Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समय से समस्याओं का निराकरण कर हम लोगो की कर सकते है वास्तविक सेवा: गोविंदराजू एन.एस. थाना समाधान दिवस पर डीएम,एसपी ने की जनसुनवाई नवागत मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने मण्डलायुक्त पद का ग्रहण किया कार्यभार सांसद ने किया खेल महाकुंभ तैयारियों का निरीक्षण हर मोड़ पर खरा उतर रहा है भारतीय संविधान-डा. वी.के. वर्मा बाबा साहब के बनाये संविधान को ध्वस्त करना चाहती है केन्द्र व प्रदेश सरकार: प्रेमशंकर द्विवेदी संविधान दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

बिना आदेश वेतन, मानदेय रोके जाने पर भड़के शिक्षक, दिया आन्दोलन की चेतावनी

18 से देंगे बीएएस कार्यालय पर धरना

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल के नेतृत्व में संघ पदाधिकारियों ने बुधवार को लगभग एक हजार शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों का वेतन एवं मानदेय रोके जाने के आदेश के विरोध में जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी और जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपा। संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल ने चेतावनी दिया कि यदि अकारण वेतन रोके जाने का निर्णय 17 अगस्त तक वापस न हुआ तो 18 अगस्त से बीएसए कार्यालय पर अनिश्चित कालीन धरना दिया जायेगा।
ज्ञापन सौंपते हुये संघ जिलाध्यक्ष उदयशंकर शुक्ल ने कहा कि शिक्षा विभाग बस्ती की ओर से मोहल्ला क्लास संचालित करने का कोई भी आदेश आज तक शिक्षकों को प्राप्त नहीं कराया गया, कुछ शिक्षक स्वेच्छा से गांवों में बच्चों को शिक्षित कर रहे हैं। ऐसी स्थिति में मोहल्ला क्लास ठीक से न चल पाने का दोषी शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशक नहीं है। बिना कोई आदेश जारी किये शिक्षक, शिक्षा मित्र, अनुदेशकों को मनमानी दण्ड दे दिया गया। इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। वेतन, मानदेय रोकने का आदेश पूर्णतया शिक्षक, कर्मचारी विरोधी मानसिकता का  ताजा उदाहरण है।
उन्होने चेतावनी दिया है कि यदि वेतन, मानदेय रोकने का आदेश वापस न लिया गया तो 18 अगस्त से बीएसए कार्यालय पर अनिश्चित कालीन धरना दिया जायेगा, इसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से जिला मंत्री राघवेन्द्र प्रताप सिंह, विजय प्रकाश चौधरी, शैल शुक्ल, फैजान अहमद, अभिषेक उपाध्याय, बब्बन पाण्डेय आदि शामिल रहे।