Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लगातार चौथी बार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के सदस्य बने वरिष्ठ कांग्रेस नेता प्रेमशंकर द्विवेदी 08 अक्टबूर को लखनऊ जायेंगे कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता व पदाधिकारी पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु सपा समर्थको ने किया हवन जयंती पर आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को किया नमन् उपेक्षित प्रतिमा को विकसित करने की मांग   आचार्य रामचन्द्र शुक्ल को जयंती पर किया नमन गायत्री शक्तिपीठ पर महानवमी के दिन किया गया हवन, पूजन पुलिस अधीक्षक ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच किया बहादुरपुर पुलिस चौकी का उद्घाटन गैंगरेप का 1 आरोपी डाक्टर गिरफ्तार, दो अभी भी फरार सवारियां बिठा कर जा रही दो ट्रैक्टकर ट्राली समेत 3 वाहन सीज गृह राज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी को पद से बर्खास्त करने की मांग

मण्डलायुक्त ने प्रवर्तन कार्य में तेजी लाते हुये कर-करेत्तर का वार्षिक लक्ष्य पूरा करने का दिया निर्देश

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

मण्डलायुक्त गोविन्द राजू एन.एस. ने प्रवर्तन कार्य में तेजी लाते हुये कर-करेत्तर का वार्षिक लक्ष्य पूरा करने का निर्देश दिया है। मण्डलायुक्त सभागार में आयोजित मण्डलीय समीक्षा बैठक में उन्होंने कहा कि आगामी आने वाले समय में विधान सभा निर्वाचन होंगे इसलिये सभी विभागीय अधिकारी अपना लक्ष्य 31 दिसम्बर तक अवश्य पूरा करें। वाणिज्य कर की समीक्षा करते हुये उन्होंने प्रवर्तन कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि संत कबीर नगर में कर-करेत्तर की प्राप्ति कम है इसको बढ़ाया जाये।  उन्होंने कहा कि परिवहन विभाग में करों की प्राप्ति में मण्डल प्रदेश में प्रथम है फिर भी शत् प्रतिशत लक्ष्य पूरा किया जाये। 11 प्रतिशत का बैकलाग आने वाले समय मे पूरा किया जाये। इसके लिये अभी से माहवार रणनीति बना लें साथ ही वाहनों से बकाया की वसूली में तेजी लायें। नई गाड़ियों की बिक्री से प्राप्त होने वाले टैक्स एकमुश्त अवश्य जमा करायें।
उन्होंने विद्युत विभाग की प्राप्तियों की समीक्षा करते हुये एक अप्रैल 2018 के बाद से ग्राम पंचायतों मे स्कूल, पंचायत भवन, आंगनवाड़ी के बकाये बिलों का भुगतान प्राप्त करने के लिये अभियान चलायें। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में यही स्कूल बूंथ बनेंगे जहां बिजली की आवश्यकता होगी। उन्होंने नये ग्राम प्रधानों को इसके लिये प्रशिक्षित करने का निर्देश दिया, तांकि वे पंचायत निधि में प्राप्त धनराशि से बकाये बिजली बिल का भुगतान करें। उन्होंने इसके व्यापक प्रचार प्रसार पर भी जोर दिया। इसके लिये प्रतिमाह जिलाधिकारी की अध्यक्षता में समीक्षा कराने का निर्देश दिया।
समीक्षा में उन्होंने पाया कि विद्युत बकाये के लिए जारी आर.सी. पूरे मण्डल में 5352 के सापेक्ष 42.39 करोड़ बकाया है। उन्होंने निर्देश दिया कि इसकी वसूली के लिये अभियान चलाया जाये। मुख्य रूप से बड़े विभागों पुलिस, शिक्षा, स्वास्थ्य, पंचायत से अधिकाधिक राजस्व की प्राप्ति की जाये। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में वन टाइम सेटलमेंट योजना भी संभावित है। उन्होंने निर्देश दिया कि प्रत्येक विभाग प्रत्येक माह बिजली बिल का भुगतान सुनिश्चित करे। वर्ष के अंत में बिजली बिल भुगतान की प्रथा को समाप्त किया जाये।
मण्डी परिषद की प्राप्तियों की समीक्षा करते हुये उन्होंने पाया कि 5 जून 2020 से मण्डी शुल्क समाप्त कर दिया गया है केवल आलू, प्याज, लहसुन, अदरक से मात्र एक प्रतिशत शुल्क वसूला जायेगा साथ ही मण्डी से बाहर क्रय विक्रय पर कोई शुल्क नहीं लिया जायेगा।  उप निदेशक, मण्डी ज्योती यादव ने बताया कि केवल धान एवं गेंहू खरीद के लिये मण्डी मे स्थापित क्रय केन्द्रों से शुल्क लिया जाता है।
बैठक में मण्डलायुक्त ने स्टाम्प एवं रजिस्ट्रेशन, खनिज तत्व, वन, आबकारी आदि विभागों के प्राप्तियों की समीक्षा किया। बैठक का संचालन अपर आयुक्त, प्रशासन बृज किशोर ने किया। बैठक में उप महानिरीक्षक निवंधन आनन्द प्रकाश मिश्रा, डी.एफ.ओ. नवीन कुमार शाक्य, उपायुक्त आबकारी, सहायक आयुक्त शशि पाण्डेय, मण्डलीय खाद्य सुरक्षा अधिकारी सेराज अहमद, उप संचालक चकबंदी उमेश गिरि, अधीक्षण अभियन्ता विद्युत आर.बी. कटियार, मुख्य अभियन्ता विद्युत मनोज कुमार अग्रवाल एवं विभागीय अधिकारीगण उपस्थित रहे।