Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

पूर्व मंत्री राम प्रसाद चैधरी, परिजनों का शस्त्र लाइसेंस निलम्बित करने पर भड़के समाजवादी, सौंपा ज्ञापन

समाजवादियों का उत्पीड़न बर्दाश्त नहीं- महेन्द्रनाथ यादव

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

पूर्व मंत्री राम प्रसाद चैधरी, उनके पुत्र कविन्द्र उर्फ अतुल चैधरी एवं उनकी पत्नी कपूरा देवी का शस्त्र लाइसेंस निलम्बित किये जाने के विरोध में शनिवार को समाजवादी पार्टी पदाधिकारी, कार्यकर्ता हजारोें की संख्या में न्याय मार्ग पर एकत्र हुये। यहां से जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव के नेतृत्व में सपा नेता सरकार विरोधी नारे लगाते और पद यात्रा करते हुये मण्डलायुक्त कार्यालय पहुंचे। मण्डलायुक्त के प्रशासनिक अधिकारी को 3 सूत्रीय ज्ञापन देते हुये सपा नेताओं ने मांग किया कि पूर्व मंत्री राम प्रसाद चैधरी, उनके पुत्र व पत्नी का निलम्बित शस्त्र लाइसेंस तत्काल प्रभाव से बहाल किया जाय।
ज्ञापन सौंपते हुये सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव ने कहा कि जान बूझकर भाजपा सरकार के इशारे पर सपा नेताओं, कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न किया जा रहा है। पार्टी के वरिष्ठ नेता पूर्व मंत्री राम प्रसाद चैधरी, उनके पुत्र व पत्नी का शस्त्र लाइसेंस राजनीतिक दबाव में निलम्बित किया गया है। इसे तत्काल प्रभाव से बहाल न कराया गया तो पार्टी चुप नहीं बैठेगी। कहा कि भाजपा ने जुल्म, उत्पीड़न की सीमा पार कर दिया है। राजनीतिक दलों के नेताओं पर मुकदमें तो होते रहते हैं, इस आधार पर शस्त्र लाइसेंस निलम्बित कर दिया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसी क्रम में उपस्थित पत्रकारों से बातचीत करते हुये सपा जिलाध्यक्ष महेन्द्रनाथ यादव ने कहा कि समाजवादी उत्पीड़न से डरने वाले नहीं है, जुल्म, अत्याचार, उत्पीड़न को जनता करीब से देख रही है और वक्त आने पर उसका मुंहतोड़ जबाब देगी।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से पूर्व विधायक रामललित चैधरी, दूधराम, जितेन्द्र कुमार उर्फ नन्दू चैधरी, राजेन्द्र चैधरी, वरिष्ठ नेता चन्द्रभूषण मिश्र, राजाराम यादव, जावेद पिण्डारी, यज्ञेश पाण्डेय, सिद्धेश सिन्हा, अरविन्द सोनकर, रत्नाकर धूसिया, तालेबान यादव, अब्दुल वफा, फूलदेव यादव के साथ ही समाजवादी पार्टी के हजारों कार्यकर्ता शामिल रहे।