Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
कुपोषण के साथ बीमारियों से भी बचाती है कीड़े मारने की दवा माध्यमिक शिक्षक संघ का वार्षिक सम्मेलन एवं विचार गोष्ठी सम्पन्न 7 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान 13 सेः भूमि पूजन में उमड़े श्रद्धालु पूंजीपती मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिये देश के आर्थिक ढांचे का सत्यानाश कर रहे हैं पीएम: प्रेमशंक... प्रभारी मंत्री राकेश सचान 08 फरवरी को बस्ती में मण्डल में स्थापित किए जायेंगे 31 एग्री जंक्शन निर्माण कार्य अपूर्ण पाये जाने से डीएम खफा: वेतन रोकने के निर्देश “बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं‘‘जन जागरूकता वाहन को डीएम ने दिखाई हरी झण्डी चित्रांश क्लब की ओर से ‘एक शाम शहीदों के नाम’’ कार्यक्रम आयोजित नहीं सुनी जा रही हैं पेन्शनर्स की समस्याः दिया आन्दोलन की चेतावनी

रामराज्य सुशासन का प्रतीक: मण्डलायुक्त

सुशासन सप्ताह के अन्तर्गत जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन

कबीर बस्ती न्यूजः

बस्ती :  सुशासन सप्ताह के अन्तर्गत जिला स्तरीय कार्यशाला का आयोजन भारत रत्न पं0 अटल बिहारी बाजपेयी प्रेक्षागृह में किया गया। इसके मुख्य अतिथि मण्डलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने कहा कि रामराज्य सुशासन का प्रतीक है, जिसमें सभी शिक्षित हो, कोई रोगी ना हो, कोई गरीब ना हो तथा एक दूसरे के सुख दुख में शामिल हो। उन्होने कहा कि वर्तमान समय में अधिकारी दूसरों की शिकायत या समस्या सुनते समय स्वयं को उनके स्थान पर रख कर विचार करें कि किस प्रकार का आचरण एवं व्यवहार होना चाहिए। किसी भी शिकायतकर्ता या समस्याग्रस्त व्यक्ति के आने पर मधुर व्यवहार करें तथा यथासंभव उसका सहयोग करें।
जिलाधिकारी प्रियंका निंरजन ने कहा कि उन्होने मुख्यमंत्री रहते हुए जमींदारी प्रथा का उन्मूलन किया, लेखपाल पद का सृजन किया। केन्द्र में गृह मंत्री रहते हुए उन्होने मण्डल और अल्पसंख्यक आयोग की स्थापना किया। वित्त मंत्री और उप प्रधानमंत्री पद पर कार्य करते हुए उन्होने नाबार्ड की स्थापना किया।
सीडीओ डा. राजेश कुमार प्रजापति ने कहा कि चौ0 चरण सिंह स्पष्ट वक्ता तथा दृढ संकल्पित व्यक्ति थे। ऋण निर्मोचन विधेयक पास कराकर उन्होने लाखों किसानों को ऋणमुक्त किया। प्रदेश के 27 हजार पटवारियों से त्याग पत्र दिलाकर उन्होने लेखपाल पद का सृजन कर नयी भर्ती करके किसानों को पटवारी आतंक से मुक्ति दिलाया। कार्यक्रम को पीडी कमलेश सोनी, डीडीओ अजीत श्रीवास्तव, संयुक्त निदेशक कृषि अविनाश चन्द्र तिवारी, उप निदेशक कृषि अनिल कुमार ने भी सम्बोधित किया।
कार्यक्रम का संचालन भूमि संरक्षण अधिकारी डा. राजमंगल चौधरी ने किया। इस अवसर पर सीआरओ नीता यादव, सहायक निदेशक रेशम, नितेश सिंह, एआरकोआपरेटिव आशीष श्रीवास्तव, गन्ना अधिकारी श्रीमती मंजू सिंह तथा विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।