Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
प्रदेश मे चली धूल भरी आंधी जबरदस्त बारिश निगल गयी 25 लोगों की जान, कई घायल स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं की बातों का करें सम्मान- सीएमओ सामन्यतया खान पान और अनियंत्रित दिनचर्या पथरी का कारण: डा. वी.के. वर्मा कार्यशाला में माइक्रोप्‍लान, कम्‍युनिकेशन प्‍लान तथा वैक्‍सीन के रखरखाव के बारे में दी गयी जानकारी सफाई कर्मचारी संघ पदाधिकारियों को दिलाया शपथ कवि सम्मेलन मुशायरे में सम्मानित हुई विभूतियां आज़म खान की जेल से रिहाई से समर्थकों ने किया खुशी का इजहार सफाई कर्मियों की बैठक में उठे मुद्दे, 8 सूत्रीय मांगों पर चर्चा बस्ती उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल की बैठक में सम्बन्धित विषयों पर चर्चा सीएम ने विधायकों को चेताया, कहा ठेका पट्टा, ट्रांसफर व पोस्टिंग से दूर रहें विधायक

मास्क नही लगा रहे हैं लोग, फिर लग सकता है लाकडाउन

नेशनल डेस्कः कोरोना वायरस के संक्रमण से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र में एक बार फिर संकट दिखने लगा है। यहां लोग जरूरी एहतियात नही बरत रहे हैं। अब रोजाना तीन हजार से ज्‍यादा मामले सामने आ रहे हैं. मुंबई के आंकड़े भी डराने वाले हैं. इस बीच, मुंबई की मेयर किशोरी पेडनेकर ने कहा कि अगर लोग दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करेंगे तो मजबूरी में लॉकडाउन लगाना पड़ेगा।

उन्होने कहा कि महाराष्‍ट्र और मुंबई में कोरोना के बढ़ते मामलों ने चिंता बढ़ा दी है. ट्रेनों में यात्रा करते समय ज्‍यादातर लोग मास्‍क नहीं लगा रहे हैं. लोकल ट्रेनों में इतनी भीड़ होने के बावजूद लोग मास्‍क का उपयोग नहीं कर रहे हैं. लोगों को अभी कोरोना के नियमों का पालन करना चाहिए. लोग नियमों का पालन नहीं करेंगे तो हम एक और लॉकडाउन की तरफ आगे बढ़ेंगे. लॉकडाउन को फिर से लागू किया जाए या नहीं यह लोगों के हाथ में है। पिछले कुछ समय से महाराष्‍ट्र में कोरोना के नए मामलों की संख्‍या काफी कम हो गई थी. महाराष्ट्र में रविवार को 4,092 नए मामले सामने आए थे. संक्रमण के मामलों में जारी वृद्धि के बीच राज्य सरकार ने ’’सख्त निर्णय’’ लिए जाने को लेकर आगाह किया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.