Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

दुबौलिया विकास खण्ड में धरमूपुर मुस्तकहम में बंधे का विशेष सचिव ने किया निरीक्षण

कटरिया जाकर विभिन्न गॉवो के बाढ़ पीड़ितो को राशन सामाग्री का किया वितरण

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

शासन द्वारा नामित पंचायती राज विभाग के विशेष सचिव शाहिद मंजर अब्बास रिजवी ने आज दुबौलिया विकास खण्ड में धरमूपुर मुस्तकहम में बंधे का निरीक्षण किया, बाढ़ चौकी देखा तथा कटरिया जाकर विभिन्न गॉवो के बाढ़ पीड़ितो को राशन सामाग्री का वितरण किया। वहॉ ग्रामीणो ने उनसे सुबिखाबाबू गॉव को जाने वाली सड़क बनवाये जाने की मांग किया। इस अवसर पर प्रभारी जिलाधिकारी/मुख्य विकास अधिकारी डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, एडीएम अभय कुमार मिश्रा, एसडीएम हर्रैया सुखवीर सिंह तथा अधिशासी अभियन्ता बाढ़ खण्ड दिनेश कुमार उपस्थित रहें।
उल्लेखनीय है कि शासन द्वारा जिले में विकास कार्यो की स्थिति की समीक्षा एवं अनुश्रवण के लिए वरिष्ठ अधिकारी को नामित किया गया है। इस क्रम में पंचायती राज विभाग के विशेष सचिव जिले में आये है। सर्किट हाउस में उन्होने अधिकारियों के साथ बाढ़ की स्थिति की समीक्षा किया। अपर जिलाधिकारी ने बताया कि जिले में बाढ़ से कुल 102 गॉव प्रभावित है। इसमें से 08 गॉव मैरूण्ड है। लगभग 6069 आबादी प्रभावित है। कुल 36 नावे लगायी गयी है। 16 बाढ़ चौकिया स्थापित है, जहॉ तीन शिफ्ट में अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यिटी लगायी गयी है। बाढ़ शरणालय भी 30 बनाये गये है।
एडीएम ने बताया कि बाढ़ से अभी तक कोई जन हानि या पशु हानि नही हुयी है। कुल 4924 हेक्टेयर क्षेत्रफल बाढ़ से प्रभावित हुआ है। 3874 परिवारों को क्लोरीन टेबलट, 825 को ओआरएस घोल वितरित किया गया है। बाढ़ क्षेत्र में कोरोना का कोई सक्रिय केस नही है तथा विभिन्न बीमारियों से 264 लोगों का उपचार किया गया है। तहसीलदार चन्द्रभूषण प्रताप ने बताया कि सुबिखाबाबू में 73 आई एहतमाफी में 32 तथा मुस्तकहम में 06 लोगों को राहत सामाग्री का वितरण किया गया है। राहत सामाग्री में 10 किग्रा0 आटा-चावल, सोयाबीन, आलू, मसाल, रिफाइण्ड तेल, भूना चना, अरहर की दाल, विस्किट, गुड आदि दिया जा रहा है।
अधिशासी अभियन्ता बाढ़ खण्ड ने बताया कि जिले में कुल 08 संवेदनशील बंधे है और सभी सुरक्षित है। इनकी सतत् निगरानी की जा रही है। उन्होने बताया कि लोलपुर-विक्रमजोत तटबंध, विक्रमजोत-धुसवॉ, काशीपुर-दुबौलिया, कटरियॉ-चॉदपुर, चॉदपुर-गौरा तटबंध, गौरा-सैफाबाद, सैफाबाद-कलवारी तथा कलवारी-रामपुर तटबंध की सतत् निगरानी की जा रही है। सभी तटबंध सुरक्षित है।
नोडल अधिकारी ने बंधे पर चिकित्सको को निर्देश दिया कि दवाओं का किट बनाकर और उसमें दवा का प्रयोग करने की विधि और समय लिखी हुयी पर्ची रखकर लोगों को वितरित करे ताकि वे सही तरीके से दवा का सेवन कर सकें। स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को त्वचा संक्रमण से उपचार के लिए लोशन, ओआरएस घोल, बुखार एंव डायरिया आदि का वितरण किया जा रहा था। पशु पालन विभाग द्वारा भी बाढ़ पीड़ितो को भूसा का वितरण किया गया है। विशेष सचिव महोदय ने सभी पीएचसी/सीएचसी पर सॉप काटने की दवा के उपलब्धता के बारे में जानकारी भी लिया। उन्होने राहत सामाग्री में खाद्यान्न सब्जी आदि की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने का निर्देश दिया। इस अवसर पर खण्ड विकास अधिकारी स्वेता वर्मा, ग्राम प्रधान प्रतिनिधि राजेश सिंह तथा स्थानीय जनप्रतिनिधि उपस्थित रहें।