Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

व्यापारी मनीष की हत्या के विरोध में सपा ने सौंपा ज्ञापन

दोषियों पर कार्रवाई, परिजनांे को एक करोड़ की सहायता, पत्नी को नौकरी देने की मांग

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

समाजवादी पार्टी व्यापार सभा जिलाध्यक्ष रघुननन्दन राम साहु के नेतृत्व में गुरूवार को पदाधिकारियों, कार्यकर्ताओं ने जिलाधिकारी के प्रशासनिक  अधिकारी के माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन देकर कानपुर के व्यापारी बर्रा निवासी मनीष गुप्ता के पुलिसिया पिटाई से मौत मामले में गोरखपुर के दोषी पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी सहित कड़ी कार्रवाई की मांग किया।
ज्ञापन सौंपते हुये रघुननन्दन राम साहु ने कहा कि मुख्यमंत्री के गृह जनपद गोरखपुर में जिस प्रकार से पुलिस कर्मियों ने होटल में जांच के बहाने मनीष गुप्ता की हत्या कर दिया इससे स्पष्ट है कि प्रदेश में कानून का राज खतरे में है। कहा कि जब रक्षक ही भक्षक बन जायंेंगे तो लोग किस पर भरोसा करेें। यह स्वयं में वर्दीधारी हत्यारों द्वारा अंजाम दिया गया शर्मनाक मामला है,  इससे व्यापारी सहित समाज के सभी वर्गो में रोष है। मांग किया कि व्यापारी मनीष गुप्ता के हत्या मामले में दोषी पुलिस कर्मियों को गिरफ्तार कर उन्हें कड़ा दण्ड दिया जाय। पीड़ित परिवार को एक करोड़ रूपये के मुआवजे के साथ ही मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी दिया जाय।
राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से सपा नेता सिद्धेश सिन्हा, अरविन्द सोनकर, अब्दुल वफा, बलराम यादव, इकबाल अहमद, राजू, सौरभ गुप्ता, भोला यादव, रिकूं यादव, राम गोपाल कसौधन, अलीस खान, इरशाद खान, अखिलेश चौरसिया, हनुमान चौधरी, रवि चौधरी, वीरेन्द्र चौधरी, गुरूमीत सिंह, अखिलेश यादव, सुशील कुमार, मोनिश खान, अभय जायसवाल के साथ ही सपा के अनेक पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामिल रहे।