Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
रेलवे से रिटायर्ड इंजीनियर को दबंग ठेकेदार ने अपने दो साथियों के साथ रात भर बंधक बनाकर पीटा राखी बंधवाने आए एक युवक की दो लोगों ने ब्लेड से रेत दिया गला, आरोपियों के तलाश मे पुलिस राज्य कर्मचारियों ने निकाली तिरंगा यात्राः डीएम ने बढाया हौसला एपीएन के छात्रों ने निकाली तिरंगा यात्रा पोषण व पुनर्वास केन्‍द्र में भर्ती बच्‍चों ने एक दूसरे को बांधी राखी गर्भावस्था में महिलाएं हो सकती हैं वैनिशिंग ट्विन सिंड्रोम की शिकार नगर पंचायतों में जलकर प्राप्त करने के लिए डीएम ने दिए निर्देश बेगम खैर गर्ल्स इण्टर कालेज की छात्राओं ने निकाली तिरंगा यात्रा 14 अगस्त को आयोजित हो रहे तिरगां यात्रा को लेकर तैयारियों पर चर्चा आज मेट्रो ट्रेन मॉडल का वर्चुअल अनावरण करेंगे मुख्यमंत्री योगी

01 जुलाई से 30 सितंबर तक संचालित किया जाएगा संभव अभियान,चिन्हित किये जायेंगे अतिकुपोषित बच्चे : सीडीओ

कबीर बस्ती न्यूज:

बस्ती: महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा 01 जुलाई से 30 सितंबर तक संभव अभियान संचालित किया जाएगा, जिसके अंतर्गत अतिकुपोषित बच्चों को चिन्हित किया जाएगा तथा उन्हें उचित पोषण प्रदान करके स्वस्थ किया जाएगा। मुख्य विकास अधिकारी डॉ. राजेश कुमार प्रजापति की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में जिला पोषण मिशन की बैठक संपन्न हुई। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी विभाग कार्ययोजना तैयार करके शासन के निर्देशानुसार कार्य करें। उन्होंने बताया कि जुलाई माह में स्तनपान प्रोत्साहन, अगस्त माह में ऊपरी आहार तथा सितंबर माह पोषण माह के रूप में मनाया जाएगा।
उन्होंने कहा कि अभियान में अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों- कर्मचारियों को जिलाधिकारी द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा। 09 से 22 अक्टूबर तक बाहरी एजेंसी द्वारा अभियान के दौरान की गई गतिविधियों का मूल्यांकन कराया जाएगा। छूटे हुए लाभार्थियों के लिए दिसम्बर माह में माप अप राउंड भी चलाया जाएगा। उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान सैम, मैम, गंभीर अल्पवजन तथा लो बर्थ वेट बच्चों के चिन्हांकन, संदर्भन, उपचार एवं प्रबंधन के साथ-साथ कुपोषण से बचाव हेतु सामुदायिक गतिविधियों का आयोजन किया जाएगा।
उन्होंने कहा कि अभियान के दौरान स्वयं सहायता समूह एवं अन्य माताओं द्वारा रेसिपी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाएगा। अतिकुपोषित बच्चों के परिवार को मनरेगा का जॉब कार्ड, खाद्यान्न के लिए राशन कार्ड उपलब्ध कराया जाएगा। पशुपालन विभाग द्वारा दुधारू गाय उनके सुपुर्दगी में दी जाएगी। सर्वे के दौरान आंगनबाड़ी ऐसे पात्र परिवारों की सूची तैयार कर लेंगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जांच और उपचार की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। पंचायती राज विभाग द्वारा ग्राम पंचायत डब्लपमेंट प्लान के तहत जन जागरूकता एवं अन्य संसाधन उपलब्ध करायेंगा।
बेसिक शिक्षा स्कूलों में प्रार्थना के समय बच्चों को पोषण के बारे में जानकारी दी जायेंगी। उद्यान विभाग पोषण वाटिका की स्थापना के लिए फलदार एवं सहजन के पौधे की व्यवस्था करेंगा। आयुष विभाग एनिमिया से बचाव के लिए औषधीय पौधो के बारे में जन जागरूकता करेंगा।
जिला कार्यक्रम अधिकारी सावित्री देवी सभी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बताया कि संभव अभियान की बाहरी संस्था द्वारा मूल्यांकन किया जाएगा। इसमें शिथिलता पाए जाने पर दोषी अधिकारी-कर्मचारी के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। बैठक में एस.आई.सी. डॉ. आलोक वर्मा, एसीएमओ डॉ. सीके वर्मा, डीआईओएस डी.एस. यादव, बीएसए जगदीश शुक्ला, रामदुलार, डॉ. अश्वनी तिवारी, एस.एस. सिंह, यूनिसेफ से अनीता सिंह, जिले के सभी सीडीपीओ, सुपरवाइजर, मुख्य सेविका एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।