Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

जयन्ती पर याद किये गये महाराज अग्रसेन

बस्ती । अग्रसेन जयंती के अवसर पर वैश्य अग्रहरि समाज के अध्यक्ष सुभाष अग्रहरि के संयोजन में परम्पराागत  ढंग से ब्लाक रोड स्थित अग्रहरि भवन पर मनाया गया।
सुभाष अग्रहरि ने बताया कि महाराज अग्रसेन एक पौराणिक कर्मयोगी लोकनायक, समाजवाद के प्रणेता, युग पुरुष, राम राज्य के समर्थक एवं महादानी माने जाते थे। आपका जन्म द्वापर युग के अंत और कलयुग के प्रारंभ में हुआ था। वह भगवान श्री कृष्ण के समकालीन थे। महाराजा अग्रसेन का जन्म नवरात्रि के प्रथम दिवस, आश्विन शुक्ल प्रतिपदा को हुआ। बताया कि भगवान अग्रसेन का भगवा ध्वज अहिंसा और सूर्य का प्रतीक है तथा सूर्य की 18 किरणें 18 गोत्रों का प्रतिनिधित्व करती हैं। ध्वज में चांदी के रंग की एक ईंट और एक रुपया वैभव, भाईचारे एवं परस्पर सहयोग का प्रतिनिधित्व करते हैं।
इस अवसर पर दीप प्रज्जवल के साथ ही राम गोपाल, जगदीश अग्रहरि आदि ने महाराज अग्रसेन के जीवन वृत्त के बारे में विस्तार से जानकारी दी। विधि विधान से पूजन अर्चन के साथ ही लोगों ने महाराज अग्रसेन को नमन् किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से प्रदीप अग्रहरि, सन्तोष अग्रहरि, पवन अग्रहरि, शिव कुमार अग्रहरि, शैलेष अग्रहरि, श्रुति अग्रहरि, गीता प्रकाश अग्रहरि, संगीता देवी, मंजू देवी, स्वाती अग्रहरि, सुरेश अग्रहरि, भगवत अग्रहरि, कुलभूषण अग्रहरि के साथ ही अग्रहरि समाज के लोग उपस्थित रहे।