Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

नाराज ग्रामीणों ने सांड को मार डाला

लखनऊः यूपी की योगी सरकार छुट्टा जानवरों से जनता को निजात दिलाने के लिये अरबों रूपया खर्च कर रही है, लेकिन अफसरों में इच्छाशक्ति की कमी और कामचोरी के कारण समस्या से राहत नही मिल रही है। आये दिन लोग छुट्टा जानवरों के हमले से घायल हो रहे हैं या उन्हे जान गंवानी पड़ रही है। ताजा मामला उन्नाव का है।

यहां सिंघूपुर गांव में सांड ने महिला को पटक कर मौत के घाट उतार दिया। गुस्साए ग्रामीणों ने घेरकर सांड को लाठी और भाले से मारकर उसे मौत मौत के घाट उतार दिया। ग्रामीणों ने गांव में स्थित प्राथमिक स्कूल में आवारा घूम रहे मवेशियों को भरकर हंगामा शुरू कर दिया है। उनका कहना है कि रिहायशी इलाकों को छुट्टा जानवरों से मुक्त किया जाये। एएसपी और एसडीएम सदर ग्रामीणों को मनाने में लगे थे। सदर विधायक पंकज गुप्ता भी मौके पर पहुंचे। डीएम रविंद्र कुमार ने 5 लाख आर्थिक मदद का आश्वासन दिया है।

गांव के रहने वाले स्वर्गीय तेजपाल की पत्नी गुड्डी भोर में शौच के लिए घर से बाहर ही निकली थी कि वहां से गुजर रहे सांड ने हमला बोल दिया। गंभीर रूप से जख्मी होने कि वजह से गुड्डी ने घटनास्थल पर ही दम तोड़ दिया। उसके बाद ग्रामीण लाठी भाला धारदार हथियार लेकर वहां इकट्ठा हो गए। महिला पर हमला करने वाले सांड को घेर लिया और पिटाई शुरू कर दी। ग्रामीणों ने पीट-पीटकर सांड को मार डाला। प्रशासन ने मौके की नजाकत देखते हुए ग्रामीणों को शांत कराने के लिए तत्काल तीन कैटल वाहनों को मंगाकर मवेशियों को उसमें भरवाना चालू कर दिया है।गांव में जो अन्ना मवेशी हैं उन्हें वाहनों में भरकर अलग-अलग गौशालाओं में ले जाया जा रहा है। प्रतीकात्मक फोटो