Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लगातार चौथी बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेमशंकर द्विवेदी 08 अक्टबूर को लखनऊ जायेंगे कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु सपा समर्थको ने किया हवन जयंती पर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को किया नमन् उपेक्षित प्रतिमा को विकसित करने की मांग   आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को जयंती पर किया नमन गायत्री शक्तिपीठ पर महानवमी के दिन किया गया हवन, पूजन पुलिस अधीक्षक ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच किया बहादुरपुर पुलिस चौकी का उद्घाटन गैंगरेप का 1 आरोपी डाक्टर गिरफ्तार, दो अभी भी फरार सवारियां बिठा कर जा रही दो ट्रैक्टकर ट्राली समेत 3 वाहन सीज गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को पद से बर्खास्त करने की मांग

हिन्दी दिवस पर सोशल सिक्योरिटी फॉर नेशनलिस्ट ट्रस्ट ने विभूतियां को किया सम्मानित

समय के साथ  विश्व स्तर पर समृद्ध हो रही है हिन्दी- महेश शुक्ल

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

हिन्दी दिवस के अवसर पर मंगलवार को प्रेस क्लब सभागार में सोशल सिक्योरिटी फॉर नेशनलिस्ट ट्रस्ट की ओर महेन्द्र तिवारी के संयोजन में संगोष्ठी और सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।
मुख्य अतिथि भारतीय जनता पार्टी जिलाध्यक्ष महेश शुक्ल ने कहा कि समय के साथ हिन्दी विश्व स्तर पर समृद्ध हो रही है। नयी शिक्षा नीति में जो वृहद बदलाव किया गया है उससे अब छात्र हिन्दी सहित अन्य मातृ भाषाओं में तकनीकी शिक्षा हासिल कर सकेंगे। यह हिन्दी के विकास में भी मील का पत्थर साबित होगा। कहा कि हिन्दी का साहित्य पक्ष समृद्ध है और उसे तकनीकी स्तर पर मजबूत बनाने का क्रम चरणबद्ध ढंग से जारी है।
संगोष्ठी में जयन्त कुमार मिश्र, प्रदीप चन्द्र पाण्डेय ने विस्तार से विषय को रखा। संचालन करते हुये प्रेस क्लब अध्यक्ष विनोद उपाध्याय ने अनेक सन्दर्भो पर प्रकाश डाला।  वरिष्ठ साहित्यकार डॉ. राम कृष्ण लाल जगमग ने कविता के द्वारा हिन्दी की विकास यात्रा को रेंखाकित किया।
अध्यक्षता करते हुये विचारक प्रसून शुक्ल ने कहा कि पूर्वान्चल हिन्दी के विकास की थाती और गीता प्रेस उसका गौरव है। उन्होने समिति बनाकर हिन्दी के विकास पर       शोध संकलन किये जाने पर जोर दिया।
इस अवसर पर सोशल सिक्योरिटी फॉर नेशनलिस्ट ट्रस्ट की ओर से डा. रामकृष्ण लाल ‘जगमग’ जयन्त कुमार मिश्र, प्रदीप चन्द्र पाण्डेय, संदीप गोयल, धनंजय श्रीवास्तव, सन्तोष त्रिपाठी, अशोक श्रीवास्तव, अरूणेश श्रीवास्तव, देवेन्द्र पाण्डेय, अनूप मिश्र, दिनेश पाण्डेय, अनुराग श्रीवास्तव, सोहन सिंह आदि को उनके योगदान के लिये सम्मानित किया गया। इसी क्रम में अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया। आयोजक महेन्द्र तिवारी ने आगन्तुकों के प्रति आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रमोद कुमार श्रीवास्तव, दिनेश मिश्र, लवकुश सिंह, सामईन फारूकी, राजेन्द्र उपाध्याय, विशाल पाण्डेय, राजेश पाण्डेय, संजय राय, सुशील सिंह पथिक, चन्द्र मोहन, अनुकूल श्रीवास्तव, मनोज यादव, विपुल प्रकाश शुक्ल, अरशद महमूद, राजू तिवारी, मनीष पाल, हरिओम प्रसाद, राजेश मिश्र, महेश कुमार, अश्विनी शुक्ल, श्री प्रकाश श्रीवास्तव, वसीम अहमद, राज प्रकाश, सुनील कुमार मिश्र, दिलीप चन्द्र पाण्डेय, प्रवीण कुमार पाण्डेय, राकेश तिवारी, विपिन बिहारी त्रिपाठी, ब्रम्हानन्द शुक्ल, अमर सोनी, राकेश गिरी, अनिल पाण्डेय, प्रशान्त कुमार पाण्डेय, अजय कुमार श्रीवास्तव, प्रेमनाथ गौड़, बबुन्दर यादव के साथ ही बड़ी संख्या में लोग शामिल रहे।