: बागपत के बिचपड़ी गांव का रवि मंगलवार को किसी काम से बाइक से अग्रवाल मंडी टटीरी आया था। रास्ते में बाइक का पेट्रोल खत्म हो गया। वह पेट्रोल पंप पर पहुंचा तो पता चला कि पेट्रोल और डीजल खत्म है। यहां से बाइक को ई-रिक्शा में लादकर बागपत लेकर आया, लेकिन यहां भी पेट्रोल खत्म होने की जानकारी मिली। पेट्रोल पंप मालिक ने कंपनी से गाड़ी भरकर चलने की बात जरूर बताई। परंतु पेट्रोल पंप पर करीब दो घंटे तक इंतजार करने के बाद तेल मिला।  पंप संचालकों ने कंपनी से आपूर्ति बाधित होने की जानकारी देते हुए पेट्रोल और डीजल खत्म होने की बात बताई। बता दें कि जिले में वर्तमान में 35 पेट्रोल पंप हैं। इन सभी पर एक दिन में करीब 70 हजार लीटर पेट्रोल और एक लाख लीटर डीजल की बिक्री होती है। अधिकतर पेट्रोल पंप पर तेल खत्म होने से वाहन चालक इधर-उधर भटकते रहे।

दिन भर पेट्रोल पंपों पर दिखे अफरा—तफरी का माहौल
दुड़भा गांव का डिंपल बागपत आ रहा था। रास्ते में तेल खत्म हो गया। उसे चार किमी पैदल ही बाइक लेकर आना पड़ा। बागपत में दो घंटे तक इंतजार करने के बाद पेट्रोल मिला। बिचपड़ी गांव का आजाद भी टटीरी आया था। उसकी बाइक का पेट्र्रोल खत्म हुआ तो किसी अन्य की बाइक से सहारा लगवाकर बागपत तक पहुंचा। कुछ इस तरह की परेशानी वाहन चालकों को झेलनी पड़ीं।

भारत पेट्रोलियम व हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप पर आपूर्ति की ज्यादा समस्या हो रही है। इंडियन ऑयल के पेट्रोल पंप पर अभी स्थिति ठीक है। कंपनियों का पेट्रोल और डीजल के दाम को लेकर मामला चल रहा है। इसलिए आपूर्ति रोकी जा रही है। इससे वाहन चालकों की परेशानी बढ़ रही है। – संजीव यादव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष, उप्र पेट्रोलियम ट्रेडर्स एसोसिएशन

तेल के लिए एडवांस पैसे देने के बाद भी पेट्रोल और डीजल की आपूर्ति नहीं हो रही है। हमारे पास पेट्रोल व डीजल खत्म हो चुका था। 18 लाख की जगह 20 लाख रुपये एडवांस देने के बाद एक गाड़ी पेट्रोल की मिली है। इस तरह समस्या बढ़ती जा रही है। – अंकित गुप्ता, संचालक, भजन लाल ईश्वर दयाल पेट्रोल पंप बागपत

कंपनी स्र पर कोई मामला चल रहा है, जिसकी वजह से पेट्रोल व डीजल की आपूर्ति में परेशानी हो रही है। इसे लेकर बातचीत की गई तो कंपनी से ज्यादा कुछ नहीं बताया गया। मगर, इतना कहा गया कि जल्द ही समस्या का समाधान हो जाएगा। – केबी सिंह, जिला आपूर्ति अधिकारी

हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पंपों पर खत्म होने लगा डीजल-पेट्रोल

मुजफ्फरनगर में भी आपूर्ति नहीं होने के कारण हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पंपों पर पेट्रोल-डीजल खत्म होने लगा है। शहर के जानसठ रोड स्थित पंप पर तेल खत्म होने से वाहन चालक वापस लौटे। कई पंपों पर दिनभर भीड़ के हालात रहे। जिले में एचपी के चार पंपों पर डीजल-पेट्रोल खत्म हो चुका है।
उत्तराखंड से शुरू हुआ पेट्रोल-डीजल का संकट हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पंपों पर अधिक है। मंगलवार को शहर के जानसठ रोड स्थित शिव धाम पंप पर पेट्रोल और डीजल खत्म हो गया। संचालक अशोक बालियान ने बताया कि सप्लाई नहीं आने के कारण यह संकट हुआ है।
जिले में हिंदुस्तान पेट्रोलियम के करीब 20 पंप हैं, जिन पर तेल खत्म होने लगा है। मंगलवार शाम को रुड़की रोड स्थित पंप पर वाहनों की भीड़ लग गई। लंबी कतार होने से लोगों को मुश्किलों का सामना करना पड़ा।

उत्तराखंड में समस्या के कारण पुरकाजी में भीड़
उत्तराखंड में पेट्रोल-डीजल की सप्लाई को लेकर शुरू हुई दिक्कत के कारण बॉर्डर के पुरकाजी क्षेत्र में तेल लेने के लिए वाहन चालकों की लाइन लगी रही। सोमवार रात और मंगलवार को भी यहां भीड़ रही। पेट्रोल पंप एसोसिएशन के अध्यक्ष अखिलेश कुमार का कहना है कि एचपी के पंपों पर सप्लाई की समस्या से मुश्किल बढ़ रही है। जल्द ही समस्या का समाधान होने की उम्मीद है।