Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग पीएम आयुष्मान योजना: पहले से बना था कार्ड, मिला आयुष्मान का वरदान आदर्श पौधशाला तथा राजकीय सार्वजनिक उद्यान चंगेरवा का डीएम ने किया निरीक्षण डीएम के निर्देश पर रूधौली तहसील मे चला बृहद अवैध अतिक्रमण हटाओ अभियान डीएम ने दिया वाल्टरगंज चीनी मिल के कर्मचारियों का वेतन दिलाने का आश्वासन बीआरसी में तीन दिवसीय टीएलएम निर्माण कार्यशाला शुरू संविदा कर्मियों से परिषदीय शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों की जांच का मामला गरमाया गांव – गांव में परिवार नियोजन की अलख जगा रहा है सारथी वाहन

बलौदाबाज़ार जिला के लगभग 80% छात्र परीक्षा फॉर्म नहीं भर पाए

माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं एवं बारहवीं की पूरक एवं अवसर परीक्षा फॉर्म लगभग बलौदा बाजार जिले के 80% छात्र-छात्राएं आवेदन नहीं भर पाए कारण स्कूल एवं परीक्षा केंद्र बंद होने तथा गांव में मोबाइल नेटवर्क सही तरीके से नहीं चलने के कारण सूचना के अभाव के चलते कई छात्र-छात्राएं परीक्षा फॉर्म का आवेदन नहीं कर पाए
कोरोना महामारी के कारण बच्चे घर से बाहर नहीं निकलने के कारण उनको जानकारी नहीं हो पाई तथा लगभग 3 माह से नेटवर्क प्रॉब्लम होने के कारण छात्र छात्राओं को जानकारी नहीं हो पाई इसकी वजह फॉर्म नहीं भर पाए लगभग 20% लोग ही परीक्षा का फॉर्म भर पाए छात्र भरत लाल साहू ने बताया घर पर पर ठीक से नेट मोबाइल पर नहीं चलता है तथा इस बार माध्यमिक शिक्षा मंडल ने लेट फीस का प्रावधान भी नहीं रखा है जबकि हर परीक्षा फॉर्म लेट फीस के साथ पटाने का भी प्रधान रहता है परंतु इस बार पहली बार लेट फीस का प्रावधान नहीं रखा है जिससे छात्र छात्राओं को बहुत परेशानी हो रही है 25 तारीख से फॉर्म ऑनलाइन भरना शुरू हुआ था तथा 31 तारीख को समाप्त हुआ परंतु 25 तारीख को तलवार रविवार हो जाने के कारण लगभग सभी चॉइस सेंटर एवं कंप्यूटर सेंटर जहां ऑनलाइन फॉर्म भरा जाता है बंद था तथा कई कंप्यूटर सेंटर में नेट के प्रॉब्लम के कारण फॉर्म नहीं भरा जा सका छात्र लता ने बताया दो तीन बार चॉइस सेंटर फॉर्म भरने गई परंतु हर बार वर्क गांव में नहीं होने के कारण मेरा फॉर्म नहीं भरा गया पता छात्र-छात्राओं कहना है शाम की तारीख बढ़ाई जाए तथा लेट फीस का जो प्रावधान खत्म कर दिया गया है उसे फिर से लागू किया जाए