Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
कुपोषण के साथ बीमारियों से भी बचाती है कीड़े मारने की दवा माध्यमिक शिक्षक संघ का वार्षिक सम्मेलन एवं विचार गोष्ठी सम्पन्न 7 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान 13 सेः भूमि पूजन में उमड़े श्रद्धालु पूंजीपती मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिये देश के आर्थिक ढांचे का सत्यानाश कर रहे हैं पीएम: प्रेमशंक... प्रभारी मंत्री राकेश सचान 08 फरवरी को बस्ती में मण्डल में स्थापित किए जायेंगे 31 एग्री जंक्शन निर्माण कार्य अपूर्ण पाये जाने से डीएम खफा: वेतन रोकने के निर्देश “बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं‘‘जन जागरूकता वाहन को डीएम ने दिखाई हरी झण्डी चित्रांश क्लब की ओर से ‘एक शाम शहीदों के नाम’’ कार्यक्रम आयोजित नहीं सुनी जा रही हैं पेन्शनर्स की समस्याः दिया आन्दोलन की चेतावनी

मण्डल दिवस पर सपा नेताओं ने प्रदर्शन कर राष्ट्रपति को भेजा ज्ञापन

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती। उ0प्र0।

मण्डल कमीशन की सिफारिशों को पूरी तरह से लागू करने की मांग

समाजवादी पार्टी पिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. राजपाल कश्यप के आवाहन पर शनिवार को जिलाध्यक्ष ज्ञान चन्द्र  चौधरी के नेतृत्व में पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं ने मण्डल दिवस पर शास्त्री चौक पर प्रदर्शन कर बी.पी. मण्डल आयोग की सिफारिशों को पूरी तरह से लागू करने की मांग किया। इसी क्रम में जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति को 7 सूत्रीय ज्ञापन भेजा गया।
ज्ञापन में मण्डल कमीशन की सभी सिफारिशों को पूरी तरह से लागू किये जाने, जातीय जनगणना कराये जाने, आबादी के अनुपात में हिस्सेदारी देने, आरक्षित वर्गो को बैकलाग भर्ती शुरू करके नौकरियां एवं  सुविधायें दिये जाने, नीट, मेडिकल की परीक्षा में अन्य पिछड़ा वर्ग के आरक्षण को रोके जाने पर जो लगभग 10 हजार का नुकसान हुआ है उसके क्षतिपूर्ति की व्यवस्था कराये जाने, निजी क्षेत्रों में भी मण्डल कमीशन की रिपोर्ट लागू कर आरक्षण का लाभ दिये जाने, लिटरल इण्ट्री बंद किये जाने आदि की मांग शामिल है।
जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी को ज्ञापन सौंपते हुये ज्ञान चन्द चौधरी ने कहा कि भाजपा की सरकार में संविधान की मूल भावना से खिलवाड़ किया जा रहा है। पिछड़े, दलित, आदिवासी, अल्पसंख्यक महिलाओं के साथ बर्बरतापूर्ण अन्याय, अत्याचार चरम पर है। तत्कालीन मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव ने मण्डल कमीशन की नौकरियों और शिक्षण संस्थाओं में 27 प्रतिशत आरक्षण लागू किया था, उस आरक्षण में भी भाजपा सरकार लगातार अनदेखी कर रही है। इसे बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। मांग किया कि पिछड़ों के हक और सम्मान की रक्षा हेतु दिशा निर्देश जारी किया जायेगा।
ज्ञापन सौंपने वालों मंे मुख्य रूप से अरविन्द सोनकर, अभिषेक कुमार,  मो. जावेद, अखिलेश यादव, प्रशान्त यादव, सुशील यादव, नवीन कुमार, अरविन्द चौधरी, नसीबुल्लाह, चन्द्र प्रकाश, रोहित यादव, गौरीशंकर, रामवृक्ष, देशराज पाल, अजय कुमार, राम सिंगार, दीपक कुमार आर्य, इन्द्रजीत यादव, कुलदीप सिंह, प्रशान्त  चौधरी, सन्तोष शर्मा, मनीष प्रजापति, पलकधारी, अशोक कुमार यादव, अजय सहाय, अखिलेश यादव, लकी, हरीश यादव, अखिलेश कुमार अक्की, राम अजोर, अवधेश कुमार, श्याम सुन्दर चौहान, यशवन्त यादव, अतुल    चौधरी, साजिद अली, जर्सी यादव, दिनेश यादव, पिन्टू के साथ ही पार्टी के अनेक पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामिल रहे।