Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
ललितपुर: पाली थाने में किशोरी से दुष्कर्म मामले में शासन के निर्देश पर एसआईटी का गठन, जांच शुरू अर्यांश ने अपने नए रैप सांग ‘लाइफ‘ में किया 20 भाषाओं का प्रयोग, डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर किया सम्... राष्ट्रीय राजमार्ग पर लगेंगे सीसी टीवी कैमरे, आटोमेटिक मशीन करेगी दनादन चालान, कवायद शुरू राजकीय कृषि बीज भण्डार से उन्नतशील प्रमाणित बीज प्राप्त कर उत्पादकता में वृद्धि कर सकते है किसान भारतीय कुर्मी महासभा ने राज्यपाल को भेजा 2 सूत्रीय ज्ञापन उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के त्रैवार्षिक अधिवेशन में उठे मुद्दे गैर मान्यता प्राप्त विद्यालयों में लगाए गए सरकारी ताले राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन 14 मई को सामूहिक दवा सेवन कार्यक्रम में मददगार बनेगा नगर निगम और नागरिक सुरक्षा कोर खाद्य सुरक्षा विभाग ने छापेमारी कर एकत्र किया नमूना, भेजा जांच के लिए प्रयोगशाला

कैली अस्पताल में बनाया जाएगा कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल

बस्ती।  वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज से संबद्ध ओपेक कैली अस्पताल के 5 मंजिला नए भवन में कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल बनाया जाएगा। जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने आज इसका निरीक्षण करके 15 मई तक कार्य पूरा करने के लिए कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम को निर्देशित किया है। उन्होंने 100 बेड पर ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए पाइप लाइन लगाने तथा दोनों लिफ्ट चालू करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पूरे भवन में आग बुझाने की व्यवस्था पूरी कराएं।
उल्लेखनीय है कि लगभग 200 करोड़ की लागत से निर्माण हो रहे इस पांच मंजिले भवन में लगभग 250 बेड का अस्पताल संचालित होगा। इसमें  कुल 9 ऑपरेशन थिएटर बनेंगे। पांचवी मंजिल पर 80 बेड का वार्ड होगा जिसमें एक साथ 80 मरीजों को भर्ती करके उनका इलाज किया जा सकेगा।
सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला ने बताया कि इस अस्पताल के लिए आवश्यक सामग्री के लिए शासन को डिमांड भेज दी गई है। अनुमत प्राप्त होते ही निर्धारित कंपनी से सामान की आपूर्ति हो जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी ने फाइल तलब करते हुए विभाग के प्रमुख सचिव से शीघ्र सामग्री की अनुमति देने के लिए अर्ध शासकीय पत्र भिजवाने तथा फोन पर भी अनुरोध करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिया कि जनरेटर, अग्निशमन, वेंटिलेटर का काम 15 मई तक पूरा कराएं। इसके साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन उपलब्ध कराने वाली कंपनी के अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि साथ ही साथ ऑक्सीजन हेतु पाइप लाइन बिछाने का कार्य प्रारंभ करें ताकि समय से उसको भी पूरा किया जा सके।
निरीक्षण के दौरान प्राचार्य डॉ0 नवनीत कुमार, सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला, अर्थ एवं संख्या अधिकारी टीपी गुप्ता, राजकीय निर्माण निगम के अभियंता तथा ऑक्सीजन पाइप लाइन का कार्य करने वाली संस्था के अधिकारी भी मौजूद रहे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.