Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
श्री अग्रसेन जी महाराज जयन्ती पर मरीजों में किया फल का वितरण दौड़ में संध्या, अंशू रहीं अव्वल, रेवरादास, निदूरी टीम का रहा दबदबा राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद साऊंघाट के  अधिवेशन में उठा पुरानी पेंशन नीति का मुद्दा 70 की उम्र में दी टीबी को मात..... बीपीएम ने गोद लेकर टीबी मरीज की की थी मदद 1 अक्टूबर को किसान मोर्चा द्वारा बृहद वृक्षारोपण कराने की बनी योजना सांसद ने किया गांव के लोगों के जीवन में गुणात्मक और रचनात्मक परिवर्तन लाने के लिए पूरी ईमानदारी और न... जनपद न्यायाधीश व जिलाधिकारी ने संयुक्त रूप से किया राजकीय सम्प्रेक्षण गृह (किशोर) का औचक निरीक्षण जिलाधिकारी कार्यालय पर होता है मुख्यमंत्री पोर्टल का मजाक मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान

राजनैतिक दबाव में जारी डा. वी.के. वर्मा के उत्पीड़न से नाराज व्यापारियों का प्रतिनिधि मंडल ने सौंपा ज्ञापन

 

द्वेष भावना से की जा रही ये कार्यवाही किसी भी दशा में उचित नही

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

राजनैतिक दबाव में जारी डा. वी.के. वर्मा के उत्पीड़न से नाराज व्यापारियों का प्रतिनिधि मंडल जिलाधिकारी कार्यालय के प्रशासनिक अधिकारी से मिला और ज्ञापन सौंपकर बेवजह किये जा रहे उत्पीड़नात्मक कार्यवाही को तत्काल रोके जाने की मांग किया। सौंपे गये ज्ञापन में कहा गया है कि राजनैतिक दबाव में गोटवा स्थित पटेल एस.एम.एच. हॉस्पिटल के संस्थापक, प्रख्यात चिकित्सक व समाजसेवी डा. वी.के. वर्मा के द्वारा स्थापित विभिन्न शिक्षा, चिकित्सा संस्थानों की जांच करवाकर उनका उत्पीड़न किया जा रहा है।

द्वेष भावना से की जा रही ये कार्यवाही किसी भी दशा में उचित नही है। डा. वर्मा हमारे संगठन के सक्रिय सदस्य हैं और समाज के हर वर्ग के लिये वे अहर्निशं भाव से सेवारत रहते हैं। कोरोना जैसी महामारी के समय एक दिन भी उन्होने मरीज देखना या जिला अस्पताल में सेवायें देना बंद नही किया। ऐसे व्यक्ति को प्रोत्साहित करने की बजाय उसका उत्पीड़न करके उसे हतोत्साहित किया जायेगा तो समाज चुप नही बैठेगा। ज्ञापन में व्यापार मंडल ने स्थानीय प्रशासन को आगाह किया है कि राजनैतिक दबाव में की जा रही उत्पीडनात्मक कार्यवाही बंद नही की गयी तो व्यापार मंडल इसे बर्दाश्त नही करेगा और जरूरत पड़ी तो आन्दोलन का रूप अख्तियार करते हुये व्यापारी समाज निर्णायक संघर्ष छेड़ने को विवश होगा। ज्ञापन सौंपने वालों में जिलाध्यक्ष आनंद राजपाल, धर्मेन्द्र चौरसिया, सूर्यकुमार शुक्ल, शम्भूनाथ आदि मौजूद रहे।