Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
ललितपुर: पाली थाने में किशोरी से दुष्कर्म मामले में शासन के निर्देश पर एसआईटी का गठन, जांच शुरू अर्यांश ने अपने नए रैप सांग ‘लाइफ‘ में किया 20 भाषाओं का प्रयोग, डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्... राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगेंगे सीसी टीवी कैमरे, आटोमेटिक मशीन करेगी दनादन चालान, कवायद शुरू राजकीय कृषि बीज भण्डार से उन्नतशील प्रमाणित बीज प्राप्त कर उत्पादकता में वृद्धि कर सकते है किसान भारतीय कुर्मी महासभा ने राज्यपाल को भेजा 2 सूत्रीय ज्ञापन उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के त्रैवार्षिक अधिवेशन में उठे मुद्दे गैर मान्यता प्राप्त विद्यालयों में लगाए गए सरकारी ताले राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 मई को सामूहिक दवा सेवन कार्यक्रम में मददगार बनेगा नगर निगम और नागरिक सुरक्षा कोर खाद्य सुरक्षा विभाग ने छापेमारी कर एकत्र किया नमूना, भेजा जांच के लिए प्रयोगशाला

सीडीओ ने किया आकस्मिक निरीक्षण,अनुपस्थित मिले 11 कर्मचारियों का कटा वेतन

बस्ती – मुख्य विकास अधिकारी डा. राजेश कुमार प्रजापति बुधवार को संयुक्त निदेशक कृषि, उप निदेशक कृषि व भूमि संरक्षण अधिकारी कृषि कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 11 कर्मचारी व दो अधिकारी मौके पर अनुपस्थित मिले। इन सभी का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। सभी से स्पष्टीकरण तलब किया गया है।
सीडीओ सुबह 10.10 बजे निरीक्षण करने पहुंचे तो वहां मौजूद कर्मचारी, अधिकारी सकते में आ गए। संयुक्त निदेशक कृषि कार्यालय में शैलेंद्र कुमार वाहन चालक, प्रदीप कुमार श्रीवास्तव चतुर्थ श्रेणी कर्मी, भूमि संरक्षण अधिकारी कार्यालय में अवर अभियंता सुरेश प्रसाद, वरिष्ठ सहायक राजेंद्र कुमार चौधरी, कौशल किशोर सिंह, विनय कुमार चौधरी, कनिष्ठ सहायक संत कुमार, विनय कुमार शुक्ल वाहन चालक अनुपस्थित मिले। इसके अलावा उप निदेशक कार्यालय कृषि डीपीडी सेख नुरूद्दीन, अवर अभियंता नीरज कुमार, चतुर्थ श्रेणी कर्मी गजेंद्र प्रसाद त्रिपाठी अनुपस्थित रहे। सीडीओ ने निरीक्षण के दौरान डीडी कृषि कार्यालय में साफ-सफाई ढंग से नहीं पाई। कमरों में जाला लगा देख काफी नाराजगी जताई। यही नहीं कर्मचारी कोविड से बचाव के लिए मास्क तक नहीं लगाए हुए थे। इस पर उन्होंने चेतावनी दी। उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी हरेंद्र कुमार व भूमि संरक्षण अधिकारी सुधाकर कुमार चक्रवर्ती भी अनुपस्थित मिले। सीडीओ ने कहा कि समय से कार्यालय में न बैठना अत्यंत गंभीर विषय है। स्पष्टीकरण तलब किए जाने के लिए संबंधित को निर्देशित किया है। साफ-सफाई के लिए निर्देशित किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.