Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

नही कराये काम फिर भी ले लिए पूरे दाम

बिना खड़ंजा लगवाए ही 245700 रुपया डकार गए सेक्रेटरी व प्रधान
विकासखंड गौर में लगातार हो रही प्रधान और सेक्रेटरी के करतूतों का खुलासा
सोशल ऑडिट टीम ने पकड़ी थी अनियमितता
शिकायत मिली है जांच कराकर सरकारी धन की रिकवरी करवाई जाएगी- खंड विकास अधिकारी 

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।

सौरभ कुमार मिश्र 

बभनान (बस्ती) : गांव में बिना खड़ंजा लगवाए ही 245700 रूपए का हो गया भुगतान।इस मामले की शिकायत ग्रामीणों ने जिलाधिकारी सहित अन्य अधिकारियों को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई करने की मांग की है।
पूरा मामला बिकासखण्ड गौर के ग्राम सभा चनईपुर का है जहां पूर्व प्रधान और सेक्रेटरी का नया कारनामा सामने आया है। इनके द्वारा ग्राम सभा में खड़ंजा लगवाने के नाम पर सरकारी धनराशि निकाली तो गई लेकिन बिना खड़ंजा लगवाए ही धनराशि का बंदरबांट कर लिया गया।चनईपुर निवासी प्रवेश पांडे ने इसकी शिकायत जिला अधिकारी सहित उच्चाधिकारियों को शिकायत पत्र के माध्यम से बताया की 2018-19 में तूफानी के घर से पुबौली सरहद तक खड़ंजा निर्माण के नाम पर 245700 रुपए का भुगतान ले लिया गया है जबकि खड़ंजा निर्माण अभी तक नहीं कराया गया है। इस मुद्दे को ग्राम पंचायत की खुली बैठक में भी उठाया गया।इसकी पुष्टि 2019-20 में सोशल ऑडिट टीम ने भी किया था। शिकायत को उच्चाधिकारियों ने गंभीरता से लिया वर्तमान सचिव कौशल किशोर पांडे ने पूर्व प्रधान को नोटिस जारी करते हुए एक हफ्ते के अंदर स्पष्टीकरण उपलब्ध कराने के लिए कहा।
यह विकासखंड गौर का पहला मामला नहीं है ।अभी हाल में ही ग्राम सभा मिरवापुर में भी ऐसे ही मामले का खुलासा हुआ था ।जिसमें ग्राम प्रधान और सेक्रेटरी के द्वारा स्कूल का बाउंड्री वाल बिना बनाएं ही 356667 रूपए का भुगतान करवा लिया गया था । शिकायत पर अधिकारियों द्वारा मामले को संज्ञान में लेकर सेक्रेटरी को निलंबित कर दिया गया था।