Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
100 करोड़ कोविड टीकाकरण में जिले ने दिया 8.55 लाख का योगदान 28 अक्टूबर से 4 नवंबर तक किया जाएगा दीपावली मेला का आयोजन पौराणिक कूओ का जीर्णोद्धार एवं वृक्षारोपण कार्यक्रम का शुरुआत ई-प्राजीक्यूशन पोर्टल पर नियमित रूप से मुकदमों का विवरण अपलोड करने के निर्देश कांग्रेस की बैठक में बनी प्रियंका गांधी के रैली की रणनीति श्री रामलीला महोत्सव में धनुषयज्ञ व परशुराम लक्ष्मण संवाद की लीला का हुआ मंचन,श्रद्धालु हुए मंत्रमुग... डियूटी मे लापरवाही बरतने वाले 7 पुलिस कर्मियों पर गिरी निलम्बन की गाज, विभागीय जांच शुरू कोरोना से बचने के लिए शुरु हुई फेस्टिवल फोकस्ड सैम्पलिंग प्रत्येक ब्लाक में प्रतिदिन 05 हजार कोविड टीकाकरण का लक्ष्य पूरा करने के निर्देश अतिवृष्टि से खराब हुयी फसल की क्षतिपूर्ति प्राप्त करने के लिए निर्धारित प्रारूप पर आवेदन कर सकते हैं...

बंटी बब्ली ने किया कमाल आबकारी विभाग और माननीय हो रहे मालामाल

प्रतिमाह ओवर रेटिंग का कहां जा रहा है 15981525 करोड रूपया………
– योगी सरकार मे अंधेरगर्दी चरम पर, लूटे जा रहे हैं निर्दोष उपभोक्ता
कराई जायेगी प्रकरण की जांच, दोषी पाये जाने पर बख्शे नही जायेंगे जिम्मेदार-डीएम

कबीर बस्ती ब्यूरो,बस्ती। प्रदेश की योगी सरकार मे कुछ भी संभव है। यहां सत्ता के कुछ नेताओं ने आबकारी विभाग पर कब्जा कर रखा है और वे जो चाहते हैं विभाग को करना पडता है। करें भी क्यों न मामला लाभ का जो है। इस अंधेरगर्दी ने प्रदेश सरकार की छबि धूमिल करने मे कोई कोर कसर नही छोडा है। जिले मे बंटी बब्ली ने कमाल कर दिया और ओवर रेट बेंचवाकर आबकारी विभाग और माननीयों को मालामाल कर दिया। यह स्थिति आम उपभोक्ता के साथ दिन दहाडे लूट जैसी है। पांच रूपया एमाउण्ट तो बहुत छोटा है लेकिन पूरे जिले की ओवर रेटिंग की गयी बिक्री पर नजर डाले तो किसी का भी कलेजा मुंह को आ जायेगा। उस वसूले गये बडे धनराशि का कोई अता पता नही है। जी हां…. यह पूर्णतया सत्य है। जनता यह जानना चाहती है कि ओवर रेटिंग कर बंटी बब्ली बेंचकर अर्जित किया गया मात्र एक महीने का धनराशि एक करोड 59 लाख 81 हजार 525 रूप्या किसके तिजोरी मे गया ? यह अवैध वसूली की घटना पिछले कई महीनों से चल रही है। जिम्मेदार सब कुछ जानकार अन्जान बने हुए है। यहां तक कि जिला प्रशासन भी मूक दर्शक का रोल अदा कर रहा है। खास बात तो यह है कि बंटी बब्ली देशी शराब की पांच रूपये की ओवर रेटिंग केवल बस्ती जिले मे ही हो रहा है। जबकि पडोसी जनपद सिद्वार्थनगर व संतकबीरनगर मे बंटी बब्ली देशी शराब प्रिंट रेट पर ही बिक रहा है।
यहां बताना आवश्यक है कि बस्ती जिले मे देशी शराब का कोटा 639261 ली0 है। जिसमें 3196305 पौवा 200 एमएल का बनता है। जिसका एक महीने का ओवर रेटिंग की धनराशि एक करोड 59 लाख 81 हजार 525 रूपया लगभग का आंकडा किसी का भी ब्लडप्रेशर बढाने के लिए काफी है। प्रत्येक बंटी बब्ली शीशी पर 50 रूपये का प्रिंट रेट है। लेकिन पिछले कई महीनों से यही देशी शराब 55 रूपये मे दबंगई के बल पर बिक्री की जा रही है। बस्ती जिले मे सरकारी शराब की 188 दुकानें हैं जिनके माध्यम से ओवर रेटिंग का कार्य जारी है। मात्र एक दिन का ओवर रेटिंग की धनराशि 532717 रूप्ये लगभग है। जिले मे देशी शराब बंटी बब्ली की एक दिन की बिक्री 1 लाख 06 हजार 543 शीशी लगभग है।
आबकारी विभाग एवं सत्ता मे बैठे के तथाकथित नेताओं के रहमों करम पर पांच रूपये प्रति शीशी बंटी बब्ली अधिक वसूलने की रणनीति ठेकेदार अपने इच्छा से नही बल्कि विभागीय निर्देश पर किया जा रहा है। सूत्र बताते हैं कि आबकारी विभाग के जिम्मेदारों के आदेश पर प्रिंट रेट से अधिक दामों पर देशी मदिरा बेंची जा रही है।
सूत्र बताते हैं कि आबकारी विभाग सत्ता से जुडे कथित नेताओं के दबाव मे यह गैर कानूनी कार्य पिछले कई महीनों से जारी है। हर दिन उपभोक्ता लूटा जा रहा है जिसमें विभागीय संलिप्तता से इन्कार नही किया जा सकता। खबर की सच्चाई जानने के लिए कई सरकारी दुकानों पर जाकर इस संवाददाता ने हकीकत जाना जिसमें ओवर रेटिंग की बात कैमरे मे कैद भी हो गयी।
इस सम्बन्ध मे पूछने पर जिला आबकारी अधिकारी नवीन कुमार सिंह ने ओवर रेटिंग कर बेंची गयी देशी मदिरा की बात सिरे से खारिज कर दिया। लेकिन उन्होेने यह स्वीकार किया कि प्रति शीशी अधिक मूल्य पर शराब बेंचने की सूचना हमें प्राप्त हुई थी। जाच कराने पर सूचना गलत पाया गया।
अपर जिलाधिकारी अभय कुमार मिश्र ने उपरोक्त मामले मे आश्चर्य ब्यक्त करते हुए कहा कि ओवर रेटिंग गंभीर मामला है। उन्होेने कहा कि प्रकरण की जांच कराकर कार्रवाई की जायेगी।
इस सम्बन्ध मे जिलाधिकारी सौम्या अग्रवाल ने पूछने पर बताया कि प्रकरण मेरे जानकारी मे नही था। प्रकरण गंभीर है। इसे गंभीरता से लेते हुए जांच कराकर कडी कार्रवाई की जायेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.