Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारि...  धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर गिरा तीन अधिकारियों पर कार्यवाही क... अगर बेटा परेशान करे तो मां-बाप डायल करें 14567 एल्डर हेल्पलाईन नम्बर कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु पर डीएम ने वितरित किया राज्य सरकार द्वारा घोषित रू0 50... समान वेतन, अधिकारों की मांग को लेकर संविदा कर्मियों ने मुख्यमंत्री को भेजा 7 सूत्रीय ज्ञापन व्यापारी से 10 लाख की रंगदारी मांगने वाले 3 अभियुक्त पहुंचे जेल छुट्टी बिताकर लौटने वालों की कोविड जांच के बाद ही होगी ज्वाइनिंग खेल के आयोजन में योगदान करने वालों को मिला पुरस्कार, प्रमाण-पत्र 45 बच्चों को ऑपरेशन से मिला नया जीवन महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल का जिले मे आगमन को लेकर तैयारियों की समीक्षा

सीडीओ ने किया आकस्मिक निरीक्षण,अनुपस्थित मिले 11 कर्मचारियों का कटा वेतन

बस्ती – मुख्य विकास अधिकारी डा. राजेश कुमार प्रजापति बुधवार को संयुक्त निदेशक कृषि, उप निदेशक कृषि व भूमि संरक्षण अधिकारी कृषि कार्यालय का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान 11 कर्मचारी व दो अधिकारी मौके पर अनुपस्थित मिले। इन सभी का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। सभी से स्पष्टीकरण तलब किया गया है।
सीडीओ सुबह 10.10 बजे निरीक्षण करने पहुंचे तो वहां मौजूद कर्मचारी, अधिकारी सकते में आ गए। संयुक्त निदेशक कृषि कार्यालय में शैलेंद्र कुमार वाहन चालक, प्रदीप कुमार श्रीवास्तव चतुर्थ श्रेणी कर्मी, भूमि संरक्षण अधिकारी कार्यालय में अवर अभियंता सुरेश प्रसाद, वरिष्ठ सहायक राजेंद्र कुमार चौधरी, कौशल किशोर सिंह, विनय कुमार चौधरी, कनिष्ठ सहायक संत कुमार, विनय कुमार शुक्ल वाहन चालक अनुपस्थित मिले। इसके अलावा उप निदेशक कार्यालय कृषि डीपीडी सेख नुरूद्दीन, अवर अभियंता नीरज कुमार, चतुर्थ श्रेणी कर्मी गजेंद्र प्रसाद त्रिपाठी अनुपस्थित रहे। सीडीओ ने निरीक्षण के दौरान डीडी कृषि कार्यालय में साफ-सफाई ढंग से नहीं पाई। कमरों में जाला लगा देख काफी नाराजगी जताई। यही नहीं कर्मचारी कोविड से बचाव के लिए मास्क तक नहीं लगाए हुए थे। इस पर उन्होंने चेतावनी दी। उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी हरेंद्र कुमार व भूमि संरक्षण अधिकारी सुधाकर कुमार चक्रवर्ती भी अनुपस्थित मिले। सीडीओ ने कहा कि समय से कार्यालय में न बैठना अत्यंत गंभीर विषय है। स्पष्टीकरण तलब किए जाने के लिए संबंधित को निर्देशित किया है। साफ-सफाई के लिए निर्देशित किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.