Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
टीकाकरण में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर 06 प्रभारी चिकित्साधिकारियों तथा 04 खण्ड विकास अधिकारि...  धान क्रय केन्द्र के संचालन में शिथिलता एवं लापरवाही पाये जाने पर गिरा तीन अधिकारियों पर कार्यवाही क... अगर बेटा परेशान करे तो मां-बाप डायल करें 14567 एल्डर हेल्पलाईन नम्बर कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्तियों की मृत्यु पर डीएम ने वितरित किया राज्य सरकार द्वारा घोषित रू0 50... समान वेतन, अधिकारों की मांग को लेकर संविदा कर्मियों ने मुख्यमंत्री को भेजा 7 सूत्रीय ज्ञापन व्यापारी से 10 लाख की रंगदारी मांगने वाले 3 अभियुक्त पहुंचे जेल छुट्टी बिताकर लौटने वालों की कोविड जांच के बाद ही होगी ज्वाइनिंग खेल के आयोजन में योगदान करने वालों को मिला पुरस्कार, प्रमाण-पत्र 45 बच्चों को ऑपरेशन से मिला नया जीवन महामहिम राज्यपाल श्रीमती आनन्दीबेन पटेल का जिले मे आगमन को लेकर तैयारियों की समीक्षा

आधा दर्जन से ज्यादा मोटरसाइकिलों को छुअ्टा सांड ने रौंद कर पहुंचायी हजारों की क्षति, अधिशाषी अधिकारी के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर न्याय दिलाने की मांग

नगर पालिका की उदासीनता बना लोगों के जान का आफत

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

मीडिया दफ्तर के सामने खड़ी आधा दर्जन से ज्यादा मोटरसाइकिलों को छुअ्टा सांड के द्वारा रौंदकर क्षति पहुंचाने के मामले में पत्रकार अशोक श्रीवास्तव ने पुलिस अधीक्षक को प्रार्थना पत्र देकर नगरपालिका के अधिशाषी अधिकारी के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर न्याय दिलाने की मांग किया है। पुलिस अध्ीक्षक एवं प्रभारी निरीक्षक कोतवाली को भेजे रजिस्टर्ड प्रार्थना पत्र में अशोक श्रीवास्तव ने लिखा है कि उनके मालवीय रोड पर एलआईआईसी आफिस के निकट स्थित कार्यालय पर 16 नवम्बर की शाम करीब 06.00 बजे दफ्तर के सामने करीब आधा दर्जन मोटरसाइकिलें खड़ी थीं।

अचानक दो छुट्टा सांड आपस में लड़ते हुये आये और वाहनों को धकेलते हुये आगे निकल गये। मौके पर कई वाहन क्षतिग्रस्त हो गये। इसमे मेरी मोटरसाइकिल यूपी 51 एवी 7674 में भी नुकसान हुआ है। यह नगरपालिका प्रशासन की लापरवाही के चलते हुआ है। आये दिन ऐसी घटनायें शहरी क्षेत्र में हो रही हैं। अशोक श्रीवास्तव ने यह भी लिखा है कि मामले में एफआईआर दर्ज कराने के लिये तहरीर लेकर कोतवाली गया, लेकिन प्रभारी निरीक्षक ने यह कहकर वापस लौटा दिया कि हम सरकारी कर्मचारी के खिलाफ एफआईआर नही दर्ज करेंगे। अशोक श्रीवास्तव ने प्रकरण को गंभीर और व्यापक जनहित से जुड़ा बताते हुये मुकदमा दर्ज करने का निर्देश जारी करने का आग्रह किया है जिससे उन्हे न्याय मिले और लापरवाह अधिकारियों और कर्मचारियों को सबक मिल सके।

Leave A Reply

Your email address will not be published.