Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
सपा की बैठक में निकाय चुनाव पर चर्चाः जावेद पिण्डारी, समीर चौधरी निकाय चुनाव प्रभारी बने अनिश्चितकालीन पूर्ण कार्य बहिष्कार करने के दृष्टिगत सभी विद्युत उपकेन्द्रों पर जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रे... अवैध अतिक्रमण करने वाले व्यक्तियों को चिन्हित कर दर्ज कराएं एफआईआर: डीएम निकाय चुनाव के लिये ‘आप’ ने झोंकी ताकत, कार्यकर्ता सम्मेलन में बनी रणनीति जयन्ती पर याद किये गये प्रथम राष्ट्रपति डॉ. राजेन्द्र प्रसाद गोष्ठी के माध्यम से किसानों को दी गयी महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी दीदी चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा विश्व विकलांग दिवस पर पर दिव्यांगों को किया गया सम्मानित पत्नी के अपहरण की आशंका, पति ने लगाया न्याय की गुहार सिर्फ रक्त और यौन सम्पर्क से फैलता है एड्स, मरीजों से न करें भेदभाव विश्व एड्स दिवस: डीएम ने फीता काटकर किया हस्ताक्षर अभियान का शुभारंभ

सपा शिक्षक सभा की बैठक में शिक्षक हितों के लिये संघर्ष का निर्णय

कोरोना काल में निजी शिक्षको की हालत सर्वाधिक दयनीय-डा. फूलदेव यादव

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

समाजवादी पार्टी शिक्षक सभा की बैठक रविवार को जिलाध्यक्ष डा. फूलदेव यादव की अध्यक्षता में पुराना डाकखाना स्थित शिविर कार्यालय पर सम्पन्न हुई। बैठक में शिक्षकों की समस्याओं पर विन्दुवार विचार कर संघर्ष का निर्णय लिया गया।
बैठक को सम्बोधित करते हुये डा. फूलदेव यादव ने कहा कि कोरोना काल में निजी विद्यालय के शिक्षकों को जहां घोर आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा वहीं अशासकीय सहायता प्राप्त विद्यालयों में कार्यरत स्ववित्त पोषित शिक्षकों का विनियमितीकरण अधर में है। शिक्षा मित्रों  को सपा की सरकार में सहायक अध्यापक बनाया गया था किन्तु भाजपा की सरकार बनते ही वे पुनः शिक्षा मित्र बन गये और अनेक शिक्षा मित्रों ने तो अपने प्राण गंवा दिये किन्तु सरकार संवेदनहीन बनी रही। लगातार आन्दोलन के बावजूद पुरानी पेंशन नीति को बहाल नहीं किया जा रहा है। कहा कि ऐसे अनेक सवालों को लेकर शिक्षक सभा आन्दोलन तेज करेगी।
शिक्षक सभा के महासचिव डॉ. सुरेन्द्र प्रसाद चौधरी ने बैठक में बताया कि आगामी  22 सितम्बर को शिक्षक सभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रो. बी. पाण्डेय बस्ती आ रहे हैं, वे समाजवादी पार्टी कार्यालय पर शिक्षक सभा से जुड़े शिक्षकों को सम्बोधित करेंगेे। उन्हें बस्ती के शिक्षकों की समस्याओं से अवगत कराया जायेगा।
बैठक में मुख्य रूप से सुभाष चन्द्र चौधरी, शंकर प्रसाद यादव, रामचन्दर यादव, इरशाद अहमद, श्रीनाथ विश्वकर्मा, चक्रधर मौर्य, धु्रव नारायण, जावेद अहमद, अरूण कुमार मिश्र, विजय कुमार आदि शामिल रहे।