Logo
ब्रेकिंग न्यूज़
लंदन की डिग्री, गोल्ड मेडल से सम्मानित हुये डा. वी.के. वर्मा वंचित छात्रों को शुल्क प्रतिपूर्ति, छात्रवृत्ति दिलाने की मांग को लेकर पद यात्रा निकालेगी मेधा सफाई कर्मचारी संघ: डीपीआरओ को सौंपा 12 सूत्रीय ज्ञापन, समस्याओं के निस्तारण की मांग पीएम आयुष्मान योजना: पहले से बना था कार्ड, मिला आयुष्मान का वरदान आदर्श पौधशाला तथा राजकीय सार्वजनिक उद्यान चंगेरवा का डीएम ने किया निरीक्षण डीएम के निर्देश पर रूधौली तहसील मे चला बृहद अवैध अतिक्रमण हटाओ अभियान डीएम ने दिया वाल्टरगंज चीनी मिल के कर्मचारियों का वेतन दिलाने का आश्वासन बीआरसी में तीन दिवसीय टीएलएम निर्माण कार्यशाला शुरू संविदा कर्मियों से परिषदीय शिक्षकों, शिक्षा मित्रों, अनुदेशकों की जांच का मामला गरमाया गांव – गांव में परिवार नियोजन की अलख जगा रहा है सारथी वाहन

कांग्रेस अध्यक्ष पर बनेे रहेंगे अंकुर वर्मा, प्रदेश अध्यक्ष ने अस्वीकार किया त्याग पत्र

कबीर बस्ती ब्यूरो.बस्ती। कांग्रेस जिलाध्यक्ष अंकुर वर्मा द्वारा दिये गये त्याग पत्र को प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने अस्वीकार कर दिया है। ज्ञात रहे कि गत 21 मई को अपरिहार्य कारणोें से अंकुर वर्मा ने अध्यक्ष पद से त्याग पत्र दे दिया था।
प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने त्याग पत्र को अस्वीकार करते हुये अंकुर वर्मा को भेजे पत्र में कहा है कि वे पूर्व की भांति संगठनात्मक कार्यों का निर्वहन करते रहेंगे।
कांग्रेस जिलाध्यक्ष अंकुर वर्मा ने कहा कि अपरिहार्य कारणों से विषम परिस्थितियों में उन्होने   अध्यक्ष पद से त्याग पत्र दिया था किन्तु पार्टी के प्रति उनकी निष्ठा और समर्पण को देखते हुये जिस प्रकार से उनके त्याग पत्र को अस्वीकार किया गया है उससे हौसला बढा है। वे पार्टी नेतृत्व के निर्देश के अनुरूप और अधिक सक्रियता के साथ जिलाध्यक्ष के रूप में दायित्वों का निर्वहन करते हुये संगठन को मजबूती देंगे जिससे आगामी 2022 विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस प्रदेश में सरकार बनाने के संकल्प के साथ चुनाव मैंदान में उतरे।
ज्ञात रहे कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष अंकुर वर्मा इसके पूर्व युवा कांग्रेस अध्यक्ष, युवा कांग्रेस के प्रदेश महासचिव, राष्ट्रीय सचिव के साथ ही कर्नाटक, मध्य प्रदेश एवं उत्तरखण्ड में चुनाव एवं संगठन प्रभारी के रूप में अपने दायित्वोें का निर्वहन कर चुके हैं और पिछले 18 वर्षो से कांग्रेस में विभिन्न पदों पर सक्रिय रहे हैं। वे 2006 में महरीखांवा सिविल लाइन्स से सभासद भी चुने गये थे।
कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू द्वारा अंकुर वर्मा के त्याग पत्र को अस्वीकार किये जाने पर पार्टी के अनेक नेताओं, कार्यकर्ताओं ने प्रसन्नता व्यक्त किया है।