Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
मातृ शिशु स्वास्थ्य सेवाओं के लिए वरदान है एमसीपी कार्ड नवजात शिशु में जन्‍मजात विकृतियों को दूर करता है फोलिक एसिड गुरू जी की अकड पडी ढीली कर दिए गये निलम्बित दहेज उत्पीड़न के दो मामलों में 10 ससुरालियों पर केस पेन्शनर एसोसिएशन की बैठक 5 को पुरानी पेशन नीति बहाली की मांग को लेकर राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंपेगे शिक्षक युवाओं के मानसिक स्वास्थ्य एवं जीवन कौशल पर विशेष कार्यशाला का शुभारम्भ इलाज के दौरान समझा टीबी मरीजों का दर्द,  अब बने मददगार  नोडल अधिकारी नीना शर्मा ने रुधौली ब्लाक में चौपाल लगाकर सुनीं समस्याऐ जिले की नोडल अधिकारी के निरीक्षण में सब कुछ मिला गुड ही गुड

कैली अस्पताल में बनाया जाएगा कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल

बस्ती।  वशिष्ठ मेडिकल कॉलेज से संबद्ध ओपेक कैली अस्पताल के 5 मंजिला नए भवन में कोविड-19 का एल-1 हॉस्पिटल बनाया जाएगा। जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने आज इसका निरीक्षण करके 15 मई तक कार्य पूरा करने के लिए कार्यदायी संस्था राजकीय निर्माण निगम को निर्देशित किया है। उन्होंने 100 बेड पर ऑक्सीजन पहुंचाने के लिए पाइप लाइन लगाने तथा दोनों लिफ्ट चालू करने का भी निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि पूरे भवन में आग बुझाने की व्यवस्था पूरी कराएं।
उल्लेखनीय है कि लगभग 200 करोड़ की लागत से निर्माण हो रहे इस पांच मंजिले भवन में लगभग 250 बेड का अस्पताल संचालित होगा। इसमें  कुल 9 ऑपरेशन थिएटर बनेंगे। पांचवी मंजिल पर 80 बेड का वार्ड होगा जिसमें एक साथ 80 मरीजों को भर्ती करके उनका इलाज किया जा सकेगा।
सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला ने बताया कि इस अस्पताल के लिए आवश्यक सामग्री के लिए शासन को डिमांड भेज दी गई है। अनुमत प्राप्त होते ही निर्धारित कंपनी से सामान की आपूर्ति हो जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी ने फाइल तलब करते हुए विभाग के प्रमुख सचिव से शीघ्र सामग्री की अनुमति देने के लिए अर्ध शासकीय पत्र भिजवाने तथा फोन पर भी अनुरोध करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कार्यदायी संस्था को निर्देश दिया कि जनरेटर, अग्निशमन, वेंटिलेटर का काम 15 मई तक पूरा कराएं। इसके साथ ही उन्होंने ऑक्सीजन उपलब्ध कराने वाली कंपनी के अधिकारियों को भी निर्देशित किया है कि साथ ही साथ ऑक्सीजन हेतु पाइप लाइन बिछाने का कार्य प्रारंभ करें ताकि समय से उसको भी पूरा किया जा सके।
निरीक्षण के दौरान प्राचार्य डॉ0 नवनीत कुमार, सीएमएस डॉ0 जीएम शुक्ला, अर्थ एवं संख्या अधिकारी टीपी गुप्ता, राजकीय निर्माण निगम के अभियंता तथा ऑक्सीजन पाइप लाइन का कार्य करने वाली संस्था के अधिकारी भी मौजूद रहे।