Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

सफाई कर्मियों ने सौंपा 8 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के जिला मंत्री मनसाराम चैधरी ने शुक्रवार को जिला पंचायत राज अधिकारी को 8 सूत्रीय मांग पत्र देकर समस्याओं के निस्तारण का आग्रह किया। मनसाराम ने बताया कि डीपीआरओ ने इस सम्बन्ध में तत्काल बड़ेे ग्राम पंचायत के साफ-सफाई कार्य में लगाये गये सफाई कर्मियों को उनके मूल तैनाती राजस्व ग्राम में कार्य करने का आदेश पत्र जारी कर दिया है।
मांग पत्र में कहा गया है कि सफाई कर्मचारी कोरोना संकट काल में सुरक्षा का पर्याप्त संसाधन न होने के बावजूद अपने दायित्वांें का पालन कर रहे हैं, कोविड संक्रमित स्थानों पर साफ-सफाई का कार्य, निर्वाचन डियूटी में टीम बनाकर साफ सफाई कार्य के बावजूद अपने दायित्वों का पालन कर रहे हैं इसके बावजूद उनका तरह- तरह से उत्पीड़न किया जा रहा है। उनका वेतन रोक देने को कहा जाता है इससे सफाईकर्मी परेशान हैं।
जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये मांग पत्र में कहा गया है कि सफाई कर्मियों का वेतन माह के पहली तारीख को उनके खाते में भेजने के साथ ही आदेश के क्रम में अन्य ग्रामों से सम्बद्ध सफाई कर्मियों को उनके तैनाती स्थल पर भेजा जाय। सफाई कर्मचारियों पर ग्रामीणों को कोरोना वैक्सीन लगवाने के लिये दबाव न बनाया जाय क्योंकि अनेक ग्रामीण वैक्सीन लगवाने का आग्रह करने पर सफाई कर्मियों से अभद्र व्यवहार करते हैं। स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों द्वारा सफाई कर्मियों को किसी भी प्रकार का सहयोग नहीं मिलता है। जो कार्य स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों का है वह सफाई कर्मियांें से न लिया जाय, सफाई कर्मियों को उनकी सुविधा के अनुसार गांवों में तैनात कर महिला व विकलांग सफाई कर्मियों को 5 किलोमीटर की परिधि में तैनात किया जाय और नगर पंचायत में कार्यरत सफाई कर्मियों को ग्राम पंचायत के राजस्व गांवों में भेजा जाय।
मांग पत्र देने वालों में उत्तर प्रदेश पंचायती राज ग्रामीण सफाई कर्मचारी संघ के अवधेश कुमार, बुधई प्रसाद, भरतराम, अनिल कुमार, सुरेन्द्र कुमार आदि शामिल रहे।