Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ-शिशु स्वास्थ्य के लिए मिसाल बनीं डॉ शशि सिंह 1 से 31 अक्टूबर तक चलाया जाएगा विशेष संचारी रोग नियन्‍त्रण अभियान परिवहन निगम का बस स्टेशन शहर के बाहर बनवाने का प्रस्ताव शासन को भिजवाने का निर्देश डीएम ने किया ग्राम प्रधान, पंचायत सचिव तथा पंचायत सहायकों से गांव के लोगों के जीवन में परिवर्तन लाने... जनप्रतिनिधियों एवं अधिकारियों द्वारा 630 आंगनबाड़ी केंद्र गोद लिए जाने से होगा व्यवस्थाओं मे सुधार: स... अपने को एकाग्र करते हुए लक्ष्य पर ध्यान व लक्ष्य को हासिल कर परिणाम दें: डीआईजी प्राथमिक शिक्षक संघ रूधौली का त्रैवार्षिक अधिवेशन सम्पन्न राष्ट्र की उन्नति में पत्रकारों का योगदान अहम-डीएम पति की क्रूरता को नही सहन कर पायी विवाहिता फिर मौत को लगाया गले, आरोपी पति गिरफ्तार मुंबई के व्यापारी ने भाजपा सांसद व फिल्म अभिनेता रवि किशन शुक्ला के हड़प लिए 3.25 करोड़ रुपये, मुकदम...

सहारा इण्डिया मे धन जमा करने वाले उपभोक्ताओं का आक्रोश चरम् पर, कभी भी बिगड सकता है कानून व्यवस्था

– जमाकर्ताओं के आक्रोश देख टस से मस नही हो रहा है सहारा इण्डिया प्रबन्धन

– इधर उपभोक्ताओं मे कोढ मे खाज का काम कर रहा है रीजनल मैनेजर शकील अहमद की बेसुरी गाली

– आगामी 11 अक्टूवर को धन वापसी के लिए निर्णायक आन्दोलन छेडेगा आॅल इण्डिया जन कल्याण संघर्ष मोर्चा

कबीर बस्ती न्यूज बस्ती।उ0्रप्र0।

जनपद मे सहारा इण्डिया मे धन जमा करने वाले उपभोक्ताओं का आक्रोश इस समय चरम पर है। हजारों की संख्या मे जमाकर्ता अभयदेव शुक्ल के अगुवाई मे अपने-अपने जमा धन की वापसी की मांग जोर आजमाईश करने मे लगेे है। अपने धन की वापसी की उम्मीद छोड चुके उपभोक्ता अब आरपार की निर्णायक संघर्श छेडने के मूड मे दिख रहे हैं। गत दिनों से भारी संख्या मे जमाकर्ता सहारा इण्डिया प्रबन्धन के विरूद्व कोतवाली मे मुकदमा दर्ज कराने का लगातार प्रयास करते नजर आ रहे हैं। हजारों जमाकर्ताओं का आक्रोश देखकर पुलिस प्रशासन भी सांसत मे पड गया है। उनका आक्रोश कभी भी कहर बन कर प्रशासन पर फूट सकता है। पिछले दो सालों से कोविड-19 का मार झेल रहे जमाकर्ता अपने रोजगार तक गवां चुके हैं जिसमें धन का आभाव कोढ मे खाज का काम कर रहा है। यदि जमाकर्ताओं का धन वापस मिल जाये तो वे शयद नये तरीके से अपने व्यवसाय को पुनः  कर सकें। जमाकर्ताओं का आक्रोश अभी प्रारम्भिक स्तर पर है जिसे अभी शहर कोतवाल शिवाकान्त  मिश्र ही झेल रहे है। इधर सहारा इण्डिया का रीजनल मैनेजर शकील अहमद जमाकर्ताओं द्वारा धन वापसी की मांग पर उनका भुगतान करने के बजाय दिल दिमाग को हिला देने वाला सुन्दर सुन्दर गालियों से नवाज रहा है। जिससे उपभेक्ताओं का आक्रोश चरम पर है। जिसकी भयाहवता आने वाले 11 अक्टूवर को आगे देखने को मिल सकती है।

इधर आॅल इण्डिया जन कल्याण संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष अभयदेव शुक्ल एवं जिलाध्यक्ष् इजहार अहमद के नेत्त्व मे हजारों की संख्या मे उपभोक्ताओं ने जमा धन की वापसी को लेकर निर्णायक संघर्श ऐलान कर दिया है।

संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष ने अभयदेव शुक्ल ने कहा कि पूरे देष मे अपने धन के वापसी को लेकर परेशान है। सहारा इण्डिया उन लाचार बेबस उपभोक्ताओं का फूटी कोडी वापस करने को तैयार नही है। दूसरे तरफ सत्ता पक्ष एवं विपक्ष राजनैतिक दल रहस्यमयी चुप्पी साधे हुए है। उन्होंने कहा कि आज जमाकर्ता अपना धन वापस पाने के लिए सहारा इण्डिया के रीजनल मैनेजर शकील अहमद का गाली खाने के लिए विवश है। सहारा इण्डिया के अधिकारी उपभोक्ताओं को धमका रहे है। श्री शुक्ल ने कहा कि सहारा इण्डिया का यह कृत्य उपभोक्ता कत्तई बर्दाश्त नही करेगा। इसके लिए अपने वाले 11 अक्टूवर को निर्णायक जन आन्दोलन छेडा जायेगा जिसमें जिले के हजारों उपभोक्ता भाग लेंगे।
आदर्श उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार मण्डल के महामंत्री सूर्य प्रकाश शुक्ल  ने इस आन्दोलन का समर्थन करते हुए कहा कि आगामी 11 अक्टूवर को राजकीय इण्टर कालेज के मैदान मे जिले के हजारों जमाकर्ता आन्दोलन मे भाग लेंगे।