Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सम्पूर्ण समाधान दिवस में 98 मामलें में 06 का निस्तारण जेण्डर रेसियों बढाने के लिए घर-घर सर्वे करके भरवायें मतदाता फार्म: मण्डलायुक्त डीएम एसपी से मिले अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य, संचालित योजनाओं पर चर्चा भाजपा नेता बलराम ने किया पब्लिक डायग्नोसिस सेन्टर के जांच की मांग नये-नये प्रयोग एवं तकनीकों से जनपद के कृषकों को आच्छादित कर करें लाभान्वित: डा0 बिजेन्द्र सिंह माउंट कार्मल कॉलेज में छात्राओं ने धूमधाम से मनाया वार्षिक उत्सव मिलजुल कर भाईचारे के साथ त्योहार मनाने की परंपरा को कायम रखने की अपील महिलाओं के सम्मान को ठेस पहुंचाने वालों के साथ सख्ती से निपटेगी पुलिस अस्पताल मे झांकने नही जाते हैं डाक्टर, हराम का उठाते हैं एक लाख रूपया महीना बस्ती के शशांक को नई दिल्ली में मिला आपदा फ़रिश्ता राष्ट्रीय सम्मान

सडक हादसे मे बस पर पलटा ट्रक, बस सवार चार यात्रियों की दर्दनाक मौत, 17 घायल

कबीर बस्ती न्यूज।

अयोध्या:  कोतवाली अंतर्गत गोरखपुर-लखनऊ राष्ट्रीय राजमार्ग पर बूथ नंबर चार के पास स्थित रघुकुल रेस्टोरेंट के निकट शुक्रवार रात करीब आठ बजे पीओपी लदा ट्राला यात्रियों से भरी निजी बस को टक्कर मारते हुए बस के ऊपर पलट गया। हादसे में दर्जनों यात्री बस में फंस गए। पुलिस ने रेस्क्यू कर लोगों को बाहर निकाला व अस्पताल पहुंचाया। हादसे में चार लोगों की मौत हो गई और 17 यात्री घायल हो गए। जानकारी के अनुसार बस में करीब 45 यात्री सवार थे। वहीं घटना के बाद हाईवे पर दोनों ओर लंबा जाम लग गया। अयोध्या के डीएम नितीश कुमार ने देर रात बताया कि 12 लोगों को अस्पताल भेजा गया है। हादसे में कुछ जानें गई हैं। रेस्क्यू का काम खत्म हो गया है।

लखनऊ से अंबेडकरनगर शुक्रवार रात करीब आठ बजे जा रही एक निजी बस (यूपी-42 बीपी 8558) रघुकुल रेस्टोरेंट के पास मोड़ पर मुड़ रही थी। इस दौरान पीछे से आ रहे पीओपी लदे भारी भरकम ट्राले ने बस में सीधे टक्कर मार दी। हादसे के बाद बस पलटने ही वाली थी कि पीछे से आ रहे एक ट्रक के चालक सरदार जी ने सजगता दिखाते हुए अपने वाहन से बस को सहारा देखकर पलटने से बचाया, लेकिन पीओपी लदा ट्राला बस के ऊपर ही पलट गया। इससे मौके पर चीख-पुकार मच गई। आसपास के लोग व बूथ नंबर चार पर तैनात पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन भारी भरकम ट्रक के नीचे दबे बस में फंसे लोगों को निकालने में नाकामयाब रहे। सूचना मिलने पर आईजी प्रवीण कुमार, डीएम नितीश कुमार, एसएसपी मुनिराज जी, एसपी सिटी मधुबन सिंह, सीओ अयोध्या एसपी गौतम समेत अन्य अधिकारी एसडीआरएफ टीम के साथ मौके पर पहुंचे। घटनास्थल का दृश्य देखकर तत्काल मौके पर पांच क्रेन व दर्जन भर एंबुलेंस को मौके पर बुलाया गया। क्रेन की सहायता से ट्राले को हटाने के बाद बस में फंसे लोगों को बाहर निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। दर्शननगर मेडिकल कालेज में तीन व जिला अस्पताल में एक यात्री ने दम तोड़ दिया। जबकि मेडिकल कालेज में 13 व जिला अस्पताल में चार यात्रियों का इलाज चल रहा था। सीएमओ डॉ अजय राजा ने बताया कि मेडिकल कालेज में तीन व जिला अस्पताल में एक यात्री की मौत हुई। दोनों जगहों पर 17 घायलों का इलाज चल रहा है।
मेडिकल कॉलेज में तीन व जिला अस्पताल में एक की मौत
हादसे के बाद कुछ लोगों को जिला अस्पताल तो कुछ लोगों दर्शननगर स्थित मेडिकल कालेज पहुंचाया, जहां चार लोगों की मौत हो गई। इसमें अजय गौड़ निवासी मंझवा घाट गोसाईगंज अयोध्या, तहजीब अख्तर टांडा अंबेडकरनगर व तौसीफ अहमद निवासी दोहरा अंबेडकरनगर के रूप में हुई, जबकि जिला अस्पताल में मृत हुए व्यक्ति की पहचान मो. असीम बेग निवासी इब्राहीमपुर जिला अंबेडकरनगर के रूप में हुई। घायलों में 13 का इलाज मेडिकल कॉलेज व चार का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है।
ये हुए घायल
घायलों में रीतेश वर्मा निवासी मया बाजार अयोध्या, मो. जैयस निवासी दिलासीगंज अयोध्या, संदीप सिंह निवासी सरायरासी अयोध्या, अजय यादव निवासी मुबारकपुर अंबेडकरनगर, इंदसेन यादव निवासी अंबेडकरनगर, राहुल मिश्रा अयोध्या, जुनैद खान मिर्जापुर अंबेडकरनगर, खर्शीद जहां हजरतगंज लखनऊ, मो. कय्यूम हजरतगंज लखनऊ, नायबा कय्यूम, हजमत कय्यूम व रहमत कय्यूम सभी हजरतगंज लखनऊ निवासी, कलीम उल्ला टांडा, गौरव पांडेय निवासी इब्राहिमपुर अंबेडकरनगर, पंकज यादव महाराजगंज अयोध्या, विजयलक्ष्मी तिवारी निवासी हंसवर अंबेडकरनगर समेत अन्य शामिल हैं।
घटना के हाईवे के दोनों ओर लंबा जाम लग गया। बस से घायलों को बाहर निकालने के बाद पुलिस ने क्रेन के माध्यम से बस व ट्रक को हटाना शुरू किया। देर रात तक जाम खुलवाने के लिए अधिकार मशक्कत करते रहे। सड़क पर पड़े पीओपी को हटाने में रेस्क्यू कर रही एसडीआरएफ व पुलिस की टीम को काफी दिक्कतें आई। सीओ अयोध्या एसपी गौतम ने बताया कि जाम देखकर गोंडा के रास्ते बड़े वाहनों को डायवर्ट किया गया।
घटना के प्रत्यक्षदर्शी स्थानीय निवासी रोहित ने बताया कि लखनऊ की ओर से आ रही निजी बस मुड़ ही रही थी कि गोरखपुर की ओर से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्रक उसमें सीधे घुस गई। बताया कि हादसे में हादसे में पीओपी भरा ट्राला ट्रक के ऊपर चढ़ गया, बताया कि इस दौरान पीछे आ रही एक अन्य ट्रक चालक ने हादसा देख बुद्घिमानी दिखाते हुए बस को सहारा देते पूरी तरह से पलटने से रोक दिया। इसके बावजूद पीओपी लदा ट्रक उसके ऊपर चढ़ ही गया। बताया कि हादसे के बाद बस में सवार लोग चीखने चिल्लाने लगे।