Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
यूपी की भाजपा सरकार को तिरंगा यात्रा भी लगता है अवैध- संजय सिंह जागरूकता का परिचय दें अन्त्योदय कार्ड धारक, बनवाएं आयुष्मान कार्ड 30 अक्टूबर तक जिले के सभी बैंक शाखाओं पर आयोजित किया जायेंगा कैम्प सपा की मासिक बैठक में बनी रणनीति इस बार दीपवाली में 11 फिट के दिये के साथ जगमगाएगा अमहट घाट श्रमिको के लिए कल्याणकारी योजनाओं को संचालित कर रही है प्रदेश सरकार-सुनील कुमार भराला टीकाकरण कर्मियों की लगन का फल है सफल टीकाकरण एक माह में नौ हजार अंत्योदय लाभार्थियों ने किया आवेदन श्री रामलीला महोत्सव में गुरुवार को राम बारात एवं राम विवाह का किया गया मंचन 100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान

युवती को मिला गनर, मुकदमा संतकबीर नगर ट्रांसफर

दीपक के पिता की हत्या की फाइल फिर से खुलेगी

बस्ती – निलबंति दारोगा दीपक सिंह के जुल्म की शिकार युवती को बुधवार को सरकारी सुरक्षा प्रदान कर दी गई। मंगलवार को कोर्ट में मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान दर्ज कराने के बाद युवती ने जान का खतरा बताते हुए एसपी से सुरक्षा मांगी थी। बुधवार को उसकी सुरक्षा में गनर तैनात करने के साथ कोतवाली थाने में दर्ज मुकदमे की विवेचना संतकबीर नगर स्थानांतरित कर दी गई है। विवेचना सीओ स्तर के अधिकारी करेंगे। बस्ती रेंज के आइजी अनिल कुमार राय ने संतकबीरनगर के पुलिस अधीक्षक डा.कौस्तुभ को इस संबंध में पत्र भेजा है।
कोर्ट में बयान देने के बाद युवती ने पुलिस के सामने भी दारोगा का कच्चा-चिट्ठा खोला है। बताया जा रहा है कि युवती ने वाट्सएप पर भेजे गए सभी अश्लील मैसेज और वीडियो क्लिपिंग पुलिस को मुहैया कराई है। इन्हें दारोगा के खिलाफ बेहद अहम सुबूत माना जा रहा है।
गोरखपुर के चौरी चौरा के सोनबरसा निवासी दारोगा दीपक सिंह के पिता प्रभुनाथ सिंह की हत्या की फाइल फिर से खुलेगी। इस मामले में विवेचना के दौरान दारोगा का भी नाम आया था। पिता की हत्या में दारोगा का नाम आने की जानकारी के बाद एडीजी अखिल कुमार ने मुकदमे की स्टेटस रिपोर्ट देवरिया के एसपी से तलब की है। साथ ही मुकदमे की फिर से जांच के आदेश दिए हैं। दीपक के पिता प्रभुनाथ सिंह की देवरिया के रामपुर कारखाना थाना क्षेत्र में आठ जून 2013 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। मामले में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया था। विवेचना के दौरान दारोगा दीपक सिंह का नाम आया था। उसे तब जेल भी भेजा गया था लेकिन साक्ष्य के अभाव में वह बरी हो गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.