Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
कुपोषण के साथ बीमारियों से भी बचाती है कीड़े मारने की दवा माध्यमिक शिक्षक संघ का वार्षिक सम्मेलन एवं विचार गोष्ठी सम्पन्न 7 दिवसीय धार्मिक अनुष्ठान 13 सेः भूमि पूजन में उमड़े श्रद्धालु पूंजीपती मित्रों को फायदा पहुंचाने के लिये देश के आर्थिक ढांचे का सत्यानाश कर रहे हैं पीएम: प्रेमशंक... प्रभारी मंत्री राकेश सचान 08 फरवरी को बस्ती में मण्डल में स्थापित किए जायेंगे 31 एग्री जंक्शन निर्माण कार्य अपूर्ण पाये जाने से डीएम खफा: वेतन रोकने के निर्देश “बेटी बचाओं बेटी पढ़ाओं‘‘जन जागरूकता वाहन को डीएम ने दिखाई हरी झण्डी चित्रांश क्लब की ओर से ‘एक शाम शहीदों के नाम’’ कार्यक्रम आयोजित नहीं सुनी जा रही हैं पेन्शनर्स की समस्याः दिया आन्दोलन की चेतावनी

लखीमपुर की घटना पर भड़के समाजवादी, धरना प्रदर्शन कर सौंपा ज्ञापन

कबीर बस्ती न्यूज,बस्ती।उ0प्र0।

लखीमपुर में किसानों की हत्या मामले को लेकर समाजवादी पार्टी नेताओं, कार्यकर्ताओं ने सोमवार को पार्टी उपाध्यक्ष  जावेद पिण्डारी के नेतृत्व में   जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना देते हुये विरोध प्रदर्शन किया। जिलाधिकारी के  माध्यम से राज्यपाल को ज्ञापन भेजकर सपा नेताओं ने प्रत्येक मृतक किसानों के परिजनों को दो- दो करोड़ रूपये का सरकारी मुआवजा एवं एक-एक सदस्य को सरकारी नौकरी दिलाये जाने, दोषियोें की गिरफ्तारी और मामले के उच्च स्तरीय जांच की मांग किया।
ज्ञापन देते हुये उपाध्यक्ष जावेद पिण्डारी ने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को गिरफ्तार कर लखीमपुर जाने से रोका जाना लोकतंत्र के लिये दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होने मांग किया कि किसानों की मांगे पूरी की जाय और तीन काले कृषि कानूनों को केन्द्र की सरकार तत्काल प्रभाव से वापस ले।
राज्यपाल को ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से पूर्व विधायक दूधराम, मो. जमील अहमद, समीर चौधरी, सिद्धेश सिन्हा, अरविन्द सोनकर, अतुल चौधरी कविन्द्र, विजय विक्रम आर्य, हाफिज इलियास, प्रमोद यादव, कक्कू शुक्ल, वृजेश मिश्र, अभिषेक उपाध्याय, मो0 जावेद, मो. सईद, रामवृक्ष यादव, रन बहादुर यादव, रविन्द्र यादव, अंकित शुक्ल, चन्दन कन्नौजिया, श्याममणि यादव, मो. समीर, एजाज अहमद, शफीक अंसारी, जर्सी यादव, सद्दाम, साजिद अली, अयाज अहमद, मो. सलीम,  युगुल किशोर चौधरी, रवि गुप्ता, तूफानी यादव, रहमान सिद्दीकी,  जहीर अंसारी, इन्द्रावती शुक्ल, राम प्रकाश चौधरी,  शिव मोहन यादव, प्रशान्त यादव, रजनीश यादव, संतराम यादव, आमिश खान, राजेन्द्र चौरसिया, मुरली पाण्डेय, दिनेश यादव, अब्दुल मोईन, साजिद अली, भोला पाण्डेय के साथ ही सपा के अनेक पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामिल रहे।