Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान 28 अक्टूबर से 4 नवंबर तक किया जाएगा दीपावली मेला का आयोजन पौराणिक कूओ का जीर्णोद्धार एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुरुआत ई-प्राजीक्यूशन पोर्टल पर नियमित रूप से मुकदमों का विवरण अपलोड करने के निर्देश कांग्रेस की बैठक में बनी प्रियंका गांधी के रैली की रणनीति श्री रामलीला महोत्सव में धनुषयज्ञ व परशुराम लक्ष्मण संवाद की लीला का हुआ मंचन,श्रद्धालु हुए मंत्रमुग... डियूटी मे लापरवाही बरतने वाले 7 पुलिस कर्मियों पर गिरी निलम्बन की गाज, विभागीय जांच शुरू कोरोना से बचने के लिए शुरु हुई फेस्टिवल फोकस्ड सैम्पलिंग प्रत्येक ब्लाक में प्रतिदिन 05 हजार कोविड टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने के निर्देश अतिवृष्टि से खराब हुयी फसल की क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप पर आवेदन कर सकते हैं...

डीएम के फटकार के बाद जागा स्वास्थ्य महकमा,लालपुर गांव को बनाया कंटेनमेंट जोन

  • आरआरटी टीम भेजकर वहां निवास कर रहे सभी लोगों का कराया जा रहा है जांच
    – कोरोना संक्रमण के चलते एक भाई की बस्ती तथा दो भाईयों की लखनऊ मे हुई थी मौत
बस्ती। जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने लालपुर गांव में सैनिटाइजेशन करवाने, सभी परिवारों में दवा वितरित कराने तथा साफ-सफाई के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया है। उन्होंने बताया कि पूरे गांव को कंटेनमेंट जोन बनाया गया है और शासन के निर्देशानुसार प्रत्येक कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने बताया कि आरआरटी टीम भेजकर वहां निवास कर रहे सभी लोगों का जांच कराया जा रहा है तथा कोरोना वायरस से बचाव एवं रोकथाम के लिए उन्हें आवश्यक दवाएं भी दी जा रही हैं। उन्होंने गांव के लोगों से अपील किया है कि डॉक्टरों द्वारा दी गई दवा का सेवन करें तथा कोरोना वायरस की जांच में सहयोग करें।
       जिलाधिकारी ने बताया कि परसरामपुर थाना अंतर्गत लालपुर गांव में निवास कर रहे गुंनन श्रीवास्तव ओपेक कैली अस्पताल में भर्ती थे और 18 अप्रैल को उनकी मृत्यु हुई थी। उनके अन्य दो भाई लल्लू श्रीवास्तव तथा झीन बाबू श्रीवास्तव स्थाई रूप से लखनऊ में निवास करते थे और इन दोनों भाइयों की क्रमशः 22 अप्रैल तथा 25 अप्रैल को लखनऊ में मृत्यु हुई है। उन्होंने बताया कि गुंनन श्रीवास्तव के दाह संस्कार में लल्लू श्रीवास्तव मखौड़ा धाम में श्मशान घाट पर आए थे तथा वहीं से लखनऊ वापस हो गए थे।
         उन्होंने बताया कि गांव में अब कोविड-19 के प्रोटोकॉल के अनुसार कंटेनमेंट जोन बनाया जा रहा है तथा सैनिटाइजेशन की कार्यवाही की जा रही है। वहां निवास कर रहे हैं सभी लोगों की आरआरटी टीम द्वारा कोरोना की जांच कराई जा रही है और उन्हें सुरक्षात्मक दवाएं भी उपलब्ध कराई जा रही हैं। उन्होंने गांव के लोगों से इस कार्य में सहयोग करने की अपील किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.