Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

24 हजार श्रमिक परिवारों का बनेगा आयुष्मान कार्ड

– कार्ड बनाने को श्रम विभाग में लगाया जा रहा विशेष कैम्प

– कॉमन सर्विस सेंटर पर भी मिल रही कार्ड बनाए जाने की सुविधा

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

जिले के 24 हजार से ज्यादा श्रमिक व उनके परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाया जाएगा। कार्ड बनाने के लिए सोमवार से विशेष अभियान शुरू हुआ। विकास भवन स्थित श्रम विभाग के कार्यालय में विशेष कैम्प लगाकर श्रम विभाग में पंजीकृत श्रमिकों का कार्ड बनाया जा रहा है। कार्ड बनाने का यह अभियान 12 सितंबर तक चलेगा। पंजीकृत श्रमिक अपने नजदीकी सीएससी पर भी जाकर निःशुल्क आयुष्मान कार्ड बनवा सकते हैं। कार्ड धारक परिवार को एक साल में पांच लाख रुपए तक की निःशुल्क इलाज की सुविधा योजना में पंजीकृत देश के सभी सरकारी व निजी अस्पतालों में मिलेगी।

उप श्रमायुक्त बस्ती मंडल डीपी सिंह ने बताया कि विभाग में पंजीकृत 24055 श्रमिक ऐसे हैं, जिनका पंजीकरण आधार से लिंक है। ऐसे लोग व उनके परिवार का आयुष्मान कार्ड बनवाया जा रहा है। सोमवार से इस अभियान की शुरूआत हुई है। श्रम विभाग के कार्यालय में दो काउंटर बनाकर कार्ड बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि लाभार्थियों की सूची स्वास्थ्य विभाग, सभी सीएचसी व कॉमन सर्विस सेंटर वालों को उपलब्ध करा दी गई है। लाभार्थियों को उनका नाम सूची में शामिल होने व कार्ड बनवाने के लिए बुलाने के लिए फोन पर सूचना दी जा रही है। लाभार्थियों से कहा जा रहा है कि वह अपने साथ श्रम विभाग का पंजीयन प्रमाणपत्र, आधार व राशन कार्ड लेकर कैम्प में पहुंचे। यहीं पर उनका पंजीकरण कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जो लोग श्रम विभाग में पंजीकृत हैं, वह अपने नजदीकी कॉमन सर्विस सेंटर पर जाकर सूची में अपना नाम देख सकते हैं। अगर सूची में उनका नाम होगा तो कॉमन सर्विस सेंटर पर ही आयुष्मान कार्ड के लिए निःशुल्क आवेदन हो जाएगा। उन्हें श्रम विभाग के कार्यालय का चक्कर लगाने की जरूरत नहीं होगी। कार्ड बनने के बाद उक्त सीएससी संचालक द्वारा लाभार्थी को कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा।

मुख्यमंत्री जनआरोग्य के तहत मिलेगी सुविधा
आयुष्मान भारत योजना के नोडल ऑफिसर डॉ. सीएल कन्नौजिया ने बताया कि उत्तर प्रदेश भवन एवं सन्निमार्ण कर्मकार कल्याण बोर्ड में पंजीकृत श्रमिकों को मुख्यमंत्री जन आरोग्य अभियान के तहत लाभांवित किया जाना है। श्रमिकों का आयुष्मान कार्ड बनाए जाने की गति काफी धीमी थी। इसे देखते हुए शासन ने अब इस काम में श्रम विभाग को भी शामिल किया है। श्रम विभाग द्वारा पंजीकृत श्रमिकों व उनके परिवार के लोगों को कैम्प तक लाने की व्यवस्था कराई जा रही है।