Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

01 नवम्बर से 28 फरवरी 2022 तक की जायेंगी धान की खरीद

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

जनपद में समर्थन मूल्य योजना के अन्तर्गत धान की खरीद 01 नवम्बर 2021 से 28 फरवरी 2022 तक की जायेंगी। उक्त जानकारी जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने दी है।  उन्होने बताया कि धान की बिक्री के लिए कृषकगण खाद्य विभाग के पोर्टल बिण्नचण्हवअण्पद पर अनिवार्य रूप से अपना पंजीकरण करा लें।
उन्होने बताया कि किसान भाई पंजीकरण के समय अपने आधार कार्ड में दिये गये मेबाइल नम्बर ही अंकित कराये। यदि मोबाइल नम्बर आधार कार्ड से लिंक नही है तो एक सप्ताह के भीतर वर्तमान मोबाइल नम्बर से आधार कार्ड को लिंक कराये। इससे एसएमएस द्वारा प्रेषित ओ0टी0पी0 को भरकर पंजीकरण की प्रक्रिया पूरी होगी।
उन्होने बताया कि पंजीकरण किसी भी सहज जनसुविधा केन्द्र, साईवर कैफे या स्वयं से खाद्य विभाग के पोर्टल पर कराया जा सकता है। पंजीकरण के लिए कम्प्यूटराइज्ड खतौनी, फोटोयुक्त पहचान पत्र, बैंक पासबुक की छायाप्रति एवं आधार कार्ड से लिंक मोबाइल नम्बर आवश्यक होगा। पंजीकरण की प्रक्रिया 30 अक्टूबर 2021 तक पूरी कराये।
इस संबंध में डिप्टी आरएमओ गोरखनाथ तिवारी ने बताया कि किसान भाई अपनी कम्प्यूटराइज्ड खतौनी का खाता संख्या पंजीकरण में दर्ज कर अपने कुल रकबे को एवं बोये गये धान के रकबे को अंकित करेंगें तथा अपने हिस्सेदारी की सही-सही घोषणा पंजीकरण में करेंगे। उन्होने अपील किया है कि किसान भाई अपना बैंक खाता सीबीएस बैंक में ही खुलवाये व आईएफएससी कोड भरने में विशेष सावधानी रखे। पीएफएमएस  माध्यम से तेज गति से भुगतान कराने के लिए किसानों को चाहिए कि वे अपने एकल बैंक खाते का नम्बर पंजीकरण में दें।