Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
पंचकुण्डीय श्री रुद्र महायज्ञ एवं श्रीमद्भागवत कथा आयोजन को लेकर बैठक विद्यालय को विद्युत कनेक्शन दिलाने के नाम पर रिश्वत लेने का आरोप ज्येष्ठ मास के द्वितीय बड़े मंगलवार को भण्डारे में उमड़ी आस्था रोडवेज की भूमि पर अवैध दावा करने वालो पर की जायेंगी भूमाफिया एक्ट एवं गुण्डा एक्ट की कार्यवाही बस्ती-मेंहदावल हेतु निजी बस संचालको द्वारा स्वसंचालित बस स्टैण्ड तत्काल प्रभाव से कराया गया बन्द 375 ट्रक चालकों में निःशुल्क चश्मा वितरित, 400 की हुई जांच मिल की सम्पत्ति बेचकर किया जायेंगा किसानों के गन्ना मूल्य का भुगतान: जिलाधिकारी 12 से 14 वर्ष आयु के बच्चों का कोविड टीकाकरण कराने के निर्देश ई. राकेश मण्डल अध्यक्ष, राजकुमार मण्डल सचिव बने सरोजिनी नगर से भाजपा विधायक डा. राजेश्वर सिंह की माता श्रीमती तारा सिंह का निधन

73 सालों में पहली बार होगी किसी महिला की फांसी

नई दिल्लीः दिल्ली के निर्भया कांड के चार दोषियों को फांसी पर लटकाने वाला जल्लाद पवन अब अमरोहा की शबनम को फांसी देगा। शबनम ने 2008 में अपने प्रेमी की मदद से घर के सात लोगों को कुल्हाड़ी से काटकर मौत के घाट उतार दिया था। शबनम की फांसी का फैसला हो चुका है लेकि तारीख मुकर्रर नही है। आजादी के 73 सालों में पहली बार ऐसा होना जा रहा है जब किसी महिला को फांसी पर लटकाया जायेगां।

फांसीघर को लेकर मेरठ के पवन जल्लाद ने बताया कि वह बेहद जीर्ण और शीर्ण हालत में था. जिस तख्ते पर खड़ा करके दोषी को फांसी दी जाती है वह भी टूटा हुआ था. पवन के अनुसार उसे अब बदलवा दिया गया है। वहीं उन्होनें कहा कि लीवर की खिंचाई भी ठीक से नहीं हो रही थी तो तेल लगवाकर लीवर को अब नरम कर दिया गया है. पवन जल्लाद का कहना है कि मथुरा जेल का फांसीघर पूरी तरह से तैयार हो गया है। मथुरा जेल को लेकर खास बात यह है कि पहली बार यहां किसी महिला को फांसी दी जाएगी. मथुरा में स्थित इस महिला फांसीघर को करीब 150 साल पहले स्थापित किया गया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.