Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

जलवायु सहिश्णु खेती आज की आवश्यकता-पीएम

कबीर बस्ती न्यूज बस्ती।उ0्रप्र0।

आजादी के 75 वें वर्ष आजादी का अमृत महोत्सव में आचार्य नरेंद्र देव कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय अयोध्या द्वारा संचालित कृषि विज्ञान केंद्र बस्ती में आज दिनांक 28 सितंबर 2021 को माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा जलवायु अनुकुल कृषि तकनीको एवं पद्वतियों के व्यापक अभियान के तहत पूरे देश के किसानों के साथ संवाद स्थापित किया गया तथा विशेष गुणोंवाली 35 फसल प्रजातियों का विमोचन आईसीएआर -राष्ट्रीय जैविक स्ट्रेस प्रबंधन संस्थान रायपुर का उद्घाटन तथा स्वच्छ हरित परिसर पुरस्कार का वितरण किया गया जिसका सजीव प्रसारण किसानों एवं कृशक महिलाओं को दिखाया गया।

इसके पश्चात जलवायु परिवर्तन खेती पर गोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें केंद्र अध्यक्ष डा. एस. एन. सिंह ने अवगत कराया कि बदलते जलवायु परिवर्तन के अनुसार खेती अपनाने की आवश्यकता है । इसी को दृष्टिगत रखते हुए माननीय प्रधानमंत्री जी ने सोयाबीन, मूंग, चना धान आदि पोषक गुणवत्ता युक्त बायोफोर्टीफाइड एवं वातावरण के अनुकूल प्रजातियों का विमोचन किया ,जिससें फसलों की उत्पादन एवं उत्पादकता मौसम के विपरीत प्रभाव के कारण प्रभावित ना हो और परिवार के सभी सदस्यों को पोषण युक्त आहार मिल सके।
इस गोष्ठी में गृह वैज्ञानिक बीना सचान ने विभिन्न मौसम में सब्जी एवं फल उत्पादन, गृह वाटिका में सब्जी एवं फल उत्पादन, पशुपालन विशेषज्ञ डॉ डी के श्रीवास्तव ने बदलते जलवायु परिवर्तन में पशुओं का रखरखाव कैसे करें ,डॉ प्रेम शंकर ने जलवायु परिवर्तन के कारण फसलों में कीटों एवं रोगों की रोकथाम, फसल वैज्ञानिक आर बी सिंह ने काला नमक उत्पादन तकनीक एवं विशेषताओं पर विस्तृत जानकारी प्रदान की ।
इस कार्यक्रम में जनपद के सैकड़ों किसान जैसे कि श्रीमती अंजनी सिंह, श्रीमती गीता सिंह एवं तथा केंद्र के कर्मचारी निखिल सिंह व जेपी शुक्ला आदि उपस्थित रहे।