Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

विश्वकर्मा महासभा की बैठक में राजनीतिक भागीदारी के लिये एकजुटता पर जोर

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

रविवार को अखिल भारतीय विश्वकर्मा महासभा की मासिक बैठक उमेश चन्द्र विश्वकर्मा की अध्यक्षता में अमहट घाट स्थित विश्वकर्मा मंदिर परिसर के कार्यालय में सम्पन्न हुई। बैठक में आगामी 14 से 16 नवम्बर तक कुशीनगर के खड्डा में आयोजित होने वाले राष्ट्रीय अधिवेशन में सहभागिता पर विचार किया गया। अधिवेशन में बस्ती से 15 पदाधिकारी हिस्सा लेंगे।
बैठक को सम्बोधित करते हुये अध्यक्ष उमेश चन्द्र विश्वकर्मा ने कहा कि विश्वकर्मा समाज को अपने राजनीतिक, सामाजिक, आर्थिक मोर्चे पर अपनी एकजुटता बनाये रखनी होगी। विश्वकर्मा समाज की राजनीति के क्षेत्र में भागीदारी मजबूत हो इसके लिये समाज के सभी लोगों को मिलकर प्रयास करना होगा।
विश्वकर्मा महासभा की मासिक बैठक में संगठन मंत्री रामजनम विश्वकर्मा, कोषाध्यक्ष श्याम किशोर आदि ने कहा कि एकजुटता के बिना राजनीतिक क्षेत्र में भागीदारी संभव नहीं है। विश्वकर्मा समाज के लोग अपने महत्व को समझे।
बैठक में मुख्य रूप से रामकेश विश्वकर्मा, मदनसेन शर्मा, पं. मेहीलाल विश्वकर्मा, रामअचल शर्मा, विजय कुमार विश्वकर्मा, दशरथ विश्वकर्मा, बलराम विश्वकर्मा, नन्दकिशोर  विश्वकर्मा, राजेश विश्वकर्मा, दीनानाथ शर्मा, रामरूप शर्मा, रामजी शर्मा, लालजी शर्मा, देवेन्द्र विश्वकर्मा, कपिलदेव विश्वकर्मा, प्रेमनाथ विश्वकर्मा के साथ ही विश्वकर्मा महासभा के अनेक पदाधिकारी, सदस्य उपस्थित रहे।