Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
समय से समस्याओं का निराकरण कर हम लोगो की कर सकते है वास्तविक सेवा: गोविंदराजू एन.एस. थाना समाधान दिवस पर डीएम,एसपी ने की जनसुनवाई नवागत मंडलायुक्त योगेश्वर राम मिश्र ने मण्डलायुक्त पद का ग्रहण किया कार्यभार सांसद ने किया खेल महाकुंभ तैयारियों का निरीक्षण हर मोड़ पर खरा उतर रहा है भारतीय संविधान-डा. वी.के. वर्मा बाबा साहब के बनाये संविधान को ध्वस्त करना चाहती है केन्द्र व प्रदेश सरकार: प्रेमशंकर द्विवेदी संविधान दिवस पर संगोष्ठी का आयोजन लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग

स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार तथा कार्यक्रमों में तेजी लाने के निर्देश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

जिलाधिकारी श्रीमती सौम्या अग्रवाल ने स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार लाने तथा कार्यक्रमों को तीव्र गति से संचालित करने का सभी प्रभारी चिकित्साधिकारियों को निर्देश दिया है। विकास भवन सभागार में आयोजित बैठक में उन्होने कहा कि कि प्रत्येक सप्ताह समीक्षा बैठक करें तथा पायी गयी कमियां को दूर करें। कोविड-19 में बेहतर कार्य करने के लिए उन्होने सभी को बधाई दिया।
उन्होने निर्देश दिया कि नियमित टीकाकरण के छूटे हुए सेशन पुनः आयोजित करके टीकाकरण का लक्ष्य पूरा किया जाय। सभी सेशन में ड्युलिस्ट प्रिन्टेड होनी चाहिए। उन्होने बस्ती अरबन तथा मरवटिया में विशेष ध्यान देने के लिए निर्देशित किया। उन्होने प्रत्येक सेशन का बेहतर सुपरविजन करने के लिए सुपरवाईजरों की तैनाती करने का भी निर्देश दिया।
उन्होने कहा कि कोविड का फर्स्ट डोज टीकाकरण जिले में बेहतर है तथा राज्य मानक के बराबर है परन्तु सेकेण्ड डोज में हम काफी पीछे है। इसको सुधार करने के लिए आशा और एएनएम को सक्रिय करें। यू0एन0डी0पी0 के हरेन्द्र मिश्र ने बताया कि कोवैक्सीन के 6559 लोग सेकेण्ड डोज के लिए पात्र है।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिया है कि बच्चों को कुपोषण के बचाने के लिए आगनबाड़ी कार्यकत्री एंव सहायिका को सक्रिय करें। पोषण पुनर्वास केन्द्र तथा तहसीलों में संचालित मिनी पोषण पुनर्वास केन्द्र में अतिकुपोषित बच्चों को नियमित रूप से भर्ती कराया जाय।
जिला गुणवत्ता समिति की बैठक करते हुए उन्होने निर्देश दिया कि नसबन्दी आपरेशन करने वाले डाक्टरों का पैनल तैयार करके कैम्प का रोस्टर जारी किया जाय। जिलाधिकारी ने कहा कि सीएचसी/पीएचसी के लेबर रूप में आवश्यक सामग्री जैसे-पीपीई किट, एप्रन, डिस्पोजेबल सिरीन्ज, मास्क, ग्लब्स, दवाए आदि समय से उपलब्ध न कराने की शिकायते प्राप्त हो रही है। इस संबंध में उन्होने सीएचसी/पीएचसी पर तैनात सभी फार्माशिस्ट को बैठक में चेतावनी दी है कि बाजार में इसे बेचने पर एफआईआर दर्ज करायी जायेंगी तथा संबंधित दुकान की लाइसेन्स निरस्त किया जायेंगा। उन्होने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियो द्वारा नियमित रूप से इसकी जॉच की जायेगी। इस लिए सुनिश्चित किया जाय कि सामानों उपलब्धता बनी रहे तथा लेबर रूप को आवंटित भी किया जाय।
समीक्षा में उन्होने पाया कि भानपुर, रूधौली, हर्रैया का लेबर रूप का रिनोबेशन का कार्य अभी तक पूरा नही किया गया है। उन्होने आरईडी के सहायक अभियन्ता को स्टीमेट के अनुसार कार्य पूरा कराने का निर्देश दिया है।
विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान एवं दस्तक अभियान की समीक्षा करते हुए उन्होने मात्र 20 प्रतिशत घरों का भ्रमण करने वाली आशाओं के साथ-साथ सॉउघाट, रूधौली, बहादुरपुर के सीडीपीओ का स्पष्टीकरण तलब करने तथा अग्रिम आदेशों तक बेतन रोकने का निर्देश दिया है। उन्होने विभागीय दायित्वों का निर्वहन न करने पर जिला कार्यक्रम अधिकारी का स्पष्टीकरण तलब करने तथा अग्रिम आदेशों तक बेतन रोकने का निर्देश दिया है।
उन्होने बनकटी सीएचसी में विभिन्न योजनाओं में फिसड्डी पाये जाने पर उन्होने प्रभारी चिकित्साधिकारी के साथ-साथ वहॉ के सभी स्टाफ का वेतन रोकने का निर्देश दिया है। इसी प्रकार गौर एंव सॉउघाट के प्रभारी चिकित्साधिकारी का स्पष्टीकरण तलब किया है। यूनिसेफ के आलोक राय ने बताया कि नियमित टीकाकरण कराने का 326 परिवार में विरोध किया है। अतः वहॉ के एमओआईसी इनका टीका लगवाने की व्यवस्था कराये।
सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति ने निर्देश दिया है कि 26 जुलाई से आयुष्मान भारत का गोल्डन कार्ड बनाने का अभियान संचालित होगा। सभी सीएचसी/पीएचसी में कार्ययोजना बनाकर अधिक से अधिक लोगों का गोल्डन कार्ड बनवाये। इस संबंध में उन्होने प्रभारी अधिकारी से प्रतिदिन रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है।
बैठक का संचालन एसीएमओ डॉ0 फखरेयार हुसैन ने किया। इसमें सीडीओ डॉ0 राजेश कुमार प्रजापति, एसआईसी डॉ0 आलोक कुमार, सीएमएस डॉ0 सुषमा सिन्हा, डॉ0 सीके वर्मा, डॉ0 एके कुशवाहॉ, जिला विकास अधिकारी अजीत श्रीवास्तव, प्रभारी चिकित्साधिकारीगण तथा फार्माशिस्टगण उपस्थित रहें।