Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
प्रदेश मे चली धूल भरी आंधी जबरदस्त बारिश निगल गयी 25 लोगों की जान, कई घायल स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की बातों का करें सम्मान- सीएमओ सामन्यतया खान पान और अनियंत्रित दिनचर्या पथरी का कारण: डा. वी.के. वर्मा कार्यशाला में माइक्रोप्‍लान, कम्‍युनिकेशन प्‍लान तथा वैक्‍सीन के रखरखाव के बारे में दी गयी जानकारी सफाई कर्मचारी संघ पदाधिकारियों को दिलाया शपथ कवि सम्मेलन मुशायरे में सम्मानित हुई विभूतियां आज़म खान की जेल से रिहाई से समर्थकों ने किया खुशी का इजहार सफाई कर्मियों की बैठक में उठे मुद्दे, 8 सूत्रीय मांगों पर चर्चा बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल की बैठक में सम्बन्धित विषयों पर चर्चा सीएम ने विधायकों को चेताया, कहा ठेका पट्टा, ट्रांसफर व पोस्टिंग से दूर रहें विधायक

जयन्ती पर महारानी अहिल्याबाई होल्कर को समाजवादियों ने किया नमन्

बहादुर, निडर, महान योद्धा थीं अहिल्याबाई होल्कर – महेन्द्रनाथ यादव

बस्ती। समाजवादी पार्टी के सिविल लाइन्स स्थित शिविर कार्यालय पर महारानी अहिल्याबाई होल्कर को उनके 295 वीं जयंती पर याद किया गया।
सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव ने कहा कि महारानी अहिल्याबाई होल्कर एक बहादुर, निडर और महान योद्धा थीं। उन्होंने अपने शासन के दौरान प्रजा के हित के लिए अनेक कार्य किये।
कहा कि उनको हमेशा से एक बहादुर, आत्मनिष्ठ, निडर महिला के रूप में याद किया जाता है। वेे अपने समय की सर्वश्रेष्ठ योद्धा रानियों में से एक थीं, जो अपनी प्रजा की रक्षा के लिए हमेशा तैयार रहती थीं. इतना ही नहीं उनके शासन काल में मराठा मालवा साम्राज्य ने काफी ज्यादा नाम कमाया था. जनहित के लिए काम करने वाली महारानी ने कई हिंदू मंदिर का निर्माण भी करवाया था, जो आज भी पूजे जाते हैं।
अहिल्याबाई एक दार्शनिक और कुशल राजनीतिज्ञ थीं. इसी वजह से उनकी नजरों से राजनीति से जुड़ी कोई भी बात छुप नहीं सकती थी. महारानी की इन्हीं खूबियों के चलते ब्रिटिश इतिहासकार जॉन कीस ने उन्हें ‘द फिलॉसोफर क्वीन’ की उपाधि से नवाजा था। जानकारी के मुताबिक महारानी अहिल्याबाई होल्कर का जन्म 31 मई 1725 को महाराष्ट्र के चैंडी गांव में हुआ था, जिसे वर्तमान में अहमदनगर के नाम से जाना जाता है।
जयंती पर अहिल्याबाई होल्कर को नमन् करने वालों में मुख्य रूप से मोहम्मद जावेद, अभिषेक उपाध्याय, अखिलेश यादव, शफीक अंसारी, अरविन्द सोनकर, मो0 शाहिर, छोटू मिश्रा, भोला पांण्डेय, सुशील यादव, जर्सी यादव, राम सिंगार यादव, बबलू निषाद, जहीर अंसारी, सुजीत यादव, मोहम्मद हारिस, रौनक उपाध्याय, जुगल किशोर चैधरी के साथ ही सपा के अनेक पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामिल रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.