Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
कुपोषण के साथ बीमारियों से भी बचाती है कीड़े मारने की दवा माध्यमिक शिक्षक संघ का वार्षिक सम्मेलन एवं विचार गोष्ठी सम्पन्न 7 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान 13 सेः भूमि पूजन में उमड़े श्रद्धालु पूंजीपती मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिये देश के आर्थिक ढांचे का सत्यानाश कर रहे हैं पीएम: प्रेमशंक... प्रभारी मंत्री राकेश सचान 08 फरवरी को बस्ती में मण्डल में स्थापित किए जायेंगे 31 एग्री जंक्शन निर्माण कार्य अपूर्ण पाये जाने से डीएम खफा: वेतन रोकने के निर्देश “बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं‘‘जन जागरूकता वाहन को डीएम ने दिखाई हरी झण्डी चित्रांश क्लब की ओर से ‘एक शाम शहीदों के नाम’’ कार्यक्रम आयोजित नहीं सुनी जा रही हैं पेन्शनर्स की समस्याः दिया आन्दोलन की चेतावनी

कारीडोर के रूप में विकसित होगा मखौड़ा धाम एवं श्रृंगीनारी

कबीर बस्ती न्यूजः

बस्ती : श्री राम जन्मभूमि अयोध्या से जोड़ते हुये मखौड़ा धाम एवं श्रृंगीनारी आने वाले मार्ग के स्थलों को श्री राम अवतरण कारीडोर के रूप में विकसित किया जायेंगा। कलेक्टेªट सभागार में आयोजित पर्यटन की तैयारी बैठक में जिलाधिकारी प्रियंका निरंजन ने पर्यटन विभाग को निर्देशित किया है कि काशी विश्वनाथ धाम की तर्ज पर इस स्थल का विकास प्रोजेक्ट तैयार किया जाय। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि इस कार्य में कंसल्टेण्ट एवं आर्किटेक्ट की सहायता ली जाय। बैठक में जिलाधिकारी ने पर्यटन विभाग के विभिन्न कार्यो के प्र्रगति की समीक्षा किया तथा समय से पूरा करने का निर्देश दिया।
बैठक में उपस्थित विधायक अजय सिंह ने कहा कि रामरेखा मंदिर परिसर में धर्मशाला, गेट, पार्क, सतसंग भवन बनाये जाने के लिए प्रोजेकट तैयार करें। विधायक ने कहा कि विभिन्न स्थानों पर गेट निर्माण के लिए भूमि अधिग्रहण की आवश्यकता होगी।
निर्माण कार्यो की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि समय से कार्यो का सत्यापन कराना सुनिश्चित करें। जिन कार्यो के सत्यापन के लिए समिति गठित नही है, तो समिति गठित कराये। प्रोजेक्टवार समीक्षा करते हुए उन्होेने निर्देश दिया कि जिन सड़को का कार्य पूरा हो गया है, उसमें साइनेज, सूचनात्मक बोर्ड, माकिंग, रोडपटरी बनाने का भी कार्य समय से पूरा करें।
जिलाधिकारी ने ग्रामीण अभियंत्रण विभाग, आवास विकास परिषद, पीडब्ल्यूडी के निर्माण एवं प्रान्तीय खण्ड, नाबार्ड, राज्यनिधि, पूर्वान्चल विकास निधि, आर.आई.डी.एफ., यूपीसिडको, यूपीपीसीएल, सीएण्डडीएस विभागों की निर्माण कार्यो की समीक्षा किया, जिसमें मुख्य रूप से राजकीय पालीटेक्निक, संयुक्त शिक्षा निदेशक/डायट कार्यालय, चंगेरवॉ स्थित लघु सिचाई के टेªनिंग सेण्टर, अग्निशमन केन्द्र, कलेक्टेªट प्रमुख है।
कार्यदायी संस्था ने जिलाधिकारी को बताया कि 100 बेड का हर्रैया महिला चिकित्सालय स्वास्थ्य विभाग को 16 दिसम्बर को हैण्डओवर कर दिया गया है। चंगेरवा लघु सिंचाई टेªनिंग सेण्टर के बारे में यूपीसिडको के पी.एम. ने बताया कि 01 करोड़ रूपया प्राप्त हुआ है, जिससे आवास बनवाया जा रहा है। यहॉ पर निर्मित पशुपालन विभाग का भवन पूर्व में ही विभाग को हैण्डओवर कर दिया गया है। संयुक्त निदेशक शिक्षा कार्यालय का अवशेष धनराशि भी प्राप्त हो गया है। कलेक्टेªट का स्थल विकास शेष है। 80 लाख रूपये की धनराशि राजस्व बोर्ड से प्राप्त होने पर पूर्ण करा दिया जायेंगा।
बैठक में सीडीओ डा. राजेश कुमार प्रजापति, अर्थ एवं संख्याधिकारी मो. सादुल्लाह, पर्यटन अधिकारी विकास नारायण, अधिशासी अभियन्ता पीडब्ल्यूडी ए.के. सिंह, केशवलाल, आरईडी के अरविन्द कुमार तथा कार्यदायी संस्थाओं के प्रतिनिधिगण उपस्थित रहें।